जानें किस तरह योगी हिंदुत्व और केशव जुटे हैं पिछड़ों को साधने में

बागपत में सीएम योगी ने कहा कि हमने सभी को अपना पर्व मनाने की आजादी दी है. वहीं डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि पश्चिमी यूपी में चौधरी महेंद्र सिंह टिकैत और पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के साथ ही कांशीराम तक के नाम पर सड़क बनेगी.

Ajayendra Rajan | News18 Uttar Pradesh
Updated: September 12, 2018, 2:44 PM IST
जानें किस तरह योगी हिंदुत्व और केशव जुटे हैं पिछड़ों को साधने में
बीजेपी के पिछड़ा वर्ग मोर्चा द्वारा आयोजित कश्यप, निषाद एवं बिंद समाज की बैठक के दौरान सीएम योगी व केशव प्रसाद मौर्य. Photo: News 18
Ajayendra Rajan
Ajayendra Rajan | News18 Uttar Pradesh
Updated: September 12, 2018, 2:44 PM IST
उत्तर प्रदेश में जातिगत मोर्चे पर महागठबंधन की चुनौतियों को देखते हुए बीजेपी ने मिशन 2019 के लिए 'मैन टू मैन मार्किंग' की रणनीति बनाई है. इसके तहत सीएम योगी आदित्यनाथ हिंदुत्व के एजेंडे को धार देने में लगे हुए हैं. वह प्रदेश में अपनी यात्रा के दौरान मंदिरों और मठों का दर्शन जरूर करते हैं. इतना ही नहीं, वे अपने काम में कांवड़ यात्रा सकुशल कराने का जिक्र भी जरूर करते हैं. दूसरी तरफ बीजेपी तमाम जातियों के अलग-अलग सम्मेलन आयोजित कर रही है. इसमें पिछड़ा वर्ग सम्मेलन से लेकर यादव सम्मेलन तक शामिल हैं. इन सम्मेलनों में वैसे तो सीएम योगी भी शामिल होते हैं, लेकिन अगुवाई केशव प्रसाद मौर्य ही कर रहे हैं.

उदाहरण के लिए बागपत में सीएम योगी की जनसभा पर गौर करें तो उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस, सपा और बसपा ने जाति के आधार पर समाज को बांटा है, लेकिन हमने सभी को अपना पर्व मनाने की आजादी दी है. उन्होंने बताया कि कांवड़ यात्रा भी बाधारहित निकली और कांवड़ि‍यों पर जमकर फूल भी बरसे.

ये भी पढ़ें: हमने सभी को पर्व मनाने की आजादी दी, कांवड़ियों पर जमकर बरसे फूल: सीएम योगी

इस दौरान डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने महापुरुषों के नाम पर सड़कें बनाने की चर्चा करते हुए बताया कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में चौधरी महेंद्र सिंह टिकैत और पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के साथ ही कांशीराम तक के नाम पर सड़क बनेगी.

इससे पहले राजधानी लखनऊ में पिछड़े वर्ग के सम्मेलन को संबोधित करते हुए डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि पिछड़ा, दलित और गरीब जब मोदी के साथ हैं तो मोदी विरोधी लोग नरेंद्र मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बनने से नहीं रोक पाएंगे. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अब सभी जिलों में एक-एक सड़क कर्पूरी ठाकुर के नाम पर भी होगी.

ये भी पढ़ें: गैर भाजपा सरकारों ने पिछड़े वर्ग को सिर्फ वोट बैंक समझा: केशव प्रसाद मौर्य

मौर्य ने कहा कि पिछड़ा वर्ग के सभी लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से प्रभावित हैं. सम्पूर्ण पिछड़ा वर्ग को आज एकजुट होने की जरूरत है. लोगों को एक अभियान चलाने की जरूरत है और मोदी पर विश्वास करना चाहिए. उन्‍होंने कहा कि 2019 के चुनाव के लिए आप लोग यहां से एक संकल्प लेकर जाइए कि 73 से ज्यादा सीटें मोदीजी की झोली में डालेंगे.

इसी क्रम में बीजेपी के पिछड़ा वर्ग मोर्चा द्वारा आयोजित कश्यप, निषाद और बिंद समाज की बैठक के दौरान भी केशव मौर्य ने कहा​ कि आप सभी उस समाज से आते हैं, जिस समाज ने भगवान राम की मदद करके राम राज्य की स्थापना की थी. ये ही समाज मोदी जी को भी दोबारा पीएम बनाने में अग्रणी भूमिका निभाते हुए नव भारत निर्माण में सहभागी बनेंगे.

क्या योगी हिंदुत्व और केशव मौर्य पिछड़ों को साधने में लगे हैं? इस पर बीजेपी के मीडिया प्रभारी राकेश त्रिपाठी कहते हैं कि बहुत पहले संतों के सम्मेलन में ये बात कही गई थी कि कोई भी हिंदू पिछड़ा या दलित नहीं हो सकता है. हिंदुत्व 'सर्वे भवंतु सुखिना' के रास्ते पर चलता है. भारतीय जनता पार्टी सबका साथ, सबका विकास के अपने नारे पर अमल कर रही है.

हमारा मानना है कि समाज के हर वर्ग को राजनीतिक और सामाजिक तौर पर उसका हक मिलना चाहिए. इसी क्रम में हम हर जाति के लोगों का सम्मेलन कर रहे हैं. दूसरी पार्टियों ने जाति और धर्म के नाम पर तुष्टीकरण ही किया है. उन्होंने कहा कि जहां तक मंदिर में दर्शन करने का मामला है तो यह पूरी तरह से ​व्यक्तिगत है. योगी जी खुद भी मठाधीश हैं, लिहाजा वह मंदिर और मठ जाते रहते हैं.

ये भी पढ़ें: 

बिजनौर: मोहित पेपर मिल का बॉयलर फटा, 6 लोगों की मौत, कई घायल

SC/ST एक्ट में बिना नोटिस गिरफ्तारी नहीं, 7 साल से कम सजा वाले मामले में नियम लागू

यूपी में काली कमाई के धन कुबेरों के दिन लदे, 150 से अधिक अफसर जाएंगे जेल

बुलन्दशहर: मंत्री नंदगोपाल नंदी पर जानलेवा हमले के मुख्य आरोपी राजेश पायलेट की मौत
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर