लोकसभा चुनाव: यूपी में कांग्रेस का रिटर्न गिफ्ट, सपा-बसपा-RLD के लिए छोड़ी 7 सीटें

यूपी में कांग्रेस ने रिटर्न गिफ्ट के तौर पर सपा-बसपा और आरएलडी के लिए 7 सीटें छोड़ने का ऐलान किया है. साथ ही कांग्रेस ने दो सीटें अपना दल के लिए छोड़ दी हैं.

News18 Uttar Pradesh
Updated: March 17, 2019, 8:52 PM IST
लोकसभा चुनाव: यूपी में कांग्रेस का रिटर्न गिफ्ट, सपा-बसपा-RLD के लिए छोड़ी 7 सीटें
गठबंधन पर पशोपेश में फंसी कांग्रेस (फाइल फोटो)
News18 Uttar Pradesh
Updated: March 17, 2019, 8:52 PM IST
उत्तर प्रदेश में कांग्रेस ने रिटर्न गिफ्ट के तौर पर सपा-बसपा और आरएलडी के लिए 7 सीटें छोड़ने का ऐलान किया है. कांग्रेस के प्रदेश अध्‍यक्ष राज बब्बर ने रविवार को कहा कि कांग्रेस मैनपुरी, कन्नौज, फिरोजाबाद, अखिलेश यादव की सीट (अगर चुनाव लड़ते हैं तो), मायावती की सीट (अगर चुनाव लड़ती हैं तो), अजित सिंह और जयंत चौधरी की सीट पर प्रत्याशी नहीं उतारेगी.

राज बब्बर ने साथ ही कहा कि कांग्रेस कृष्णा पटेल की 'अपना दल पार्टी' को भी गोंडा और पीलीभीत की सीट दे रही है. राज बब्‍बर ने कहा कि हम धन्यवाद देते हैं कि हमारी विचारधारा का सम्मान करते हुए सपा-बसपा गठबंधन ने हमारे लिए 2 सीटें छोड़ी, अमेठी और रायबरेली छोड़ने के गठबंधन के फैसले के बाद अब कांग्रेस ने सपा-बसपा और आरएलडी गठबंधन के लिए यूपी में 7 सीट छोड़ने का ऐलान किया है.

राज बब्बर ने 'जन अधिकार पार्टी' के साथ भी गठबंधन का ऐलान किया है. उन्होंने कहा कि यूपी में 7 सीटों का समझौता हुआ है. पांच सीट झांसी, चंदौली, एटा, बस्ती और एक और सीट पर जन अधिकार पार्टी के सिंबल पर और 2 सीट पर कांग्रेस के सिंबल पर चुनाव लड़ेंगे.



ये भी पढ़ें- 'मैं भी चौकीदार' पर बोलीं मायावती- विनाश काले विपरीत बुद्धि की मिसाल है बीजेपी

वहीं, शिवपाल यादव के साथ गठबंधन पर राज बब्बर ने कहा कि हम ऐसी किसी सीट पर समझौता नहीं करेंगे जिस पर बीजेपी को फायदा हो. राज बब्बर के बयान से साफ है कि कांग्रेस और शिवपाल की पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया का गठबंधन नहीं होगा. इशारो ही इशारों में राज बब्बर ने शिवपाल को बीजेपी का ‘बी’ टीम बता दिया. वहीं, भीम आर्मी चीफ चंद्र शेखर आजाद पर राज बब्बर ने कहा कि अगर वो वाराणसी से लड़ना चाहते हैं तो सभी दलों को फैसला करना होगा.

ये भी पढ़ें- 
लोकसभा चुनाव 2019: यूपी के नाम प्रियंका गांधी की पहली चिट्ठी, कहा- मिलकर बदलें यहां की राजनीति
Loading...

प्रियंका गांधी को स्टीमर से चुनाव प्रचार करने की मिली अनुमति, ये रही शर्त
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...