• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • Electricity Crisis: सीएम योगी ने दिए निर्देश, कहा- गांव हो या शहर, रात में नहीं कटेगी बिजली

Electricity Crisis: सीएम योगी ने दिए निर्देश, कहा- गांव हो या शहर, रात में नहीं कटेगी बिजली

UP: सीएम ने ओवरबिलिंग, फेक बिलिंग पर भी सख्त रुख अपनाया है. (File photo)

UP: सीएम ने ओवरबिलिंग, फेक बिलिंग पर भी सख्त रुख अपनाया है. (File photo)

UP News: सीएम योगी ने विजिलेंस की टीम को भी निर्देश दिया है कि विजिलेंस अधिकारी अनावश्यक रूप से किसी भी उपभोगता को परेशान न करें.

  • Share this:

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में कोयले (Coals) की कमी से पैदा हुआ बिजली संकट (Electricity Crisis) बढ़ता ही जा रहा है. इसी कड़ी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने राज्य में कोयले की किल्लत की आशंकाओं के बीच बिजली विभाग की बैठक की है. सीएम योगी ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा है कि गांव हो या शहर राज्य में रात में बिजली नहीं कटेगी. उन्होंने कहा कि अगर जरूरत है बिजली विभाग अतिरिक्त बिजली खरीदें. सीएम ने ओवरबिलिंग, फेक बिलिंग पर भी सख्त रुख अपनाया है. उन्होंने कहा कि ऐसा करने वाले एजेंसियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जानी चाहिए.

सीएम योगी ने विजिलेंस की टीम को भी निर्देश दिया है कि विजिलेंस अधिकारी अनावश्यक रूप से किसी भी उपभोगता को परेशान न करें. बिजली मीटर की समस्या पर बोलते हुए निर्देश दिया है कि वैसे मीटर जिससे गलत रीडिंग आ रही है, ऐसे मीटर बनाने वाली एजेंसी को करें ब्लैक लिस्ट किया जाए. बता दें कि उत्तर प्रदेश राज्‍य विद्युत निगम की सबसे बड़ी अनपरा परियोजना में कोयले का स्‍टॉक प्रतिदिन 10 हजार टन कम हो रहा है. कोयले की आपूर्ति जल्द ही सामान्य न हुई तो पूरा प्रदेश बिजली संकट की चपेट में आ सकता है. स्थिति को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व केंद्रीय कोयला मंत्री को पत्र भेजकर यूपी को अतिरिक्त बिजली उपलब्ध कराने और कोयले की आपूर्ति सामान्य कराने का अनुरोध किया है.

ग्रामीण इलाकों से लेकर शहरों तक में जबरदस्त बिजली कटौती हो रही है, जिसके कारण उपभोक्ता प्रदर्शन कर रहे है. हरदुआगंज व पारीछा में कोयले का स्टॉक लगभग समाप्त हो गया है. जबकि अनपरा में दो और ओबरा में ढाई दिन का कोयला शेष बचा है.

कोयले का स्टॉक व रोजाना की जरूरत
बिजली घर स्टॉक जरूरत
हरदुआगंज 4022 8000
पारीछा 9682 15000
अनपरा 86426 40000
ओबरा 42433 16000
(आंकड़े मीट्रिक टन में, अनपरा से मिली जानकारी के अनुसार, इकाइयों को कम क्षमता पर चलाने की वजह से परिचालन में कोयले और ईंधन की खपत बढ़ गई है. इससे परियोजनाओं पर दोहरी मार पड़ रही है.)

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज