बड़ी खबरः मंत्रीमंडल विस्तार की चर्चा के बीच CM योगी ने राज्यपाल आनंदीबेन से की मुलाकात

राज्यपाल से मुलाकात के दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने उन्हें पुस्तक भेंट की.

राज्यपाल से मुलाकात के दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने उन्हें पुस्तक भेंट की.

CM योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल के बीच करीब 35 मिनट तक चली बैठक, सीएम ने इस दौरान Corona से लड़ने के लिए सरकार की ओर से किए गए कार्यों की जानकारी दी.

  • Share this:

लखनऊ. कोरोना महामारी के प्रकोप के बीच उत्तर प्रदेश में राजनीतिक उठापटक की सुगबुगाहट जोरों पर है. इसी बीच राज्यपाल आनंदीबेन पटेल मध्य प्रदेश का अपना दौरा रद्द कर गुरुवार को दिन में लखनऊ पहुंची और शाम को ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने उनसे मुलाकात की. सीएम और राज्यपाल की इस मुलाकाता को मंत्रीमंडल के विस्तार को लेकर अहम माना जा रहा है. इस मुलाकात के दौरान क्या बातचीत हुई हालांकि अभी इसकी पूरी जानकारी नहीं है. सीएम योगी ने गवर्नर आनंदी बेन को श्री विष्‍णु और उनके अवतार नामक एक पुस्तक भी भेंट की

सीएम ने इस दौरान राज्यपाल को कोरोना महामारी से लड़ने के लिए सरकार की ओर से किए जा रहे कार्यों का ब्योरा भी दिया. राजभवन से मिली जानकारी के अनुसार ये मुलाकात करीब 35 मिनट तक चली. कोरोना को लेकर दिए गए ब्योरे के अनुसार सीएम योगी ने अभी तक 18 मंडलों का दौरा किया है और सभी स्थितियां संतोषजनक हैं.

मध्यप्रदेश का दौरा किया निरस्त

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश के दौरे के कार्यक्रम निरस्त करके राज्यपाल आनंदी बेन लखनऊ पहुंची थी. लखनऊ पहुंचते ही उन्होंने अधिकारियों के साथ बैठक की. कयास लगाए जा रहे हैं कि यूपी सरकार के दूसरे मंत्रिमंडल विस्तार की तैयारियां शुरू हो गई हैं. चर्चा है कि पूर्व आईएएस एके शर्मा को डिप्टी सीएम बनाया जा सकता है. वहीं, केशव प्रसाद मौर्य को उत्तर प्रदेश भाजपा की कमान सौंपते हुए ओबीसी चेहरे के साथ भाजपा अगले चुनाव में जा सकती है.
अब तक क्या...

- 19 मार्च 2017 को सरकार गठन के बाद 22 अगस्त 2019 को उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने मंत्रिमंडल विस्तार किया था. उस दौरान उनके मंत्रिमंडल में 56 सदस्य थे.

- कोरोना के चलते तीन मंत्रियों का निधन हो चुका है. हाल ही में राज्यमंत्री विजय कुमार कश्यप की मौत हुई थी, जबकि पहली लहर में मंत्री चेतन चौहान और मंत्री कमला रानी वरुण का निधन हो गया था.



- नियम के मुताबिक यूपी में कैबिनेट मंत्रियों की अधिकतम संख्या 60 तक हो सकती है. पहले मंत्रिमंडल विस्तार में 6 स्वतंत्र प्रभार मंत्रियों को कैबिनेट की शपथ दिलाई गई थी. 3 नए चेहरों के साथ राज्यमंत्री को मिलाकर 6 स्वतंत्र प्रभार मंत्रियों को शपथ दिलाई गई थी और 11 विधायक को राज्य मंत्रियों को उत्तर प्रदेश सरकार में जगह दी गई थी.

- मौजूदा समय में योगी सरकार के मंत्रिमंडल में 23 कैबिनेट मंत्री, 9 स्वतंत्र प्रभार मंत्री और 22 राज्यमंत्री हैं. इस तरह से यूपी सरकार में फिलहाल कुल 54 मंत्री हैं, जिसके लिहाज से 6 मंत्री पद अभी भी खाली है. जिन्हें नियमत बढ़ाया जा सकता हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज