Kanpur Encounter: प्रियंका गांधी ने किया सरकार का घेराव, मायावती बोलीं- शर्मनाक
Lucknow News in Hindi

Kanpur Encounter: प्रियंका गांधी ने किया सरकार का घेराव, मायावती बोलीं- शर्मनाक
प्रियंका गांधी ने कहा कि यूपी में कानून व्यवस्था बेहद बिगड़ चुकी है, अपराधी बेखौफ हैं.

प्रियंका गांधी ने कहा कि कानून व्यवस्था का जिम्मा खुद सीएम के पास है. इतनी भयावह घटना के बाद उन्हें सख़्त कार्यवाही करनी चाहिए. कोई भी ढिलाई नहीं होनी चाहिए.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश के कानपुर (Kanpur) में बदमाशों से एनकाउंटर (Encounter) में 8 पुलिसकर्मियों की शहादत और 7 पुलिसकर्मियों के घायल होने के बाद हड़कंप मचा हुआ है. उधर, कांग्रेस पार्टी की प्रियंका गांधी ने प्रदेश सरकार पर हमला बोला है. प्रियंका ने यूपी सरकार को घेरते हुए कहा कि यूपी में कानून व्यवस्था बेहद बिगड़ चुकी है, अपराधी बेखौफ हैं.

प्रियंका गांधी ने किया सरकार का घेराव 
प्रियंका गांधी ने कानपुर एनकाउंटर पर ट्वीट करते हुए लिखा कि बदमाशों को पकड़ने गई पुलिस पर बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी जिसमें यूपी पुलिस के सीओ, एसओ सहित 8 जवान शहीद हो गए. यूपी पुलिस के इन शहीदों के परिजनों के साथ मेरी शोक संवेदनाएं. प्रियंका ने आगे लिखा कि यूपी में कानून व्यवस्था बेहद बिगड़ चुकी है, अपराधी बेखौफ हैं. आमजन व पुलिस तक सुरक्षित नहीं है.






प्रियंका ने लिखा कि कानून व्यवस्था का जिम्मा खुद सीएम के पास है. इतनी भयावह घटना के बाद उन्हें सख़्त कार्यवाही करनी चाहिए. कोई भी ढिलाई नहीं होनी चाहिए.

बसपा सुप्रीमो मायावती ने किया ट्वीट
वहीं प्रियंका गांधी के अलावा बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी ट्वीट करते हुए कहा, 'कानपुर में शातिर अपराधियों द्वारा एक भिड़न्त में डिप्टी एसपी सहित 8 पुलिसकर्मियों की मौत व 7 अन्य के आज तड़के घायल होने की घटना अति-दुःखद, शर्मनाक व दुर्भाग्यपूर्ण.स्पष्ट है कि यूपी सरकार को खासकर कानून-व्यवस्था के मामले में और भी अधिक चुस्त व दुरुस्त होने की जरूरत है.'



मायावती ने अपने ट्वीट में आगे लिखा, 'इस सनसनीखेज घटना के लिए अपराधियों को सरकार को किसी भी कीमत पर छोड़ना नहीं चाहिए, चाहे इसके लिए विशेष अभियान चलाने की जरूरत क्यों न पड़े. सरकार मृतक पुलिस के परिवार को समुचित अनुग्रह राशि के साथ ही परिवार के किसी सदस्य को नौकरी भी दे, बीएसपी की यह मांग है.'

बदमाशों को था गांववालों का समर्थन

उधर यूपी पुलिस पर हमले की ये सबसे बड़ी घटना बताई जा रही है. पता चला है कि गांव में पुलिस पर बदमाशों ने एके-47 से फायरिंग की. मामले में डीजीपी ने कहा कि अभी तक जो सूचना मिली है, उसमें बदमाशों द्वारा सॉफिस्टिकेटेड वेपन का इस्तेमाल किया गया. हमारी फॉरेंसिंक टीमें मौके पर पहुंच गई हैं, जांच के बाद ही इस पर कुछ कहा जा सकता है. डीजीपी ने बताया कि ऐसी भी सूचना मिली है कि विकास दुबे को गांव वालों का भी समर्थन था. वहीं हमले के दौरान आसपास के कई मकानों से भी फायरिंग की सूचना मिली है. फिलहाल हम सभी पहलुओं की जांच कर रहे हैं. इस घटना को हमने चुनौती के रूप में लिया है और हम प्रदेशवासियों को आश्वस्त करना चाहते हैं कि अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई जारी रहेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading