काशी क्षेत्र को बनाएंगे 'विकास का मॉडल', भ्रष्टाचारियों से हो वसूली: CM योगी

काशी क्षेत्र को बनाएंगे 'विकास का मॉडल' (file photo)
काशी क्षेत्र को बनाएंगे 'विकास का मॉडल' (file photo)

मुख्यमंत्री (CM) ने कहा कि शहरी क्षेत्रों में 24 घंटे और ग्रामीण क्षेत्रों में 48 घंटे में खराब ट्रांसफार्मर (Transformer) बदलने का नियम है. इसका अनुपालन सख्ती से किया जाए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 22, 2020, 11:37 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने ऐतिहासिक और पौराणिक महत्व के साथ-साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के संसदीय क्षेत्र होने के कारण काशी (Kashi) को विकास का मॉडल बनाने की प्रतिबद्धता जताई है. सीएम योगी ने वाराणसी मंडल के विकास कार्यों की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए कि समग्र काशी क्षेत्र को केंद्र में रखते हुए पर्यटन विकास की योजना तैयार की जाए.

समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री ने गाजीपुर में 55, जौनपुर में 11 चंदौली में 08 और वाराणसी में 07 निर्माण परियोजनाओं में भ्रष्टाचार की शिकायत पर जारी एसआईटी जांच के कारण काम प्रभावित होने की स्थिति पर जांच प्रक्रिया शीघ्र पूरी करने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार हुआ है तो उसकी वसूली सुनिश्चित की जाए, लेकिन किसी के भ्रष्टाचार का असर विकास कार्यों की गति पर नहीं पड़ना चाहिए. योगी ने कहा कि आगामी पर्वों से पहले सड़कों को गड्ढा मुक्त करने की कार्यवाही पूरी कर ली जाए.

24 घंटे में बदल जाना चाहिए ट्रांसफार्मर
मुख्यमंत्री योगी आदितयनाथ ने वाराणसी स्मार्ट सिटी तथा वाराणसी सहित अन्य जनपदों में अमृत योजना के सभी कार्यों को मानक के अनुरूप निर्धारित समय-सीमा में क्रियान्वित करने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी और अमृत योजना के प्रस्ताव त्वरित और पारदर्शी ढंग से स्वीकृत किए जाएं. मुख्यमंत्री ने कहा कि शहरी क्षेत्रों में 24 घंटे और ग्रामीण क्षेत्रों में 48 घंटे में खराब ट्रांसफार्मर बदलने का नियम है. इसका अनुपालन सख्ती से किया जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज