सीएम योगी बोले- यूपी में हर रेहड़ी-पटरी व्यवसायी को मिलेगा आत्मनिर्भर योजना का लाभ

यूपी में हर रेहड़ी-पटरी व्यवसायी को मिलेगा आत्मनिर्भर योजना का लाभ (file photo)
यूपी में हर रेहड़ी-पटरी व्यवसायी को मिलेगा आत्मनिर्भर योजना का लाभ (file photo)

सीएम योगी (CM Yogi) ने कहा कि प्रधानमंत्री (PM) का प्रदेश के पटरी कारोबारियों से मुखातिब होना, हम सबके लिए सौभाग्य की बात है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 27, 2020, 3:42 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने मंगलवार को पीएम स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि योजना (PM Street Vendor Atma Nirbhar Yojna) के तहत आयोजित कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के रेहड़ी-पटरी व्यवसायियों से वर्चुअल संवाद किया. इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने भी वर्चुअली भाग लिया. अपने संबोधन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हर पटरी व्यवसाई जो ऋण के लिए आवेदन देगा उनको इस योजना से संतृप्त किया जाएगा. अब तक करीब 7 लाख लोगों ने पंजीकरण कराया है. 6.53 लाख लोगों ने ऋण के लिए आवेदन किए हैं. इनमें से करीब पौने चार लाख लोगों को ऋण मंजूर किया जा चुका है. करीब 2.74 लाख लाख लोगों को ऋण मिल भी चुका है.

सीएम योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री का प्रदेश के पटरी कारोबारियों से मुखातिब होना, हम सबके लिए सौभाग्य की बात है. यह समाज का सबसे वंचित वर्ग है. इनमें से अधिकांश रोज महंगे ब्याज पर कर्ज लेकर अपना कारोबार करते हैं. योजना के तहत मिले लाभ से अब वह अपने पैसे से काराेबार का अपने जीवन को पटरी पर ला सकेंगे.

जरूरतमंद तबके लिए बेहतरीन योजना



मुख्यमंत्री ने कहा कि एक सबसे जरूरतमंद तबके के लिए यह बेहतरीन योजना है. यकीनन पर्व त्यौहार के इस मौसम के दौरान मिली इस मदद से उनके और परिवार के जीवन में नई खुशियां आएंगी. सीएम योगी ने कोराना के प्रभावी नियंत्रण के लिए प्रधानमंत्री की तारीफ की. यह भी कहा कि आपके ही मार्ग निर्देशन में इस दौरान सरकार ने गरीबों और दूसरे राज्यों से घर वापस आए श्रमिकों की हर भरण-पोषण भत्ता, राशन, एडवांस पेंशन, किसान सम्मान निधि आदि योजनाओं के जरिए संभव मदद की. आज का यह कार्यक्रम भी उसी की एक कड़ी है.


बैंकर्स काे मिलेगा हर गरीब का अशीर्वाद
प्रधानमंत्री ने कहा कि इतने कम समय में इतने लोगों को बिना किसी औपचारिकता के घर लाभार्थियों के घर जाकरकर्ज देना बिना बैंकर्स की मदद से संभव नहीं था. गरीबों का जीवन बेहतर करने के लिए आपके इस काम के बदले वह जरूर आपको आशीर्वाद देंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज