लाइव टीवी

रविदास के मंदिर में जाकर निजी स्वार्थ के लिए नाटक कर रही कांग्रेस, BJP और अन्य पार्टियां: मायावती
Lucknow News in Hindi

भाषा
Updated: February 9, 2020, 6:20 PM IST
रविदास के मंदिर में जाकर निजी स्वार्थ के लिए नाटक कर रही कांग्रेस, BJP और अन्य पार्टियां: मायावती
बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने कांग्रेस, भारतीय जनता पार्टी और अन्य पार्टियों करारा हमला किया है. (फाइल फोटो)

बहुजन समाज पार्टी (Bahujan Samaj Party) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती (Mayawati) ने कांग्रेस, भारतीय जनता पार्टी और अन्य पार्टियों पर संत रविदास के मंदिरों में जाकर निजी स्वार्थ के लिए ‘नाटकबाजी करने’ का आरोप लगाया है.

  • Share this:
लखनऊ. बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती (Mayawati) ने रविवार को अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर कांग्रेस (Congress), भारतीय जनता पार्टी (BJP) और अन्य पार्टियों करारा हमला किया है. उन्होंने इन राजनीतिक दलों पर संत रविदास (Sant Ravidas) के मंदिरों में जाकर निजी स्वार्थ के लिए ‘नाटकबाजी करने’ का आरोप लगाया है.

अपनी सरकार होने पर संत रविदास को कभी मान-सम्मान नहीं देतीं थीं ये पार्टियां
संत शिरोमणि रविदासजी की 643वीं जयंती के मौके पर मायावती ने रविवार को किए गए सिलसिलेवार ट्वीट में कहा कि ‘कांग्रेस, भाजपा और अन्य पार्टियां यहां उत्तर प्रदेश में अपनी सरकार होने पर संत गुरु रविदास जी को कभी मान-सम्मान नहीं देतीं, लेकिन सत्ता से बाहर होने पर ये अपने स्वार्थ में उनके मन्दिरों/स्थलों आदि में जाकर कई प्रकार की नाटकबाजी जरूर करती हैं. इनसे सतर्क रहें.’

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में लिखा कि, ‘जबकि यहां बसपा ही एक मात्र ऐसी पार्टी है जिसने अपनी सरकार के समय में संत रविदास को विभिन्न स्तरों पर पूरा-पूरा मान-सम्मान दिया है. उन्हें भी अब विरोधी पार्टियां एक-एक करके खत्म करने में लगी हैं, जो अति निन्दनीय है.’



मायावती का यह बयान ऐसे वक्त आया है, जब कांग्रेस महासचिव और पार्टी की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा संत रविदास जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए वाराणसी पहुंची हैं.

ये भी पढ़ें - 

मंदिर-मस्जिद के लाउडस्पीकर से किया जा रहा है योगी सरकार की योजनाओं का प्रचार

पत्नी ने बेटी को दिया जन्म तो पति ने फोन पर बोला- तलाक, तलाक, तलाक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 9, 2020, 3:50 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर