Lucknow news

लखनऊ

अपना जिला चुनें

Tokyo Olympics 2020: मीराबाई चानू को टोक्यो में सिल्वर मेडल जीतने पर CM योगी ने दी बधाई, कहा- मातृशक्ति ने मान बढ़ाया

Tokyo Olympics 2020: मीराबाई चानू को टोक्यो में सिल्वर मेडल जीतने पर CM योगी ने दी बधाई, कहा- मातृशक्ति ने मान बढ़ाया

मीराबाई चानू को टोक्यो में सिल्वर मेडल जीतने पर CM योगी ने दी बधाई (File photo)

मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) पदक जीतकर रो पड़ीं और खुशी में उन्होंने अपने कोच विजय शर्मा को गले लगाया.

SHARE THIS:
लखनऊ. Tokyo Olympics 2020: भारतीय वेटलिफ्टर मीरा बाई चानू ने टोक्यो ओलंपिक में भारत को पहला मेडल दिला (Mirabai Chanu) दिया है. उन्होंने शनिवार को वेटलिफ्टिंग (Weightlifting) में सिल्वर मेडल अपने नाम किया. इस मौके पर उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने उन्हें बधाई दी है. सीएम योगी ने ट्वीट करते हुए लिखा है, ”आज फिर भारत की मातृशक्ति नेवैश्विक पटल पर माँ भारती को गौरवभूषित किया है. आज @Tokyo2020 में @mirabai_chanu जी ने अद्भुत कौशल का परिचय देतेहुए रजत पदक जीत कर देश को गौरवान्वित किया है. हार्दिक बधाई! जय हिंद!”

मीराबाई ने स्नैच में अपने पहले प्रयास में ही 84 किलो और दूसरे में 87 किलो वजन उठाया. हालांकि, तीसरे प्रयास में वो 89 किलो वजन उठाने में नाकाम रहीं. वो स्नैच राउंड में दूसरे स्थान पर रहीं. इसके बाद क्लीन एंड जर्क के अपने दूसरे प्रयास में मीराबाई चानू ने 115 किग्रा वजन उठाकर नया ओलंपिक रिकॉर्ड कायम किया लेकिन चीन की होऊ झीहुई ने अगले ही प्रयास में 116 किलो वजन उठाकर ये रिकॉर्ड भी अपने नाम किया. चानू ने इसके बाद चीन की वेटलिफ्टर को पछाड़ने के लिए 117 किलो वजन उठाने की कोशिश की लेकिन वो इसमें नाकाम रही.



मीराबाई चानू पदक जीतकर रो पड़ीं और खुशी में उन्होंने अपने कोच विजय शर्मा को गले लगाया.

पीएम मोदी ने दी बधाई
बता दें मीराबाई चानू ने टोक्यो ओलंपिक में पदक जीतने का वादा किया था. मीराबाई चानू ने एक इंटरव्यू में कहा था कि रियो ओलंपिक में उनका खराब प्रदर्शन वो भूल चुकी हैं. मीराबाई ने बताया था कि वो स्टेडियम से अपने कमरे तक रोते हुए गई थीं. लेकिन टोक्यो ओलंपिक के लिए मीराबाई ने जमकर मेहनत की और इसका नतीजा सबके सामने है. मीराबाई ओलंपिक में भारत के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाली वेटलिफ्टर बन गई हैं. मीराबाई की इस कामयाबी को पूरा देश सलाम कर रहा है खुद पीएम मोदी ने इस चैंपियन खिलाड़ी को बधाई दी है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

UP Anganwadi Recruitment 2021 : यूपी के इन जिलों में हो रही आंगनबाड़ी पदों पर भर्ती, ये है आवेदन की अंतिम तिथि

UP Anganwadi Recruitment 2021 : यूपी के इन जिलों में हो रही आंगनबाड़ी पदों पर भर्ती, ये है आवेदन की अंतिम तिथि

UP Anganwadi Recruitment 2021 : यूपी आंगनबाड़ी भर्ती 2021 के तहत मथुरा, मैनपुरी, कासगंज, खीरी, गोरखपुर और फर्रुखाबाद जैसे जिलों में आवेदन प्रक्रिया चल रही है. पांचवीं और 10वीं पास महिलाओं के लिए सरकारी नौकरी का अच्छा मौका है.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 17, 2021, 08:00 IST
SHARE THIS:

नई दिल्ली. UP Anganwadi Recruitment 2021 : उत्तर प्रदेश में 53000 आंगनबाड़ी कर्मचारियों की भर्ती हो रही रही है. इसी क्रम में प्रदेश के कई जिलों में आवेदन मांगे गए हैं. आंगनबाड़ी पदों पर भर्ती होने के इच्छुक और योग्य उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट balvikasup.gov.in पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. इस समय आंगनबाड़ी, मिनी आंगनबाड़ी  एवं सहायिका के पदों के लिए गोरखपुर, कासगंज, मथुरा, फर्रुखाबाद जैसे जिलों में आवेदन प्रक्रिया चल रही है. इन पदों पर सिर्फ महिलाएं ही आवेदन कर सकती हैं. ऐसे में यदि आप इन जिलों की मूल निवासी हैं तो फटाफट आवेदन कर देना चाहिए.

आंगनबाड़ी सहायिका के पदों के लिए पांचवीं कक्षा पास महिलाएं आवेदन कर सकती हैं. जबकि आंगनबाड़ी कार्यकत्री और मिनी आंगनबाड़ी पदों के लिए न्यूनतम शैक्षिक योग्यता 10वीं पास है. इसके साथ ही नए अभ्यर्थियों के लिए आयु सीमा 21 से 45 वर्ष है. जबकि पूर्व आंगबाड़ी सहायिका और कार्यकत्री के लिए अधिकतम आयु सीमा में पांच साल की छूट मिलेगी. जहां तक आवेदन शुल्क की बात करें तो आवेदन पूरी तरह नि:शुल्क है.

जिलेवार आवेदन की अंतिम तिथि

मैनपुरी – 17 सितंबर 2021
इटावा – 17 सितंबर 2021
खीरी – 24 सितंबर 2021
मथुरा – 27 सितंबर 2021
कासगंज – 30 सितंबर 2021
गोरखपुर – 04 अक्टूबर 2021
फर्रुखाबाद – 04 अक्टूबर 2021

कैसे होगा चयन

आंगनबाड़ी पदों पर भर्ती के लिए किसी प्रकार का इंटरव्यू या परीक्षा नहीं देनी होगी. पांचवीं और 10वीं में मिले अंकों के आधार पर मेरिट तैयार की जाएगी. इसके बार दस्तावेजों का सत्यापन होगा.

ये भी पढ़ें

BoB Recruitment 2021 : बैंक ऑफ बड़ौदा में बीसी सुपरवाइजर की नौकरी, पूर्णिया और जमशेदपुर सहित इन रीजन के लिए है वैकेंसी

UPPSC Polytechnic Recruitment : शैक्षिक योग्यता, भर्ती के नियम और सैलरी में भी हुए ये बदलाव

UP News: पीएम नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर CM योगी और डिप्टी सीएम केशव मौर्य ने दी बधाई, कहीं ये बात

UP News: पीएम नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर CM योगी और डिप्टी सीएम केशव मौर्य ने दी बधाई, कहीं ये बात

PM Modi Birthday: डिप्टी सीएम मौर्य ने लिखा,' एक-एक पल मां भारती की सेवा में समर्पित रहने वाले, विश्व के सबसे शक्तिशाली नेता, देशवासियों के हृदय सम्राट तथा हम सभी के प्रेरणा स्रोत व मार्गदर्शक, देश के यशस्वी प्रधानमंत्री आदरणीय नरेंद्र मोदी आपको जन्मदिन की हार्दिक बधाई एवं अनंत शुभकामनाएं.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 17, 2021, 07:52 IST
SHARE THIS:

लखनऊ. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) का शुक्रवार को 71वां जन्मदिन है. इस मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने पीएम मोदी को बधाई दी. सीएम योगी ने कहा, अंत्योदय से आत्मनिर्भर भारत की संकल्पना को साकार कर रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जन्मदिन की शुभकामनाएं. प्रभु श्री राम की कृपा से आपको दीर्घायु व उत्तम स्वास्थ्य की प्राप्ति हो. आजीवन मां भारती की सेवा का परम सौभाग्य आपको प्राप्त होता रहे.

उधर, यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने भी ट्वीट कर पीएम मोदी को बधाई दी है. डिप्टी सीएम मौर्य ने लिखा,’ एक-एक पल मां भारती की सेवा में समर्पित रहने वाले, विश्व के सबसे शक्तिशाली नेता, देशवासियों के हृदय सम्राट तथा हम सभी के प्रेरणा स्रोत व मार्गदर्शक, देश के यशस्वी प्रधानमंत्री आदरणीय नरेंद्र मोदी आपको जन्मदिन की हार्दिक बधाई एवं अनंत शुभकामनाएं.

सीएम योगी ने पीएम मोदी को दी जन्मदिन की बधाई

सीएम योगी ने पीएम मोदी को दी जन्मदिन की बधाई

वाराणसी में लोगों ने जलाए दीए
पीएम मोदी के 71वें जन्मदिन की पूर्व संध्या पर वाराणसी में लोगों ने मिट्टी के दीए जलाए और 71 किलो के लड्डू का भोग लगाकर प्रसाद बांटा. बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस पर भाजपा आज से सेवा एवं समर्पण अभियान शुरू कर रही है. इसके तहत भाजपा का चिकित्सा प्रकोष्ठ 17 से 20 सितंबर तक स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन करेगा. युवा मोर्चा के कार्यकर्ता रक्तदान शिविर, जबकि अनुसूचित मोर्चा के कार्यकर्ता गरीब बस्तियों में फल और जरूरी सामानों का वितरण करेंगे.

UP Board Exam : क्या कल से शुरू होगी 10वीं, 12वीं की सप्लीमेंट्री परीक्षा ? बोर्ड ने लिया है ये फैसला

UP Board Exam : क्या कल से शुरू होगी 10वीं, 12वीं की सप्लीमेंट्री परीक्षा ? बोर्ड ने लिया है ये फैसला

UP Board Exam : यूपी में लगातार हो रही भारी बारिश के बावजूद हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की सप्लीमेंट्री परीक्षा अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार होगी. प्रदेश में बारिश के कारण स्कूल और कॉलेज बंद कर दिए गए हैं.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 17, 2021, 07:21 IST
SHARE THIS:

नई दिल्ली. UP Board Exam : उत्तर प्रदेश में भारी बारिश के कारण स्कूलों और कॉलेजों को 18 सितंबर तक के लिए बंद कर दिया गया है. लेकिन 18 सितंबर को होने वाली यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं की सप्लीमेंट्री/इंप्रूवमेंट परीक्षा के शेड्यूल में कोई परिवर्तन नहीं किया गया है. सप्लीमेंट्री परीक्षा पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार ही होगी. माध्यमिक शिक्षा की अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि अंक सुधार के लिए आयोजित की जाने वाली 2021 बोर्ड परीक्षा पूरी सावधानी के साथ होंगी. सप्लीमेंट्री परीक्षा के लिए जिलों को कॉपी और पेपर पहले ही भेजे जा चुके हैं. कार्यक्रम के अनुसार पहले दिन हाई स्कूल और इंटरमीडिएट के हिंदी का पेपर होगा. 10वीं और 12वीं की सप्लीमेंट्री परीक्षाएं क्रमश: चार और छह अक्टूबर को संपन्न होंगी.

यूपी बोर्ड ने परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड 13 सितंबर को ही जारी कर दिया है. छात्र इसे यूपी बोर्ड की वेबसाइट पर जाकर डाउनलोड कर सकते हैं. इसके लिए उन्हें अपने यूजर आईडी और पासवर्ड से लॉग इन करना होगा.

परीक्षा की होगी वीडियो रिकॉर्डिंग

कोरोना महामारी के कारण यूपी बोर्ड ने 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं इस साल रद्द कर दी थी. हाई स्कूल और इंटर का रिजल्ट फॉर्मूले के आधार पर तैयार किया गया था. इस तरह तैयार रिजल्ट से असंतुष्ट छात्रों के लिए बोर्ड सप्लीमेंट्री परीक्षा का आयोजन करने जा रहा है. यूपी बोर्ड ने परीक्षा में नकल रोकने के लिए राज्य स्तरीय कमांड सेंटर के साथ जिलों में भी कंट्रोल रूम तैयार किए हैं. परीक्षा की वीडियो रिकॉर्डिंग भी की जाएगी.

ये भी पढ़ें

BoB Recruitment 2021 : बैंक ऑफ बड़ौदा में बीसी सुपरवाइजर की नौकरी, पूर्णिया और जमशेदपुर सहित इन रीजन के लिए है वैकेंसी

UPPSC Polytechnic Recruitment : शैक्षिक योग्यता, भर्ती के नियम और सैलरी में भी हुए ये बदलाव

UP Election 2022: 'आप' की मुफ्त बिजली के वादे पर छिड़ी जुबानी जंग, BJP ने ऐसे किया पलटवार

UP Election 2022: 'आप' की मुफ्त बिजली के वादे पर छिड़ी जुबानी जंग, BJP ने ऐसे किया पलटवार

UP Politics: सौभाग्य योजना से 1 करोड़ 40 लाख घरों में बिजली आई है. चार साल पहले तक यूपी में बिजली आना अखबारों की सुर्खियां बनती थीं, आज अगर कभी बिजली कट जाए तो लोग हैरान होते हैं.

SHARE THIS:

लखनऊ. हर घरेलू बिजली उपभोक्ता को मुफ्त बिजली (Free Electric Bill) देने का वादा कर यूपी विधानसभा चुनाव जोर-आजमाइश कर रही आम आदमी पार्टी (AAP) को कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने आड़े हाथों लिया है. गुरुवार को जारी प्रेस बयान में शाही ने कहा कि ‘केजरीवाल प्राइवेट लिमिटेड’ को यह तो मालूम ही है कि गरीबों, गांव में रहने वालों और किसानों का योगी सरकार ने कितना ध्यान रखा है.

योगी सरकार बिजली का मीटर रखने वाले ग्रामीण उपभोक्ताओं को प्रति यूनिट 2.80 रुपए के और बगैर मीटर वालों को 4.07 रुपए की छूट शुरू से ही दे रही है. इसके अलावा एक किलोवाट लोड तक और 100 यूनिट की खपत तक के शहरी और ग्रामीण उपभोक्ताओं को भी चार रुपए से अधिक प्रति यूनिट छूट मिलती है. यही नहीं गांव में मीटर और बिना मीटर वाले कृषि उपभोक्ताओं को तो छूट क्रमशः पांच रुपए और 6.32 रूपए है। इस तरह सरकार ग्यारह हजार करोड़ की सब्सिडी तो सिर्फ गरीब और किसानों के लिए देती है.

यह भी पढ़ें- UP: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का 71वां जन्मदिन आज, BJP करेगी ‘सेवा एवं समर्पण’ अभियान की शुरुआत

कृषि मंत्री ने तंज किया कि केजरीवाल के पास यूपी की जनता के लिए विकास का कोई मॉडल नहीं है. दिल्ली में अब तक यह पार्टी ने कोई ऐसा काम नहीं कर सकी जिसे वह अपना बता सके। ऐसे में ‘मुफ्तखोरी के लालच’ को उसने चुनावी हथियार बनाया है. उन्होंने कहा कि यूपी की योगी सरकार ने जिला मुख्यालयों पर 24 घंटे, तहसील मुख्यालयों पर 20 घंटे और गांवों में 18 घंटे बिजली देने का वादा किया था और उसे पूरा किया. यही नहीं, साढ़े चार साल में यूपी के हर कोने को बिजली से रोशन कर दिया गया है.

1 करोड़ 40 लाख घरों में आई बिजली
सौभाग्य योजना से 1 करोड़ 40 लाख घरों में बिजली आई है. चार साल पहले तक यूपी में बिजली आना अखबारों की सुर्खियां बनती थीं, आज अगर कभी बिजली कट जाए तो लोग हैरान होते हैं. यह होता है विकास, लेकिन ऐसे विकास के लिए जिस विजन की जरूरत होती है, वह न अरविंद केजरीवाल के पास है न मनीष सिसौदिया के पास. ऐसे में ले देकर मुफ्त बिजली देने का लालच ही उनके पास बचा है. सूर्य प्रताप शाही ने कहा कि लोकतंत्र में इस तरह की बेतुकी एवं घोषणाएं राजनीति को दूषित करते हैं, जो न केवल घातक है बल्कि एक बड़ी विसंगति भी है.

UP: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का 71वां जन्मदिन आज, BJP करेगी 'सेवा एवं समर्पण' अभियान की शुरुआत

UP: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का 71वां जन्मदिन आज, BJP करेगी 'सेवा एवं समर्पण' अभियान की शुरुआत

PM Modi Birthday: पीएम मोदी का 71वां जन्मदिन को प्रयागराज में खास तरीके से मनाने की तैयारी उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री नंदगोपाल गुप्ता नंदी और स्थनीय बीजेपी कार्यकर्ताओं ने की है.

SHARE THIS:

लखनऊ. पीएम मोदी के जन्मदिन (PM Modi’s Birthday) को खास बनाने के लिए बीजेपी ने खास तैयारी की है. इसी कड़ी में शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी (BJP) का ‘सेवा एवं समर्पण’ अभियान की शुरुआत होगी. 7 अक्टूबर तक चलने वाले इस अभियान में भाजपा के कार्यकर्ता विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से गांव-गांव, घर-घर तक पहुंचकर लोगों से संपर्क व संवाद करेंगे और सेवा कार्य भी करेंगे. मोर्चों व प्रकोष्ठों के कार्यकर्ता भी इस अभियान में जुटेंगे.

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने गुरुवार शाम पार्टी के प्रदेश पदाधिकारियों, क्षेत्र अध्यक्षों, जिलाध्यक्षों व जिला प्रभारियों के साथ वर्चुअल बैठक कर सेवा एवं समर्पण अभियान की तैयारियों की समीक्षा की और आवश्यक दिशा निर्देश दिए. सेवा एवं समर्पण अभियान के तहत 17 से 20 सितंबर तक स्वास्थ्य परीक्षण शिविर आयोजित किया जाएगा. चिकित्सा प्रकोष्ठ इसका समन्वय करेगा. युवा मोर्चा के कार्यकर्ता रक्तदान शिविर आयोजित करेंगे, जबकि अनुसूचित मोर्चा के कार्यकर्ता गरीब बस्तियों में फल व अन्य आवश्यक वस्तुओं का वितरण कर सेवा कार्य करेंगे.

यह भी पढ़ें- अधिवक्ता ने रोक लिया DGP मुकुल का रास्ता, कहा- आपके अधिकारी कुछ नहीं करते

उधर, पीएम मोदी का 71वां जन्मदिन को प्रयागराज में खास तरीके से मनाने की तैयारी उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री नंदगोपाल गुप्ता नंदी और स्थनीय बीजेपी कार्यकर्ताओं ने की है. इसे भव्य रूप देने के लिए तमिलनाडु की राजलक्ष्मी मंडा प्रधानमंत्री का कटआउट लगा करीब 9.5 टन वजन वाला ट्रक अपने हाथ से खींचेंगी. उत्तर प्रदेश के नागरिक उड्डयन मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी ने बताया कि हम पीएम मोदी का 71वां जन्मदिन सेवा सप्ताह के रूप में मना रहे हैं.

पीएम के कटआउट को खींचेंगी राजलक्ष्मी
इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह 71 किलो का केक काटकर इसका शुभारंभ करेंगे. उन्होंने बताया कि इसके बाद दोपहर तीन बजे गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड धारक बहन राजलक्ष्मी, प्रधानमंत्री का 71 फुट ऊंचा और 20 चौड़ा कटआउट एक ट्रक पर खड़ा करके लगभग 9.5 टन वजन का ट्रक वो खुद अपने हाथ से खींचकर इस कार्यक्रम को और भव्य रूप प्रदान करेंगी.

UP News Live Updates: यूपी के कई जिलों में तेज बारिश का सिलसिला जारी, अब तक 22 की मौत

UP News Live Updates: यूपी के कई जिलों में तेज बारिश का सिलसिला जारी, अब तक 22 की मौत

Uttar Pradesh News Live: विभाग की ओर से कई जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट भी जारी किया गया है. बारिश के साथ साथ 87 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा के तेज झोंके भी चलेंगे.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 17, 2021, 05:45 IST
SHARE THIS:

UP News Live Updates 17 September 2021: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के ज्यादातर इलाकों में हो रही मूसलाधार बारिश (Incessant Rain) ने आम जनजीवन अस्त-व्यस्त कर दिया है. शुक्रवार सुबह से प्रदेश के कई जिलों में तेज बारिश का सिलसिला जारी है. अलग-अलग जगहों पर मकान ढहने और दीवार गिरने की वजह से अब तक 22 लोगों की जान जा चुकी हैं, जबकि कई घायल हैं, जिनका इलाज चल रहा है. यूपी में भारी बारिश को देखते हुए योगी सरकार ने दो दिन यानी की 17 और 18 सितंबर को प्रदेश के सभी स्कूल-कॉलेज को बंद रखने का ऐलान कर दिया है.

कई जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट
विभाग की ओर से कई जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट भी जारी किया गया है. बारिश के साथ साथ 87 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा के तेज झोंके भी चलेंगे. जिन जिलों में बारिश जारी रहेगी, वह जिले हैं- अमेठी, अयोध्या, बाराबंकी, बहराइच, सीतापुर, लखीमपुर खीरी, हरदोई, लखनऊ, उन्नाव, रायबरेली, कानपुर नगर, कानपुर देहात, औरैया, इटावा, कन्नौज, मैनपुरी, फर्रुखाबाद, शाहजहांपुर, बरेली, पीलीभीत, बदायूं, कासगंज, एटा, मथुरा, अलीगढ़, बुलंदशहर और नोएडा.

बारिश भी नहीं रोक सकेगी बोर्ड एग्जाम, UP में स्कूल-कॉलेज बंद लेकिन देनी होंगी ये परीक्षा

बारिश भी नहीं रोक सकेगी बोर्ड एग्जाम, UP में स्कूल-कॉलेज बंद लेकिन देनी होंगी ये परीक्षा

UP Exam Alert: उत्तर प्रदेश में लगातार हो रही बारिश के चलते सरकार ने आगामी दो दिनों के लिए प्राइमरी स्कूल से लेकर यूनिवर्सिटी तक बंद रखने के आदेश दिए हैं लेकिन अंक सुधार के लिए हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के एग्जाम यथावत संचालित होंगी.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 16, 2021, 22:59 IST
SHARE THIS:

लखनऊ. एक तरफ उत्तर प्रदेश में लगातार हो रही बारिश के बाद शासन ने दो दिनों के लिए प्राइमरी स्कूल से लेकर यूनिवर्सिटी तक सभी शिक्षण संस्‍थान बंद रखने का आदेश दिया है. वहीं दूसरी तरफ माध्यमिक शिक्षा विभाग ने एक और आदेश जारी करते हुए जानकारी दी है कि हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की अंक सुधार के लिए होने वाली बोर्ड परीक्षा यथावत संचालित की जाएगी. परीक्षा निर्धारित परीक्षा केंद्रों पर ही पूर्व कार्यक्रम के अनुसार 18 सितंबर को आयोजित होगी.
माध्यमिक शिक्षा की अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि अंक सुधार के लिए आयोजित की जाने वाली 2021 बोर्ड परीक्षा पूरी सावधानी के साथ होंगी.

सीएम ने दिए निर्देश
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के कई क्षेत्रों में अतिवृष्टि के को देखते हुए सभी मण्डलायुक्तों तथा जिलाधिकारियों को पूरी तत्परता से राहत कार्य संचालित करने के निर्देश दिए हैं. सीएम ने अधिकारियों को प्रभावित क्षेत्र का दौरा कर राहत कार्यों पर नजर रखने के लिए भी कहा है. इसके साथ ही अगले 02 दिन, 17 व 18 सितम्बर को प्रदेश में स्कूल-कॉलेजों सहित सभी शिक्षण संस्थानों को बन्द रखने का निर्देश दिया गया है.

नुकसान का आंकलन हो
सीएम ने इस दौरान अधिकारियों को निर्देश दिया कि बारिश से प्रभावित लोगों को तत्काल राहत पहुंचाई जाए. इसके साथ ही जल जमाव की स्थिति में पानी को निकालने की प्राथमिकता पर व्यवस्‍था करवाई जाए. सीएम योगी ने निर्देश दिए कि सभी जनपदों के अधिकारी अपने क्षेत्र में बारिश के चलते हुए नुकसान का सही सही आंकलन कर रिपोर्ट प्रस्तुत करें.

UP B.Ed Counselling 2021 : कल से शुरू होगी यूपी बीएड की काउंसलिंग, रजिस्ट्रेशन के लिए तैयार रखें ये डॉक्यूमेंट्स

UP B.Ed Counselling 2021 : कल से शुरू होगी यूपी बीएड की काउंसलिंग, रजिस्ट्रेशन के लिए तैयार रखें ये डॉक्यूमेंट्स

UP B.Ed Counselling 2021 : यूपी बीएड की कांउसलिंग तीन चरणों में होगी. इसमें पहला चरण मुख्य काउंसलिंग का होगा. जो कि चार फेज में होगा. इसके बाद पूल काउंसलिंग होगी. इसके बाद रिक्त रह गईं सीटों पर सीधे एडमिशन लिए जा सकेंगे.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 16, 2021, 22:19 IST
SHARE THIS:

नई दिल्ली. UP B.Ed Counselling 2021 : उत्तर प्रदेश बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा 2021 के लिए कल यानी 17 सितंबर से ऑनलाइन काउंसलिंग शुरू हो रही है. पहले राउंड की काउंसलिंग के लिए रजिस्ट्रेशन 17 से 21 सितंबर तक होगा. रजिस्ट्रेशन के आखिरी दिन यानी 21 सितंबर को ही विकल्प चुनने की प्रक्रिया भी शुरू हो जाएगी. पहले राउंड की काउंसलिंग के लिए 75 हजार रैंक तक के अभ्यर्थी रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. काउंसलिंग के लिए शिक्षण संस्थानों के विवरण और प्रवेश प्रक्रिया की पूरी जानकारी के लिए लखनऊ विश्वविद्यालय की वेबसाइट www.lkouniv.ac.in पर विजिट कर सकते हैं.

ऑनलाइन काउंसलिंग प्रक्रिया तीन चरणों में संपन्न होगी. ये चरण हैं- मुख्य काउंसलिंग, पूल काउंसलिंग और सीधे प्रवेश. मुख्य काउंसलिंग के बाद एक राउंड पूल काउंसलिंग का होगा. इसके बाद यदि सीटें रिक्त रहती हैं तो कॉलेजों को उन पर सीधे प्रवेश लेने की छूट होगी. यूपी बीएड की प्रवेश प्रक्रिया में 16 राज्य विश्वविद्यालयों के अंतर्गत आने वाले ले 2479 राजकीय, सहायता प्राप्त महाविद्यालय, स्ववित्तपोषित महाविद्यालय शामिल हैं.

दो लाख से अधिक सीटों पर होगे एडमिशन 

बीएड की कुल 2,35,310 सीटें हैं. इसमें से 7830 सीटें विश्वविद्यालयों और राजकीय या सहायता प्राप्त महाविद्यालयों में हैं. जबकि 2,27,480 सीटें स्ववित्त पोषित महाविद्यालयों में हैं. इसके अलावा प्रत्येक महाविद्यालय में 10 प्रतशित अतिरिक्त सीटें आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्रों के लिए होंगी. हालांकि, इडब्लूएस के लिए अतिरिक्त सीटें अल्पसंख्यक संस्थानों में नहीं होंगी.

यूपी बीएड काउंसलिंग 2021 के लिए जरूरी होंगे ये डॉक्यूमेंट्स

बीएड प्रवेश परीक्षा का स्कोर कार्ड
प्रोविजनल अलॉटमेंट कम कन्फर्मेशन लेटर, यह लखनऊ विवि के पोर्टल पर मिलेगा
आवेदन फॉर्म की एक कॉपी, एडमिट कार्ड
जन्म तिथि प्रमाण पत्र के लिए 10वीं की मार्कशीट
सभी शैक्षिक प्रमाण पत्र
पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
इसके साथ जाति, आय और निवास आदि प्रमाण पत्र

ये भी पढ़ें

BoB Recruitment 2021 : बैंक ऑफ बड़ौदा में बीसी सुपरवाइजर की नौकरी, पूर्णिया और जमशेदपुर सहित इन रीजन के लिए है वैकेंसी

UPPSC Polytechnic Recruitment : शैक्षिक योग्यता, भर्ती के नियम और सैलरी में भी हुए ये बदलाव

देखिये कैसे यह महिलाएं सवार रही है गरीब बच्चों का भविष्य

देखिये कैसे यह महिलाएं सवार रही है गरीब बच्चों का भविष्य

संस्था की अध्यक्ष कल्पना वार्ष्णेय की माने तो जब नवरात्र में मां भगवती के दर्शन करने गई थी. तब उन्हें प्रेरणा मिली कि वह जो गरीब बच्चे पढ़ नहीं पाते हैं उन सभी को शिक्षित कर उनके भविष्य को संवार सकें. इसके लिए उन्हें कार्य करना चाहिए. संस्था की अध्यक्ष ने लोकल 18 की टीम को बताया कि बच्चों को शैक्षिक सामग्री भी वह अपने माध्यम से ही उपलब्ध कराती है.

SHARE THIS:

गरीब से गरीब बच्चों को शिक्षा मिले सभी के भविष्य सुधरे इस बात की प्रेरणा 9 महिलाओं को नवरात्रों के दिन मां भगवती के दर्शन करने के बाद मिली. जी हां गरीब मलिन बस्तियों में बच्चों को शिक्षित करने के लिए रूबरू हुई एक्सप्रेस सामाजिक सेवा संस्था की संचालिका प्रतिदिन कार्य में लगी हुई है. संस्था की अध्यक्ष कल्पना वार्ष्णेय की माने तो जब नवरात्र में मां भगवती के दर्शन करने गई थी. तब उन्हें प्रेरणा मिली कि वह जो गरीब बच्चे पढ़ नहीं पाते हैं उन सभी को शिक्षित कर उनके भविष्य को संवार सकें. इसके लिए उन्हें कार्य करना चाहिए. संस्था की अध्यक्ष ने लोकल 18 की टीम को बताया कि बच्चों को शैक्षिक सामग्री भी वह अपने माध्यम से ही उपलब्ध कराती है. इतना ही नहीं विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं का भी आयोजन कर मलिन बस्तियों के बच्चों में शिक्षा की अलख जगा रहीं हैं. जिससे कि बच्चों की प्रतिभा को भी निखारा जा सके.साथ ही आगे चल के बच्चें प्रतियोगी परीक्षाओं में भी सफलता हासिल कर स्वावलंबी बन सफलता प्राप्त करें.

लखनऊ बुलेटिन : एसी इलेक्ट्रिक बस सुविधा का लुफ्त उठाने के लिए अब देना होगा साधारण किराया

लखनऊ बुलेटिन : एसी इलेक्ट्रिक बस सुविधा का लुफ्त उठाने के लिए अब देना होगा साधारण किराया

SHARE THIS:

1. लखनऊ – कानपुर समेत यूपी के 11 जिलों में साधारण किराए पर लोगों को अब मिलेगी एसी इलेक्ट्रिक बस की सुविधा. रोज सफर करने वाले यात्रियों से साधारण बसों के बराबर इलेक्ट्रिक एसी बसों में किराया लिया जाएगा. उत्तर प्रदेश के 13 शहरों में इलेक्ट्रिक एसी बसें चलाई जानी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से इन बसों को हरी झंडी दिखाकर रवाना कराने की योजना बनाई जा रही है.

2. लखनऊ के अवध चौराहे पर ट्रैफिक व्यवस्था को सुधारने के लिए तैयार की जाएगी फ्री लेफ्ट लेन. अगर कोई इस लेफ्ट फ्री लेन में आया भी तो उसे लंबा चक्कर काटकर वापस चौराहे से ही गुजरना होगा. लेन इस तरह तैयार होंगी कि सीधे जाने वाले ट्रैफिक के वाहन इसमें जबरन न घुस सकें. करीब एक लाख वाहन इस चौराहे से पूरे दिन में गुजरते हैं. जागरूकता के लिए साइनेज भी लगाए जाएंगे ताकि लेफ्ट फ्री लेन में गलत दिशा के वाहन न घुसें. चौराहे पर यातायात सुगम करने के लिए यहां से ठेले-खोमचे और ई-रिक्शा भी हटाए जाएंगे.

3. रेलवे ने लखनऊ-कानपुर समेत अन्य जिलों के लिए एमएसटी की सुविधा को फिर से बहाल कर दिया है. रेल मंत्रालय ने कुछ अन्य जोनल रेलवे को देख कर उत्तर रेलवे ने भी कुछ ट्रेनों में मंथली पास या एमएसटी को मान्य कर दिया है.उत्तर रेलवे के सीनियर डीसीएम जगतोष शुक्ल के अनुसार पांच पैसेंजर ट्रेनों के लिए एमएसटी (MST) बनने की सुविधा शुरू हो चुकी है.

4. लखनऊ मंडल से चलने वाली दिल्ली, मुंबई समेत अन्य शहरों की ट्रेनों में सस्ता होगा थर्ड एसी का सफर.रेलवे ने ट्रेनों में दो एसी थर्ड इकोनॉमी क्लास की बोगियां लगाने का आदेश दिया है. यात्री अपना एडवांस रिजर्वेशन कराते समय अब एसी थर्ड इकोनॉमी का विकल्प चुन सकते हैं.

5. लखनऊ विश्वविद्यालय ने पहली बार एनआईआरएफ रैंकिंग 2021 में अपनी जगह बनाई.केंद्र सरकार द्वारा जारी एनआईआरएफ (National Institutional Ranking Framework) रैंकिंग में लखनऊ विश्वविद्यालय को 150-200 के रैंक में रखा गया है. लखनऊ विश्वविद्यालय उत्तर प्रदेश का एकमात्र राज्य विश्वविद्यालय है जिसने शिक्षा मंत्रालय द्वारा प्रकाशित प्रतिष्ठित रैंकिंग में स्थान हासिल किया है.

Load More News

More from Other District