लखनऊ: विवाद गहराने के बाद देर रात हटाई गयी PETA की होर्डिंग, मौलाना ने जताया था ऐतराज
Lucknow News in Hindi

लखनऊ: विवाद गहराने के बाद देर रात हटाई गयी PETA की होर्डिंग, मौलाना ने जताया था ऐतराज
लखनऊ में कैसरबाग चौराहे पर लगी PETA की होर्डिंग

लखनऊ के कैसरबाग इलाके के प्रमुख चौराहे पर PETA की बकरे की तस्वीर प्रदर्शित कर उस पर लिखे लेख पर ऐतराज़ जताते हुए मौलाना खालिद रशीद ने होर्डिंग को हटाने की मांग की थी.

  • Share this:
लखनऊ. मुसलमानों के सबसे बड़े पर्वो में से एक ईद उल अज़हा (Bakrid) से पहले उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में लगाई गई एक होर्डिंग (Hoarding) पर विवाद गहरा गया है. PETA की ओर से बक़रीद के पर्व से पहले बकरे की तस्वीर लगाकर प्रदर्शित की गई होर्डिंग पर उलेमाओं ने ऐतराज़ जताया. इस मामले पर आपत्ति जताते हुए इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया के अध्यक्ष मौलाना ख़ालिद रशीद फरंगी महली (Maulana Khalid Rasheed Farangi Meheli) ने लखनऊ पुलिस कमिश्नर को ईमेल के ज़रिए पत्र भेजकर विवादित होर्डिंग को हटाने की मांग की है. हालांकि जानकारी के मुताबिक देर रात होर्डिंग को हटा लिया गया है.

धार्मिक जज्बात को ठेस पहुंचाने के मकसद से लगाई गई होर्डिंग: मौलाना

बता दें कि लखनऊ के कैसरबाग इलाके के प्रमुख चौराहे पर PETA की बकरे की तस्वीर प्रदर्शित कर उस पर लिखे लेख पर ऐतराज़ जताते हुए मौलाना खालिद रशीद ने होर्डिंग को हटाने की मांग की. लखनऊ पुलिस कमिश्नर को मेल के ज़रिए भेजे गए पत्र में मौलाना की ओर से कहा गया कि बक़रीद का पर्व आने वाला है. इस मौके पर मुसलमान कुर्बानी करते हैं और इस होर्डिंग से ऐसा प्रतीत हो रहा है कि यह हरकत मुसलमानों के धार्मिक जज़्बात को ठेस पहुंचाने के मकसद से की गई है लिहाज़ा इस होर्डिंग को हटवाया जाए.



होर्डिंग हटाने की मांग
गौरतलब है कि इससे पहले भी इस तरह की होर्डिंग देश की राजधानी दिल्ली में भी देखने को मिली थी, लेकिन अब यह मामला देश के सबसे बड़े सूबे उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ में सामने आया है. ऐसे में इस होर्डिंग को हटाने की और बक़रीद के पर्व पर देश में आपसी सौहार्द बनाये रखने के लिए इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया की ओर से लखनऊ पुलिस प्रशासन को इसकी सूचना देने के साथ यह मांग की गई कि इस विवादित होर्डिंग को हटाया जाए. जिसके बाद होर्डिंग को देर रात ही हटा भी लिया गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज