Corona Crisis: उत्‍तर प्रदेश के पुलिसकर्मियों पर COVID-19 का साया, किए जा रहे क्‍वारंटाइन
Lucknow News in Hindi

Corona Crisis: उत्‍तर प्रदेश के पुलिसकर्मियों पर COVID-19 का साया, किए जा रहे क्‍वारंटाइन
फिरोजाबाद के रामगढ़ थाना प्रभारी सहित 28 पुलिसकर्मी क्वारंटाइन में हैं. (प्रतीकात्मक फोटो)

कोरोना महामारी (Covid-19) के दौरान पुलिसकर्मियों को चोर पकड़ना भी भारी पड़ता दिख रहा है. पुलिसवालों को लगातार क्‍वारंटाइन में जाना पड़ रहा है.

  • Share this:
आगरा. कोरोना महामारी (Covid-19) के दौरान पुलिसकर्मियों को चोर पकड़ना भी भारी पड़ता दिख रहा है. चोर को पकड़ने के बाद आगरा के हरीपर्वत इंस्पेक्टर समेत 4 पुलिसकर्मियों को क्वारंटाइन में जाना पड़ा. पकड़े गए चोर के पॉजिटिव निकलने के बाद पुलिसकर्मियों को क्वारंटाइन किया गया है. दैनिक हिन्दुस्तान की खबर के अनुसार, फिरोजाबाद के रामगढ़ थाने में पुलिस ने एक युवक को पकड़ा था. कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) निकले इस युवक पर लॉकडाउन (Lockdown) के उल्लंघन का आरोप था. उसके बाद थाना प्रभारी सहित 28 पुलिसकर्मी क्वारंटाइन में हैं. वहीं, मथुरा के हॉटस्पॉट इलाके में तैनात कई पुलिसकर्मियों की कोरोना संक्रमण की जांच कराई जा चुकी है. खबर के अनुसार, आगरा पुलिस लाइन में मैस के फॉलोअर के भी कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी मिली है. उसके बाद 84 पुलिसकर्मी सहित 90 लोगों को क्वारंटाइन में भेजा गया है.

पुलिसकर्मी लगातार आ रहे हैं संक्रमण की चपेट में
इस संकट की घड़ी में कोरोना वायरस के संक्रमण की चपेट में पुलिसकर्मी लगातार आ रहे हैं. इससे पहले जानकारी मिली थी कि मध्य प्रदेश के इंदौर शहर के एक थाने के सारे पुलिसकर्मियों को क्वारंटाइन किया गया था. पंजाब में एक पुलिस अधिकारी की कोरोना संक्रमण के कारण मौत हो गई है. इस तरह की तमाम खबरों के बीच कोरोना योद्धा पुलिसकर्मियों को हर दिन मिल रही है. लेकिन फिर भी आम लोगों की जान को बचाने के लिए ये पुलिसकर्मी मैदान में डटे हुए हैं.

पास नहीं फटकने दे रहे हैं!!
पुलिसकर्मी लॉकडाउन उल्लंघन करने वालों को पकड़ने से डर रहे हैं. इसका कारण कई आरोपियों का कोरोना पॉजिटिव निकलना है. बताया जा रहा है कि कई इलाकों में पुलिसकर्मी भीड़ को डंडे के दम पर भगाना चाह रही है. पुलिसकर्मी पास में भी किसी को आने नहीं दे रहे हैं. इस दौरान वो किसी से भी साफ तौर पर दूरी बनाकर अपनी बात बोलने को कह रहे हैं. कोरोना का इस कदर भय है कि पुलिस वांटेड की भी तलाश में दबिश नहीं दे रहे हैं. इसके अलावा किसी को भी थाने की हवालात में नहीं रखा जा रहा है.



पीपीई कीट पहन कर देंगे दबिश
जानकारी मिल रही है कि हाल में यह तय हुआ है कि गंभीर अपराध की स्थिति में पुलिस की टीम पीपीई कीट पहनकर दबिश देगी. पीपीई कीट न होने की स्थित में पुलिस गिरफ्तारी नहीं करेगी. वैसे भी बिना हाथ लगाये किसी अपराधी या आरोपी को पकड़ना संभव नहीं है. इसके अलावा यह लगभग असंभव है कि पुलिस की सूचना पर कोई भी थाने में पहुंचे.

 

ये भी पढ़ें:

कानपुर: फिर एक साथ सामने आए 13 नए केस, अब तक एक पत्रकार सहित 7 पुलिसकर्मी भी क्रमित
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज