UP में कोविड केयर फंड की स्थापना, बेसिक शिक्षकों और शिक्षाधिकारियों ने 76 करोड़ का दिया पहला योगदान
Lucknow News in Hindi

UP में कोविड केयर फंड की स्थापना, बेसिक शिक्षकों और शिक्षाधिकारियों ने 76 करोड़ का दिया पहला योगदान
बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी प्रदेश ने प्रदेश भर के बेसिक स्कूलों के शिक्षकों और शिक्षा अधिकारियों की तरफ़ से राहत कोष में 76 करोड़ 14 लाख 55 हज़ार का योगदान दिया.

बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी ने यूपी के बेसिक स्कूलों के शिक्षकों और शिक्षा अधिकारियों की तरफ़ से कोविड केयर राहत कोष में 76 करोड़ 14 लाख 55 हज़ार का योगदान दिया. इस राहत कोष को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने प्रदेश भर के शिक्षकों, शिक्षिकाओं व शिक्षा अधिकारियों का आभार जताया.

  • Share this:
लखनऊ. आमजन के सहयोग से उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) को हर तरह-तरह की आपदा से लड़ने के लिए आत्मनिर्भर बनाने के लिए कोविड केयर फंड (COVID Care Fund) की स्थापना की गई है. शुक्रवार को इस फंड में पहला योगदान प्रदेश के बेसिक शिक्षकों (Basic Teachers) और शिक्षाधिकारियों ने किया. बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी प्रदेश ने प्रदेश भर के बेसिक स्कूलों के शिक्षकों और शिक्षा अधिकारियों की तरफ़ से राहत कोष में 76 करोड़ 14 लाख 55 हज़ार का योगदान दिया. इस राहत कोष को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश भर के शिक्षकों, शिक्षिकाओं व शिक्षा अधिकारियों का आभार जताया.

सीएम ने इस दौरान कहा कि जैसे हम इंसेफसलाइटिस से लड़कर जीते, वैसे ही कोरोना से लड़कर जीतेंगे. यही नहीं हमें आगे की भी चुनौती की तैयारी रखनी है, ताकि इस तरह की किसी भी आपदा से हम अपने प्रदेश के लोगों को पूरी तरह सुरक्षित रख सकें. प्रदेश में लैब और इंफ़्रास्ट्रक्चर को खूब मज़बूत रखना है.
सीएम ने कहा कि यूपी के 23 करोड़ लोगों को हर तरह की आपदा से लड़ने और उनकी हिफ़ाज़त के लिए खुद को पूरी तरह आत्मनिर्भर करना है. उन्होंने कहा कि लॉक डाउन के दौरान बाल विकास पुष्टाहार विभाग बच्चों को घर तक पुष्टाहार पहुंचाएगा. इसके अलावा क्वारेंटाइन किए गए लोग अगर भागते हैं तो डीएम और एसपी की जवाबदेही तय होगी.

हर हाल में पहुंचाई जाए गरीबों को मदद: सीएम



सीएम ने कहा कि लॉक डाउन के दौरान प्रदेश में ज़रूरी सामानों की आपूर्ति करने वाले वाहनों को आने जाने की पूरी छूट है. रिक्शा चालकों, ठेले वाले, पल्लेदारों, खोमचों वालों सभी को राशन व 1000 की मदद हर हाल में जल्द से जल्द पहुंचे.



गाजियाबाद मामले में सख्त हुए सीएम योगी

इसके अलावा सीएम ने ग़ाज़ियाबाद की घटना में कड़ी कार्रवाई के आदेश दिए. सीएम ने कहा कि इंदौर जैसी घटना यूपी में कहीं नहीं दिखनी चाहिए. इसके लिए क़ानूनन जो भी कड़ी से कड़ी कार्रवाई करनी हो वो करिए. उन्होंने कहा कि गाजियाबाद में जिन लोगों ने ये हरकत की, उस प्रवृत्ति के लोगों के साथ पूरी सख़्ती करो और उन्हें क़ानून का पालन कराना सिखाओ.

ये भी पढ़ें:

इंदौर जैसी घटना UP में नहीं दिखनी चाहिए, गाजियाबाद मामले में पूरी सख्ती हो: CM

यूपी के कुशीनगर में क्वारेंटाइन सेंटर से फरार हुए 12 लोग, केस दर्ज
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading