महिला अपराध को लेकर CM योगी सख्त, सार्वजनिक स्थलों पर लगेंगे शोहदों के पोस्टर

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)

अब मनचलों, शोहदों और आदतन दुराचारियों के पोस्टर पूरे शहर में लगेंगे. दरअसल इसके पीछे की मंशा ऐसे अपराधियों को समाज के सामने लाकर उन्हें शर्मिंदा करने की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 24, 2020, 1:22 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में बढ़ते महिला अपराध (Crime Against Women) को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने सख्त नाराजगी जताई है. मुख्यमंत्री ने अधिकारीयों को निर्देश दिया है कि सरेराह छेड़खानी करने वाले शोहदों और आदतन दुराचारी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाये. साथ ही सीएम योगी ने बड़ा फैसला लेते हुए ऐसे अपराधियों के पोस्टर सार्वजानिक सथलों पर लगाने के निर्देश दिए हैं.

मुख्यमंत्री के इस निर्देश के बाद अब नागरिक संशोधन कानून के विरोध में प्रदर्शन के दौरान हिंसा करने वाले उपद्रवियों के पोस्टर लगाए जाने की तरह है अब मनचलों, शोहदों और आदतन दुराचारियों के पोस्टर पूरे शहर में लगेंगे. दरअसल इसके पीछे की मंशा ऐसे अपराधियों को समाज के सामने लाकर उन्हें शर्मिंदा करने की है.

महिला पुलिसकर्मियों को मिला 'मिशन दुराचारी' का जिम्मा



मिशन दुराचारी के तहत होने वाले इस एक्शन का जिम्मा महिला पुलिस कर्मियों को दिया गया है. महिला पुलिसकर्मी चौक चौराहों पर ऐसे शोहदों और मनचलों की पहचान कर उनके पोस्टर को सार्वजनकि स्थलों पर चस्पा करेंगी.
लखनऊ में चला ऑपरेशन शक्ति

उधर राजधानी लखनऊ में महिला अपराधों के खिलाफ 'ऑपरेशन शक्ति' चलाया गया. आईजी लखनऊ रेंज लक्ष्मी सिंह के निर्देश पर उन्नाव, हरदोई, सीतापुर, लखीमपुर, रायबरेली, लखनऊ ग्रामीण में यह अभियान चलाया गया. इसके तहत कानूनी और सामाजिक दबाव के साथ ही सतर्कता और जागरूकता फैलाने का काम किया गया. अब तक एक महीने में 2200 आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई हुई. 822 पर एफआईआर, 699 को पाबंद और 770 को नोटिस दिया गया. कार्रवाई में मुकदमा, पाबंदी, शांतिभंग में चालान भी शामिल। है. दरअसल, लगातार आ रही छेड़छाड़ की ख़बरों के बाद यह कार्रवाई की गई, इसके तहत 600 परिवारों को भी पाबंद किया गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज