बोकारो से 'प्राणवायु' की दूसरी खेप लेकर लखनऊ पहुंची ऑक्सीजन एक्सप्रेस, दूर होगी सांसों की किल्लत

भारतीय रेलवे ऑक्सीजन की ढुलाई के लिए विशेष रेलगाड़ी चला रही है.

भारतीय रेलवे ऑक्सीजन की ढुलाई के लिए विशेष रेलगाड़ी चला रही है.

Oxygen Crisis in Lucknow: जानकारी के मुताबिक चार टैंकर में 60 हजार लीटर लिक्विड ऑक्सीजन लेकर लखनऊ पहुंचे हैं. इससे पहले तीन टैंकर की खेप लखनऊ पहुंची थी. इसके बाद वहीं दूसरी ऑक्सीजन एक्सप्रेस 4 टैंकरों को लेकर बोकारो के लिए लखनऊ से रवाना हुई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 26, 2021, 10:42 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. राजधानी लखनऊ (Lucknow) अस्पतालों में ऑक्सीजन की किल्लत (Oxygen Crisi) को दूर करने के लिए बोकारो से ऑक्सीजन की दूरी खेप लेकर ट्रेन चारबाग स्टेशन पहुंची है. जानकारी के मुताबिक बोकारो से चार टैंकर ऑक्सीजन लेकर ट्रेन आई है. ऑक्सीजन की इस बड़ी खेप के आने से राजधानी में प्राणवायु की किल्लत दूर होने की उम्मीद है. दरअसल, कई अस्पतालों से लगातार अभी भी ख़बरें आ रही हैं कि मरीज के  तीमारदारों को ऑक्सीजन नहीं मिल पा रही है.

रेल मंत्री पियूष गोयल ने ट्वीट कर जानकारी दी कि 'उत्तर प्रदेश में ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करते हुए भारतीय रेल द्वारा बोकारो से चलाई गयी एक और ऑक्सीजन एक्सप्रेस लखनऊ पहुंच चुकी है. निरंतर और समुचित ऑक्सीजन सप्लाई बनाये रखने का कार्य भारतीय रेल पूरी प्रतिबद्धता के साथ कर रही है.

जानकारी के मुताबिक चार टैंकर में 60 हजार लीटर लिक्विड ऑक्सीजन लेकर लखनऊ पहुंचे हैं. इससे पहले तीन टैंकर की खेप लखनऊ पहुंची थी. इसके बाद वहीं दूसरी ऑक्सीजन एक्सप्रेस 4 टैंकरों को लेकर बोकारो के लिए लखनऊ से रवाना हुई थी.  बता दें रेलवे ने इस ऑक्सीजन एक्सप्रेस के लिए विशेष तौर पर ग्रीन कॉरिडोर बनाया है. यानी ट्रेन बिना कहीं रुके सीधे बोकारो पहुंचेगी.

रेलमंत्री खुद कर रहे एक्सप्रेस की निगरानी
बता दें खुद रेल मंत्री पीयूष गोयल इस ऑक्सीजन एक्सप्रेस की निगरानी कर रहे हैं, एक दिन पहले ही उन्होंने बताया था कि ऑक्सीजन एक्सप्रेस दिन में दो बजे बोकारो के स्टील प्लांट से टैंकर में लोडकर लखनऊ के लिए रवाना हुई है. यह ट्रेन उत्तर प्रदेश में ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए रवाना हुई है. इस ट्रेन के जल्दी पहुंचने के लिए ग्रीन कॉरीडोर बनाया गया है. ऑक्सीजन की समुचित सप्लाई के लिए रेलवे निरंतर कार्य कर रहा है. रेलमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का प्रयास है कि सभी कोरोना संक्रमितों तक जल्द से जल्द ऑक्सीजन पहुंचे. बता दें गुरुवार सुबह आठ बजे लखनऊ से रवाना हुई ऑक्सीजन एक्सप्रेस रात दो बजे करीब 18 घंटे में बोकारो पहुंची थी. यहां आद्रा रेलवे मंडल प्रशासन पहले से मुस्तैद था. रात में ही टैंकरों की अनलोडिंग कर उनको स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया (सेल) के प्लांट में ले जाया गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज