BJP को हराने नहीं 2022 में UP सीएम बनाने के लिए चुनाव लड़ रही है कांग्रेस: अखिलेश यादव

अखिलेश यादव ने कांग्रेस पर भी निशाना साधते हुए कहा कि इस लोकसभा चुनाव में कांग्रेस का एजेंडा बीजेपी को हराना नहीं है. वे उत्तर प्रदेश में 2022 में मुख्यमंत्री बनाने के लिए काम कर रहे हैं.

News18 Uttar Pradesh
Updated: April 26, 2019, 1:15 PM IST
BJP को हराने नहीं 2022 में UP सीएम बनाने के लिए चुनाव लड़ रही है कांग्रेस: अखिलेश यादव
अखिलेश यादव
News18 Uttar Pradesh
Updated: April 26, 2019, 1:15 PM IST
समाजवादी पार्टी प्रमुख और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि हमने सांप्रदायिक ताकतों को रोकने के लिए राज्य में गठबंधन (समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल) किया है. उन्होंने कहा कि गठबंधन के कारण सपा और बसपा दोनों को राष्ट्रहित में अपनी सीटों की कुर्बानी देनी पड़ी है.

पीटीआई को दिए इंटरव्यू में अखिलेश यादव ने कांग्रेस पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि इस लोकसभा चुनाव में कांग्रेस का एजेंडा बीजेपी को हराना नहीं है. वे उत्तर प्रदेश में 2022 में मुख्यमंत्री बनाने के लिए काम कर रहे हैं. अखिलेश यादव ने एक दिन पहले ही कांग्रेस पर अहंकारी होने और घोखेबाज होने का आरोप लगाया था.

अखिलेश यादव ने कहा कि दोनों पार्टियों ने देश के लिए कुर्बानी दी है. हमने अपनी आधी सीटें सिर्फ इसलिए छोड़ दी है ताकि सांप्रदायिक बीजेपी फिर से सत्ता में न आने पाए.

प्रधानमंत्री मोदी ने हाल ही में कहा था कि 23 मई को नतीजे आने के बाद एसपी-बीएसपी का गठबंधन टूट जाएगा. इस पर अखिलेश ने कहा कि इससे बीजेपी को क्या लेना देना है? वे इतने परेशान क्यों है? उत्तर प्रदेश में हम काफी मजबूत हैं. बीजेपी का अता-पता भी नहीं है. अखिलेश ने दावा किया कि ये जमीनी हकीकत है और बीजेपी गठबंधन से काफी पीछे चल रही है.

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा गठबंधन को महा मिलावट कहने पर अखिलेश ने कहा कि अगर ऐसा है तो फिर 38 पार्टियों से गठबंधन करने वाली बीजेपी को हम क्या कहें. अखिलेश ने कहा कि हम मुख्य मुद्दों पर चुनाव लड़ रहे हैं और जनता को गठबंधन में एक उम्मीद नजर आ रही है.

यह भी पढ़ें-

सियासी दिग्गजों की मौजूदगी के बीच PM मोदी ने वाराणसी से भरा पर्चा
ANALYSIS: डिंपल यादव का मायावती के पैर छूने के पीछे ये है सियासी गणित

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...