लाइव टीवी

मायावती के आरोपों पर कांग्रेस का पलटवार, कहा- बसपा बताए, उनकी नीति क्या है?

News18Hindi
Updated: January 15, 2019, 1:20 PM IST
मायावती के आरोपों पर कांग्रेस का पलटवार, कहा- बसपा बताए, उनकी नीति क्या है?
बसपा सुप्रीमो मायावती

बता दें मायावती ने अपने जन्मदिन के मौके पर कांग्रेस पर जमकर हमला किया. उन्होंने कहा कि आजादी के बाद से इस देश में सबसे जयादा शासन कांग्रेस ने किया. लेकिन गरीब, पिछड़ा और अल्पसंख्यकों को उनका हिस्सा नहीं मिला.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 15, 2019, 1:20 PM IST
  • Share this:
अपने जन्मदिन के मौके पर बसपा सुप्रीमो मायावती ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. इस पर कांग्रेस ने मायावती के आरोपों पर जवाब देते हुए कहा है कि कोई क्या कहता है, ये उनकी सोच है. साथ ही कांग्रेस ने बसपा से भी इशारों-इशारों में पूछ लिया कि उनकी नीति क्या है? पार्टी ने कहा कि ये उन्हें तय करना है कि लोकसभा चुनाव में किसानों, नौजवानों और देश के गरीब, दलितों के लिये उनकी क्या नीति और योजना है?

लोकसभा चुनाव: राहुल गांधी की तूफानी रैलियों से यूपी कांग्रेस में जोश फूंकने की तैयारी

कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता अंशू अवस्थी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी अपनी नीतियों और जनसेवा के द्वारा ही देश में सबसे ज्यादा सरकार में रहने वाली पार्टी है. कांग्रेस के मूल में किसान, नौजवान, महिलाओं, दलित पिछड़ों और अगड़ी जातियों के गरीबों का सशक्तिकरण कैसे हो रहा है.

बसपा सुप्रीमो मायावती के जन्मदिन पर पहली बार बधाई देने घर पहुंचे अखिलेश यादव

जहां तक किसान की बात है तो भूमि अधिग्रहण बिल और 72000 करोड़ रूपए की कर्जमाफी इस देश के वैश्विक रिकॉर्ड हैं, जो कांग्रेस सरकार ने स्थापित किये हैं. अभी तीन राज्यों राजस्थान, मध्यप्रदेश, और छतीसगढ़ में 68 हजार करोड़ कर्जमाफी कांग्रेस सरकार ने की. यही नहीं स्वामीनाथन आयोग की सिफारिश के अनुसार धान को 2500 रुपए प्रति कुंतल देने का काम शुरू किया है.

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्व में हमने वादा किया है कि 2019 में केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनने के 10 दिनों में किसानों का कर्ज माफ करेंगे और स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को पूरे देश में लागू करेंगे.

यूपी में राहुल गांधी की इस रणनीति में सेंध लगाने की कोशिश में मायावती
Loading...

बता दें मायावती ने अपने जन्मदिन के मौके पर कांग्रेस पर जमकर हमला किया. उन्होंने कहा कि आजादी के बाद से इस देश में सबसे जयादा शासन कांग्रेस ने किया. लेकिन गरीब, पिछड़ा और अल्पसंख्यकों को उनका हिस्सा नहीं मिला. इसी वजह से हमें बसपा का गठन करना पड़ा. हाल के विधानसभा चुनाव परिणाम बीजेपी और कांग्रेस के लिए एक पाठ है.



 

उन्होंने कहा कि तीन राज्यों में जहां कांग्रेस की सरकार बनी है, वहां किसानों की कर्जमाफी को लेकर उंगलियां उठ रही हैं. जमीनी हकीकत यही है कि छोटे किसान आज भी प्राइवेट बैंक महाजनों से लोन ले रहे हैं. किसानों की कर्जमाफी के लिए कोई नीति नहीं है. 70 फ़ीसदी किसान प्राइवेट बैंकों से लोन ले रहे हैं. सरकार को इन किसानों के कर्जमाफी के लिए कदम उठाना चाहिए. अगर सरकार किसानों की मदद करना चाहती है तो उसे स्वामीनाथन आयोग की संस्तुति को लागू करना चाहिए.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsAppअपडेट्स

ये भी पढ़ें: 

मिलकर रहें सपा-बसपा के कार्यकर्ता, यही मेरा बर्थडे गिफ्ट: मायावती

‘मेरा सपना है कि बीएसपी प्रमुख मायावती प्रधानमंत्री बनें’

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 15, 2019, 1:20 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...