Home /News /uttar-pradesh /

बंद होते इंजीनियरिंग कॉलेज में खुलेंगे स्किल डेवलपमेन्ट केंद्र: सीएम योगी

बंद होते इंजीनियरिंग कॉलेज में खुलेंगे स्किल डेवलपमेन्ट केंद्र: सीएम योगी

सीएम योगी आदित्यनाथ की फाइल फोटो

सीएम योगी आदित्यनाथ की फाइल फोटो

लखनऊ में रोजगार समिट कार्यक्रम के दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को 10 युवाओं को रोजगार नियुक्ति पत्र दिए.

    लखनऊ में रोजगार समिट कार्यक्रम के दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को 10 युवाओं को रोजगार नियुक्ति पत्र दिए. साइंटिफिक कन्वेंशन सेंटर में आयोजित समारोह में कुल 100 लोगों को रोजगार नियुक्ति पत्र दिए गए. इस दौरान सीएम योगी ने सेवायोजन विभाग का मोबाइल एप्प भी लांच किया.

    रोजगार समिट में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मुझे उत्तर प्रदेश के बारे में बहुत सारे लोग प्रश्न पूछते हैं कि कैसे कार्य होगा? मैं कहता हूं सब होगा. हम सबकी सोच क्या है. अगर हमारी सोच सकारात्मक और रचनात्मक है तो सफलता मिलेगी लेकिन अगर नकारात्मक है, तो सफलता नहीं मिलेगी.

    उन्होंने कहा कि यूपी के पास देश की सबसे बड़ी युवा शक्ति है. जब मैं यूथ को देखता हूं तो सोचता हूं कि कोई भी अयोग्य नहीं है सिर्फ योजक चाहिए और यूपी सरकार योजक की तरह कार्य कर रही है. अब तक 6 लाख युवा रोजगार के लिए रजिस्ट्रेशन करवा चुके हैं.

    इस दौरान महत्वपूर्ण कार्यक्रम में भाषणबाजी से सीएम योगी नाराज दिखे. उन्होंने कहा कि आज के कार्यक्रम में भाषणबाजी से अच्छा होता कि जिन लोगों को सर्टिफिकेट मिला, वे अनुभव साझा करते. हम आने युवा को स्वावलंबी बना दें. वे सरकार पर निर्भर होने के बजाय अपने ऊपर निर्भर रहे इसलिए पीएम मोदी ने स्किल डेवलोपमेन्ट पर जोर दिया.

    सीएम ने कहा कि प्रदेश में लाखों पॉलिटेक्निक से लेकर इंजीनियरिंग कॉलेज हैं, जिसमें सिर्फ डिग्री लेने का काम होता रहा है. किसी के पास कोई दिशा नहीं है. जो इंजीनियरिंग कॉलेज बंद हो रहे थे. सीएम ने बताया कि ये कॉलेज बंद कर जमीन पर मैरिज हॉल, मॉल खोलना चाह रहे थे.

    सस्ती ज़मीन शिक्षण संस्थान के लिए दी है, इसे हम जब्त कर लेंगे. हमने कहा कि वहां स्किल डेवलपमेंट के संस्थान खोलिए. कानपुर की दुर्गति हुई, पश्चिम बंगाल में दुर्गति हुई. हमारा लक्ष्य है कि इस साल 10 लाख लोगों को रोजगार उपलब्ध करवाएंगे.

    सीएम ने कहा कि उत्तर प्रदेश में जब सत्ता में आए तो हमारे लिए चुनौती थी. रोजगार का सबसे बड़ा स्रोत कृषि है. किसान थोड़ी तकनीक का इस्तेमाल कर अपनी आमदनी 3 गुनी कर सकता है. 2014 का मुआवजा 2017 तक नहीं मिला, ये सिस्टम था.

    बाढ़ को लेकर हमने कड़े कदम उठाए हैं. मैंने कहा बाढ़ से मरने के बाद मुआवजे का क्या मतलब है इसलिए मैं खुद फील्ड में गया और मैंने मंत्रियों को भी कहा आप क्षेत्र में जाइये राहत पहुंचाइए.

    यूपी के 75 जिलो में जिन जिलों का जो परंपरागत उद्योग रहा है, उसके लिए वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट के तहत कार्य करेंगे. अवध शिल्प ग्राम में सभी जिलों के मशहूर प्रोडक्ट का प्रेजेंटेशन करेगा. जल्द ही उनके सामने इसका प्रेजेंटेशन होगा.

    कानून व्यवस्था पर सीएम ने कहा कि कोई भी कानून से बड़ा नहीं है. सुरक्षा प्रदान करना हमारी जिम्मेदारी है. सालों से जो आदते पड़ी हैं, वो इतनी जल्दी नहीं जाएंगी. आने वाले 5 साल में 1 करोड़ नौजवान बेरोजगार होगा, जिसमें से 70 लाख युवाओं के रोजगार की व्यवस्था सरकार करेगी.

    किसानों के खाते में सीधे पैसा भेजा जा रहा है लेकिन फिर भी जो भी अधिकारी गलत करेंगे उनके चेहरे पर सार्वजनिक तौर पर कालिख पोतने का काम भी हम करेंगे.

    आपके शहर से (लखनऊ)

    Tags: लखनऊ

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर