Assembly Banner 2021

UP News: होली से पहले सरकारी कर्मचारियों को सीएम योगी का बड़ा तोहफा, वेतन भुगतान का दिया आदेश

होली से पहले सरकारी कर्मचारियों को सीएम योगी का बड़ा तोहफा (File photo)

होली से पहले सरकारी कर्मचारियों को सीएम योगी का बड़ा तोहफा (File photo)

UP News: जल निगम के कर्मचारियों ने वेतन का भुगतान न होने की शिकायत सीएम योगी से की थी. जिससे मुख्यमंत्री कार्यालय (CM Office) ने संज्ञान लिया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 26, 2021, 2:00 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश में योगी सरकार (Yogi Government) ने शुक्रवार को सरकारी कर्मचारियों को होली (Holi) का तोहफा दिया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी विभागों को हर हाल में होली से पूर्व कर्मचारियों का वेतन भुगतान करने का निर्देश जारी किया है. उधर, सीएम ने जल निगम कर्मचारियों को होली पूर्व तीन महीने का वेतन भुगतान करने का आदेश दिए हैं. इससे पहले जल निगम के कर्मचारियों ने वेतन का भुगतान ना होने की शिकायत सीएम योगी से की थी, जिससे मुख्यमंत्री कार्यालय ने संज्ञान लिया था.

इससे पहले मेरठ में जल दिवस के मौके पर उत्तर प्रदेश जल निगम संघर्ष समिति के आह्वान पर जल निगम के कर्मचारियों, अभियंताओं ने कार्यालय परिसर में धरना देकर वेतन, पेंशन की मांग की थी. कर्मचारियों, अभियंताओं ने कहा कि पांच महीने से वेतन, पेंशन के लिए वह मोहताज हो गए हैं. बच्चों की पढ़ाई पर संकट है. स्कूलों ने रिजल्ट रोक दिया है. धरना, प्रदर्शन के बाद संघर्ष समिति के जिला संयोजक की ओर से मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देकर शीघ्र वेतन, पेंशन ट्रेजरी से दिलाने की मांग की गई थी. साथ ही चेतावनी दी गई कि यदि शीघ्र फैसला नहीं किया गया तो उग्र आंदोलन के लिए बाध्य होंगे.

UP Panchayat Chunav 2021: तारीखों के ऐलान के बाद आचार संहिता लागू, जानिए क्या-क्या हुआ बैन?



समिति के पदाधिकारियों का कहना है कि पांच माह से वेतन नहीं दिया गया है. लखनऊ मुख्यालय पर भी मांग उठाई जा चुकी है. रिटायर्ड कर्मचारियों को पेंशन भी नहीं मिल रही है. जल निगम के अधिशाषी अभियंता मुकेश पाल का कहना है कि वेतन और पेंशन न मिलने से कर्मचारियों को परिवार चलाना मुश्किल हो रहा है. उनका कहना है कि कई बुज़ुर्ग पेंशनर्स भी धरने पर बैठ रहे हैं. ये पेंशनर्स भी जीवन यापन करने के लिए परेशान है. कर्मचारियों का कहना है कि वो सरकारी कार्य में बाधा नहीं पहुंचा रहे हैं. बल्कि अपने लंच टाइम में ही क्रमिक अंशन कर रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज