Home /News /uttar-pradesh /

UP Vidhan Sabha Chunav: एक हफ्ते बाद कभी भी लागू हो सकती हैं चुनाव आचार संहिता! जानिए कब होगा तारीखों का ऐलान

UP Vidhan Sabha Chunav: एक हफ्ते बाद कभी भी लागू हो सकती हैं चुनाव आचार संहिता! जानिए कब होगा तारीखों का ऐलान

चुनाव आयोग ने कहा कि 5 जनवरी को फाइनल वोटर लिस्ट भी जारी की जाएगी. (File pic)

चुनाव आयोग ने कहा कि 5 जनवरी को फाइनल वोटर लिस्ट भी जारी की जाएगी. (File pic)

UP Assembly Election 2022 News: इससे पहले 2017 में 4 जनवरी को चुनाव की घोषणा हुई थी. 11 फरवरी से 8 मार्च तक सात चरणों में वोटिंग हुई थी. 11 मार्च को नतीजे आये थे. 19 मार्च को योगी आदित्यनाथ ने सीएम पद की शपथ ली थी. 15 मई को विधानसभा की पहली बैठक हुई थी. इस तरह इस साल 14 मई को विधानसभा का कार्यकाल पूरा हो जायेगा.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. कोरोना संक्रमण (Corona Virus) की तीसरी लहर के बीच सभी दलों ने विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) करवाने के लिए हामी भर दी है. यूपी चुनाव को लेकर बहुत अहम समय आ गया है. अब से एक हफ्ते बाद किसी भी दिन यूपी में चुनाव की घोषणा हो सकती है. इसी के साथ प्रदेश में आदर्श आचार संहिता (Code of Conduct) लागू हो जाएगी. जनवरी के दूसरे हफ्ते में यदि आचार संहिता लागू होती है तो ये पिछली बार से एक हफ्ते की देरी से होगी. साल 2017 में 4 जनवरी को चुनाव की घोषणा हो गयी थी. 36 दिनों बाद 11 फरवरी से 8 मार्च तक सात चरणों में वोटिंग हुई थी.

जनवरी के दूसरे हफ्ते में चुनाव की घोषणा के कयास लगाये जा रहे हैं. चर्चा है कि पीएम नरेंद्र मोदी के लखनऊ कार्यक्रम के बाद किसी भी दिन चुनाव आयोग पांच राज्यों में चुनाव की घोषणा कर देगा. पीएम मोदी की लखनऊ में 9 जनवरी को एक विशाल रैली होने वाली है. वे भाजपा की जनविश्वास यात्रा का समापन करेंगे. इसके आगे की किसी रैली की अभी तक कोई सूचना नहीं है. ऐसे में ये लग रहा है कि 9 जनवरी के बाद कभी भी चुनाव की घोषणा हो जायेगी.

जानिए कब तक आ सकते हैं नतीजे
बता दें कि चुनाव की घोषणा से लेकर पहले चरण के मतदान के बीच कम से कम 30 से 35 दिन का समय लग जाता है. इतना टाइम नोटिफिकेशन जारी करने, नामांकन की प्रक्रिया शुरु करने, नामांकन पत्रों की जांच करने और उम्मीदवारों को चुनाव प्रचार करने का समय देने में लग जाता है. इस तरह 4-5 हफ्ते का समय लग जायेगा. इसके बाद वोटों की गिनती और नतीजे जारी करते करते एक हफ्ते का समय और लग जाता है. यानी मार्च का दूसरा हफ्ता तब तक आ जायेगा. 2017 में 11 मार्च को नतीजे आये थे.

यूपी बोर्ड की परीक्षाएं?
संवैधानिक बंधन ये है कि विधानसभा की पहली बैठक 14 मई 2022 तक हो जाये. इस समय सीमा से पहले चुनाव होकर विधानसभा का गठन हो जाना चाहिए. 2017 में 15 मई को विधानसभा की पहली बैठक हुई थी. अब यदि मार्च के दूसरे हफ्ते में सरकार बन जायेगी तो उसके पास 14 मई तक का पर्याप्त समय रहेगा लेकिन ये देरी नहीं की जायेगी. यूपी बोर्ड की परीक्षाएं भी होनी हैं. चुनाव के तुरंत बाद बोर्ड की परीक्षाएं होनी हैं. ऐसे में चुनाव में देरी की संभावना नहीं है. तो तैयार रहिये चुनावी बिगुल सुनने के लिए.

2017 में 4 जनवरी को हुई थी घोषणा
इससे पहले 2017 में 4 जनवरी को चुनाव की घोषणा हुई थी. 11 फरवरी से 8 मार्च तक सात चरणों में वोटिंग हुई थी. 11 मार्च को नतीजे आये थे. 19 मार्च को योगी आदित्यनाथ ने सीएम पद की शपथ ली थी. 15 मई को विधानसभा की पहली बैठक हुई थी. इस तरह इस साल 14 मई को विधानसभा का कार्यकाल पूरा हो जायेगा.

Tags: Bjp government, BSP UP, Election Commission of India, Lucknow news, Priyanka gandhi, Samajwadi party, UP Assembly Election 2022, UP Election 2022, UP news, UP police

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर