Home /News /uttar-pradesh /

लखनऊ: KGMU में सफल प्लाज्मा थेरेपी के बाद कोरोना पॉजिटिव डॉक्टर की हार्ट अटैक से मौत

लखनऊ: KGMU में सफल प्लाज्मा थेरेपी के बाद कोरोना पॉजिटिव डॉक्टर की हार्ट अटैक से मौत

हिमाचल में कोरोना के मामले.(कॉन्सेप्ट इमेज)

हिमाचल में कोरोना के मामले.(कॉन्सेप्ट इमेज)

यूपी में पहली बार 26 अप्रैल को केजीएमयू (KGMU) में कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित किसी मरीज का प्लाज्मा पद्धति (Plasma Therapy) से इलाज किया गया था. यह उरई के चिकित्सक थे और उनको प्लाज्मा देने वाली महिला भी कनाडा की एक डॉक्टर है.

अधिक पढ़ें ...
    लखनऊ. उत्तर प्रदेश के लखनऊ (Lucknow) स्थित किंग जॉर्ज मेडिकल विश्वविद्यालय (KGMU) में पहली बार कोरोना संक्रमित व्यक्ति का प्लाज्मा पद्धति से इलाज किया गया था. लेकिन शनिवार शाम को दिल का दौरा पड़ने से उसकी मौत हो गई. हालांकि, उनकी कोरोना संक्रमण (Coronavirus) की दो रिपोर्ट निगेटिव आई थी. प्लाज्मा चढ़ाए जाने वाले रोगी चूंकि बहुत पुराने मधुमेह और उच्च रक्तचाप से ग्रस्त रोगी थे, इसलिए उन्हें निरंतर चिकित्सकों की निगरानी में क्वारंटाइन वार्ड में रखा गया था.

    उत्तर प्रदेश में पहली बार 26 अप्रैल को केजीएमयू में किसी कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज की प्लाज्मा पद्धति से इलाज किया गया था. यह संक्रमित उरई के चिकित्सक थे और उनको प्लाज्मा देने वाली महिला भी कनाडा की एक चिकित्सक है, जो पहले कोरोना वायरस से संक्रमित हुई थीं और केजीएमयू में ही भर्ती थीं.

    केजीएमयू के कुलपति प्रोफेसर एमएलबी भट्ट ने बताया कि '14 दिन बाद मरीज की हालत स्थिर थी. प्लाज्मा पद्धति देने के बाद उनके फेफड़े की स्थिति में काफी सुधार आया था. बाद में उनके पेशाब की नली में संक्रमण हो गया था. उन्होंने बताया कि शनिवार को मृतक की दोनों कोरोना रिपोर्ट भी निगेटिव आयी थी लेकिन शाम पांच बजे के करीब उनको दिल का दौरा पड़ा और चिकित्सकों के प्रयासों के बावजूद उन्हें बचाया नहीं जा सका.

    प्लाज्मा ट्रीटमेंट से आया था सुधार
    केजीएमयू की रक्तब्लड ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन विभाग की अध्यक्ष डॉ. तूलिका चंद्रा ने शनिवार को बताया, '58 वर्षीय कोरोना संक्रमित डॉक्टर की पहली बार प्लाज्मा पद्धति से इलाज किया गया था. उनकी हालत पहले बहुत खराब थी, लेकिन प्लाज्मा पद्धति से इलाज किए जाने के बाद उनके फेफड़ों की स्थिति में काफी सुधार हुआ था. चूंकि वह मधुमेह और उच्च रक्तचाप के पुराने रोगी है इसलिए अभी उन्हें एहतियातन वेंटीलेटर पर रखा गया था. डॉक्टरों की टीम लगातार उन पर नजर रख रही थी और उनकी कोरोना रिपोर्ट भी निगेटिव आई थी. लेकिन दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया.' उन्होंने बताया कि उनके साथ उनकी पत्नी भी कोरोना पॉजिटिव पाई गई थीं, उनकी रिपोर्ट निगेटिव पाए जाने के बाद शनिवार को उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई.

    ये भी पढ़ें: आजमगढ़: दो दिन से लापता दुकानदार का शव मिलने से सनसनी, मृतक की पत्नी मौके से फरार

    आपके शहर से (लखनऊ)

    Tags: Corona, Death Due to Corona, Hospital, Lucknow news, UP news, Uttar pradesh news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर