लाइव टीवी

COVID-19: UP की चीनी मिलों में रोज बन रहा करीब 38000 लीटर सेनेटाइजर
Lucknow News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: April 1, 2020, 11:38 AM IST
COVID-19: UP की चीनी मिलों में रोज बन रहा करीब 38000 लीटर सेनेटाइजर
उत्तर प्रदेश की चीनी मिलों में रोजाना हजारों लीटर सेनेटाइजर बनाया जा रहा है.

यूपी में एक ओर जहां हैंड सेनेटाइजर (Hand Sanitizer) की कालाबाजारी को रोकने के लिये प्रशासन द्वारा लगातार छापेमारी की कार्रवाई की जी रही है. वहीं दूसरी तरफ सीएम योगी के निर्देश पर बाजारों में हैंड सेनेटाइजर की कमी को पूरा करने के लिये इन दिनो यूपी की चीनी मिलों में बड़े स्तर पर इथाइल एल्कोहल के साथ हैंड सेनेटाइजर भी बनाया जा रहा है.

  • Share this:
लखनऊ. देश-प्रदेश में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस (COVID-19) को रोकने के लिए भले ही पूरे देश को लाक डाउन (Lockdown) कर दिया गया हो, लेकिन इसके बावजूद कोरोना वायरस का खतरा थमने का नाम नही ले रहा है. ऐसे में कोरोना वायरस के इलाज से बेहतर बचाव की नीति के तहत लोगों को अपने हाथो की साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखने की सलाह दी जा रही है. जिसके चलते अब हैंड सेनेटाइजर (Hand Sanitizer) की भी बाजारों में एक बड़े स्तर पर कमी हो गई है. यूपी में एक ओर जहां हैंड सेनेटाइजर की कालाबाजारी को रोकने के लिये प्रशासन द्वारा लगातार छापेमारी की कार्रवाई की जी रही है. वहीं दूसरी तरफ सीएम योगी के निर्देश पर बाजारों में हैंड सेनेटाइजर की कमी को पूरा करने के लिये इन दिनो यूपी की चीनी मिलों में बड़े स्तर पर इथाइल एल्कोहल के साथ हैंड सेनेटाइजर भी बनाया जा रहा है.

दरअसल, देश-प्रदेश में अब तक हैंड सेनेटाइजर निर्माताओं द्वारा हैंड सेनेटाइजर का उत्पादन आइसो प्रोपाइल एल्कोहल (I.P.A) के जरिये किया जा रहा था. लेकिन इसका उत्पादन आइसो प्रोपाइल एल्कोहल (I.P.A) के अलावा इथाइल एल्कोहल से भी किया जा सकता है. जिसके चलते इन दिनो कोरोना वायरस के कारण हैंड सेनेटाइजर की बढ़ी डिमांड के मुताबिक आइसो प्रोपाइल एल्कोहल (I.P.A) न मिल पाने के चलते बाजार में हैंड सेनेटाइजर की एक बड़ी कमी हो गई.

जिसे पूरा करने के लिये जब कुछ निर्माताओं द्वारा हैंड सेनेटाइजर के उत्पादन के लिये इथाइल एल्कोहल की डिमांड की जाने लगी. तो उनकी इस डिमांड के मुताबिक चीनी मिलों के जरिये न सिर्फ उन्हें इथाइल एल्कोहल मुहैय्या कराई गई. बल्कि सीएम योगी के निर्देश पर हैंड सेनेटाइजर की कमी को पूरा करने के लिये अन्य चीनी मिलों को भी एक बड़े स्तर पर इथाइल एल्कोहल के साथ हैंड सेनेटाइजर भी बनाने के निर्देश जारी कर दिये गये है.



27 चीनी मिलों में हो रहा उत्पादन



न्यूज 18 से बात करते हुए प्रमुख सचिव गन्ना एवं आबकारी संजय आर. भूसरेड्डी ने बताया कि ‘इन दिनों यूपी की 27 चीनी मिलों में बड़े स्तर पर इथाइल एल्कोहल (डिनेचर्ड) बनाया जा रहा है. जिसके जरिये इन 27 चीनी मिलों समेत कुल 42 डिस्टलरी इकाइयों द्वारा यूपी में रोजाना करीब 38 हजार लीटर हैंड सेनेटाइजर बनाया जा रहा है. हमारा लक्ष्य कोरोना वायरस से बचाव के लिये यूपी में रोजाना 60 हजार लीटर हैंड सेनेटाइजर बनाना है. लेकिन इस दौरान पैकेजिंग से जुड़े सामान की कुछ किल्लत सामने आ रही है. जिसे जल्द ही पूरा करके हम आने वाले 2-3 दिनों के भीतर अपने लक्ष्य के तहत सेनेटाइजर का उत्पादन कर यूपी के बाजारों में हैंड सेनेटाइजर की कमी को पूरी तरह से खत्म कर देंगे.’

ये भी पढ़ें:

UP में 25 साल के युवक की कोरोनावायरस से मौत, गोरखपुर में चल रहा था इलाज

बुलंदशहर: संक्रमित मरीज की मां और पत्नी में भी मिला COVID-19

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 1, 2020, 11:36 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading