लखनऊ: मेदांता अस्पताल पहुंचकर CM योगी ने जाना महंत नृत्य गोपाल दास का हालचाल

मेदांता अस्पताल पहुंचकर CM योगी ने जाना महंत नृत्य गोपाल दास का हालचाल
मेदांता अस्पताल पहुंचकर CM योगी ने जाना महंत नृत्य गोपाल दास का हालचाल

नृत्य गोपाल दास (mahant nritya gopal das) का जन्म बरसाना मथुरा के कहोला गांव में 1938 में हुआ है. महज 12 वर्ष की उम्र में ही उन्होंने संन्यास ले लिया था और मथुरा से अयोध्या आ गए थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 10, 2020, 8:39 PM IST
  • Share this:
लखनऊ.  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास (mahant nritya gopal das) का हालचाल जानने मेदांता अस्पताल पहुंचे. उन्होंने यहां आइसीयू में भर्ती महंत नृत्य गोपाल दास से मुलाकात कर उनका कुशल क्षेम जाना. महंत नृत्य गोपाल दास की बीते सोमवार को अचानक तबीयत बिगड़ गई थी. उन्होंने सीने में दर्द होने की भी शिकायत की थी. आपको बता दें कि अभी कुछ दिन पहले ही महंत नृत्य गोपाल दास अगस्त के महीने में कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए थे, तब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नृत्यगोपाल दास को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती करवाया था.

जानें महंत नृत्य गोपाल दास
छोटी छावनी के हैं महंत नृत्यगोपाल दास उनके शिष्य देश और दुनिया में फैले हुए हैं. वो सिर्फ राम जन्म भूमि न्यास के ही अध्यक्ष नहीं, बल्कि कृष्ण जन्म भूमि न्यास के भी अध्यक्ष हैं. इसी नाते वो मथुरा में कृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर वहां शिरकत करते रहे हैं. आपको बता दें कि जब राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को लेकर शुरू में साधु-संतों में असंतोष था. लेकिन बाद में इस ट्रस्ट में इसके अध्यक्ष के तौर पर महंत नृत्य गोपाल दास को लाया गया और उसके बाद साधु-संत संतुष्ट हो पाए थे.


बाबरी विध्वंस के आरोप से हुए बरी



नृत्य गोपाल दास का जन्म बरसाना मथुरा के कहोला गांव में 1938 में हुआ है. महज 12 वर्ष की उम्र में ही उन्होंने संन्यास ले लिया था और मथुरा से अयोध्या आ गए थे. अयोध्या आने के बाद वो काशी चले गए. काशी जाने का मकसद संस्कृत की पढ़ाई करना था. 1953 में वह अयोध्या लौटे और मणिराम दास छावनी में रुके. उन्होंने राम मनोहर दास से दीक्षा ली थी. नृत्यगोपाल दास पर बाबरी विध्वंस में शामिल रहने का आरोप था. हालांकि सीबीआई कोर्ट ने उन्हें बरी कर दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज