Home /News /uttar-pradesh /

CM योगी का अखिलेश यादव पर पलटवार, बोले- पटेल की तुलना जिन्ना से करना शर्मनाक, मांगनी चाहिए माफी

CM योगी का अखिलेश यादव पर पलटवार, बोले- पटेल की तुलना जिन्ना से करना शर्मनाक, मांगनी चाहिए माफी

सीएम योगी ने कहा कि ये तालिबानी मानसिकता है. (File photo)

सीएम योगी ने कहा कि ये तालिबानी मानसिकता है. (File photo)

UP Election: इससे पहले रविवार को हरदोई में विजय रथ लेकर पहुंचे समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि सरदार पटेल, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और जिन्ना एक ही संस्था में पढ़ कर बैरिस्टर बन कर आए थे. एक ही जगह पर पढ़ाई लिखाई की. वह बैरिस्टर बने और उन्होंने आजादी दिलाई. अगर उन्हें किसी भी तरह का संघर्ष करना पड़ा होगा तो वह पीछे नहीं हटे. एक विचारधारा जिसने पाबंदी लगाई. अगर किसी ने पाबंदी लगाई थी लौह पुरुष सरदार पटेल ने पाबंदी लगाने का काम किया था.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने सोमवार को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) पर पलटवार किया है. सीएम योगी ने कहा कि जिन्ना से पटेल की तुलना शर्मनाक है. अखिलेश को जनता से माफी मांगनी चाहिए. उन्होंने कहा कि विभाजनकारी मानसिकता जनता स्वीकार नहीं करेगी. सीएम योगी ने कहा कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष का बयान अत्यंत शर्मनाक है. सरदार वल्लभ भाई पटेल भारत की एकता और अखंडता के शिल्पी हैं. कल सपा प्रमुख की विभाजनकारी मानसिकता सामने आ गई. जब उन्होंने जिन्ना को समकक्ष रख के सरदार वल्लभ भाई पटेल की तुलना की.

सीएम योगी ने कहा कि ये तालिबानी मानसिकता है. हर वक्त तोड़ने का प्रयास करती है. पहले जाति और अन्य वादों के नाम पर तोड़ने की प्रवृत्ति, जब वो अपने मंसूबों पर सफल नहीं हो रहे हैं, तो महापुरुषों पर लांछन लगा कर पूरे के पूरे समाज को अपमानित करने का प्रयास कर रहे हैं. सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के बयान की पूरे समाज को निंदा करनी चाहिए. उन्होंने कहा कि सपा प्रमुख को अपने इस कृत्य के लिए माफी मांगनी चाहिए. सरदार वल्लभ भाई पटेल के इस अपमान को देश कभी स्वीकार नहीं कर सकता.

इससे पहले रविवार को हरदोई में विजय रथ लेकर पहुंचे समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि सरदार पटेल, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और जिन्ना एक ही संस्था में पढ़ कर बैरिस्टर बन कर आए थे. एक ही जगह पर पढ़ाई लिखाई की. वह बैरिस्टर बने और उन्होंने आजादी दिलाई. अगर उन्हें किसी भी तरह का संघर्ष करना पड़ा होगा तो वह पीछे नहीं हटे. एक विचारधारा जिसने पाबंदी लगाई. अगर किसी ने पाबंदी लगाई थी लौह पुरुष सरदार पटेल ने पाबंदी लगाने का काम किया था. आज जो देश की बात कर रहे हैं वह हमें और आपको जाति और धर्म में बांटने की बात कर रहे हैं. अगर हम जाति और धर्म में बंट जाएंगे तो हमारे देश क्या होगा. दुनिया में हमारे देश की सबसे बड़ी पहचान यही है.

Tags: Akhilesh yadav, BJP, CM Yogi, CM Yogi Aditya Nath, Lucknow news, Samajwadi party, UP Election 2022, UP politics

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर