लाइव टीवी

COVID-19: UP में घर-घर सामान पहुंचाने के लिए 12,133 वाहनों की व्यवस्था की गई
Lucknow News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: March 25, 2020, 8:18 PM IST
COVID-19: UP में घर-घर सामान पहुंचाने के लिए 12,133 वाहनों की व्यवस्था की गई
घर-घर सामान पहुंचाने के लिये ट्रैक्टर, मोबाइल वैन, ई रिक्शा, ठेले आदि सहित कुल 12,133 वाहनों की व्यवस्था दोपहर तीन बजे तक कर ली गई थी. ( फाइल फोटो)

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री हेल्पलाइन (Chief Minister Helpline) की मदद से प्रदेश के 10 हजार से अधिक ग्राम प्रधानों से बात की गयी और उनसे कहा गया कि...

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने बुधवार को वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर ‘लॉकडाउन’ (Lockdown) के दौरान लोगों को परेशानियों से बचाने के लिये घर-घर सामान पहुंचाने (डोर स्टेप डिलीवरी) की तैयारियां की.

अपर मुख्य सचिव सूचना एवं गृह, अवनीश अवस्थी (Avneesh Awasthi) ने बताया, 'मुख्यमंत्री ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर प्रदेश की स्थिति की समीक्षा की. मुख्यमंत्री ने इस बात पर जोर दिया कि इस दौरान लोगों को घरों में आवश्यक वस्तुओं की कमी न हो, इसके लिये उनके घर सामान पहुंचाने की व्यवस्था की जाये. घर-घर सामान पहुंचाने के लिये ट्रैक्टर, मोबाइल वैन, ई रिक्शा, ठेले आदि सहित कुल 12,133 वाहनों की व्यवस्था दोपहर तीन बजे तक कर ली थी.' उन्होंने बताया कि सरकार धार्मिक स्थलों आदि पर सामुदायिक रसोईघर की भी व्यवस्था कर रही है, ताकि इस दौरान गरीब मजदूरों को भोजन उपलब्ध कराया जा सके.

10 हजार से अधिक ग्राम प्रधानों से बात की गयी
उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री हेल्पलाइन की मदद से प्रदेश के 10 हजार से अधिक ग्राम प्रधानों से बात की गयी और उनसे कहा गया कि अगर गांव में कोई भी व्यक्ति विदेश से आया है तो उसे घर में ही रहने को कहें और उसके बारे में स्वास्थ्य विभाग को सूचित करें. अवस्थी ने बताया कि इसके अलावा प्रत्येक जिले में एक जिला नियंत्रण कक्ष भी बनाया जा रहा है.



 पान मसाला और गुटखा की बिक्री पर प्रतिबंध
बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर आज ही उत्तर प्रदेश में पान मसाला और गुटखा की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया गया. सरकार ने प्रदेश में गुटके का निर्माण और भंडारण के साथ वितरण पूरी तरह से प्रतिबंधित कर दिया है. कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए सीएम योगी ने ये फैसला किया है.
सरकार का मानना है कि लोग पान मसाला और गुटखा खाकर सड़कों पर गंदगी करते हैं. खाद्य सुरक्षा अधिनियम की धारा 30/2 के तहत ये फैसला लिया गया है. इस संबंध में आयुक्त खाद्य एवं सुरक्षा की तरफ से आदेश जारी कर दिया गया है.

(इनपुट- भाषा)

ये भी पढ़े- 

Coronavirus: लॉकडाउन में यह काम कर बुरे फंसे पप्पू यादव, दर्ज हुआ केस

कोरोना के मरीजों के इलाज के लिए रामविलास पासवान ने बिहार को दिए एक करोड़ रुपए

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 25, 2020, 8:09 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर