अपना शहर चुनें

States

शादी पर भी Coronavirus का खौफ, दूल्हे ने वलीमा किया कैंसिल

Coronavirus के डर बारात में सिर्फ 4 लोग शरीक हुए हैं.
Coronavirus के डर बारात में सिर्फ 4 लोग शरीक हुए हैं.

शादी (marriage) में शरीक होने के लिए घर पहुंचे मेहमानों (Guest) को घर वापस जाने के लिए कह दिया गया है और जिन लोगों को कार्ड (Invitation) भेजा गया था, उन्‍हें फोन कर दावत (Party) में आने का अनुरोध किया जा रहा है.

  • Share this:
लखनऊ (Lucknow) : कोरोना (Coronavirus) के चलते पूरे देश में दहशत है. इसका असर अब शादी-बारातों (marriage) पर भी पड़ने लगा है. लोग अपने घरों में होने वाली शादियों को कोरोना वायरस के चलते कैंसिल कर रहे हैं. ऐसा ही एक मामला राजधानी लखनऊ के बालागंज इलाके में देखने को मिला. जहां पर शरजील नाम के एक व्यक्ति की बारात 21 मार्च को प्रयागराज जानी थी. शादी की सभी तैयारियां पूरी हो चुकी थी. 23 मार्च को लखनऊ में ही वलीमा होना था. जिसके लिए 2000 लोगों को दावत भी दे दी गई थी.

शादी के कार्ड भी बट गए थे और 19 मार्च यानी आज से शादी की रस्में घर पर शुरू होनी थी. जिसके लिए मेहमानों के आने का सिलसिला भी शुरू हो चुका था.. कोरोना के चलते परेशान इस परिवार के मुखिया और शरजील के पिता ने यह फैसला लेते हुए शादी के आयोजन को कैंसिल कर दिया कि कहीं इसके चलते कोरोना का संक्रमण ना फैल जाए. शरजील के पिता ने बताया कि हमने अपनी बहू के घर में भी इस बात की सूचना दे दी है. उनसे भी कहा है कि वह अपने घर पर होने वाले सभी रस्मों रिवाजों को कैंसिल कर दें.

बहुत शिद्दत के साथ हुईं शादी की तैयारियां
उन्‍होंने बहू के परिजनों से भी ज्यादा भीड़-भाड़ ना करने के लिए कहा है. उन्‍होंने बताया कि अब हम महज 4 लोगों के साथ बारात लेकर जा रहे हैं. शरजील थोड़े से मायूस जरूर नजर आते हैं, लेकिन वह भी इस बात को कहते हैं कि मौके की नजाकत इस बात को समझाती है. हमने इसीलिए यह फैसला लिया है. शरजील अपने बारात के लिए सिलवाई गई शेरवानी को दिखाते हुए कहते हैं कि बहुत शिद्दत के साथ शादी की तैयारियां की जा रही थी. आज से घर में शादी की तमाम रस्में होनी थी. बहन दुबई से आ चुकी थी. आसपास के रिश्तेदार भी पहुंच गए थे, लेकिन अब कोरोना के खौफ के चलते सभी फंक्शन रद्द किए जा रहे हैं.
मेहमानों से किया घर वापस जाने का अनुरोध


ज्यादा मेहमानों के आ जाने पर उन्हें वापस जाने को कहा जा रहा है. 23 तारीख को जो वलीमा रखा गया था, उसे भी पूरी तरह कैंसिल कर दिया गया है. मेजिन मेहमानों को शादी का कार्ड दे दिया गया था, उनको फोन करके दावत में ना आने के लिए कहा जा रहा है. शरजील कहते हैं कि अब जब करोना महामारी का रूप ले चुका है तो इससे बचाव का इससे बेहतर कोई और रास्ता नजर नहीं आता था, इसलिए इस तरह का फैसला लिया गया है.

मौके की नजाकत नहीं देती दिल के अरमान पूर करने की इजाजत
शरजील के पिता कहते हैं मेरा इकलौता बेटा था. बहुत सारी ख्वाहिशें थी कि अपने बच्चे की शादी बहुत धूमधाम से करूंगा. अब मौके की नजाकत इस बात की इजाजत नहीं देती, इसलिए पूरी तरह आयोजनों को कैंसिल कर दिया गया है. बहुत सादगी के साथ शादी की जाएगी. वलीमा नहीं रखा गया है और लड़की के घर में भी सारे फंक्शन कैंसिल कर दिए गए हैं.

यह भी पढ़ें:

लखनऊ: ओमप्रकाश राजभर ने की शिवपाल यादव से मुलाकात, 2022 में गठबंधन को लेकर हुई चर्चा

लखनऊ: घंटाघर पर पुलिस से भिड़ीं प्रदर्शनकारी महिलाएं, बोलीं- कोरोना से खतरनाक है CAA-NRC
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज