Assembly Banner 2021

सावधान! भीम, पेटीएम व गूगल पे भी नहीं रहा सुरक्षित, इस तरह सेंधमारी कर रहे ठग

सांकेतिक तस्वीर

सांकेतिक तस्वीर

साइबर क्राइम के एसपी सुशील धुले के मुताबिक ये जालसाज पहले शिकार से उसकी मोबाइल फोन पर एक एप डाउनलोड कराते हैं. इसके जरिए गिरोह अकाउंट को लिंक कराने से लेकर स्टेप बाई स्टेप पेमेंट के प्रोसेस तक को भी पूरा कराता है.

  • Share this:
अब तक तो जालसाज क्रेडिट और डेबिट कार्ड के जरिए ही लोगों को चूना लगा रहे थे, लेकिन सबसे सुरक्षित एप कहे जाने वाले भीम, पेटीएम और गूगल पे में भी सेंधमारी हो रही है. उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों की साइबर सेल में पिछले पांच महीनों में इस तरह के 12 से ज्यादा मामले दर्ज हुए हैं. इन जालसाजों के शिकार बने लोगों के लाखों रुपयों पर हाथ साफ़ किया गया है.

ऐसे करते हैं सेंधमारी

साइबर क्राइम के एसपी सुशील धुले के मुताबिक ये जालसाज पहले शिकार से उसकी मोबाइल फोन पर एक एप डाउनलोड कराते हैं. इसके जरिए गिरोह अकाउंट को लिंक कराने से लेकर स्टेप बाई स्टेप पेमेंट के प्रोसेस तक को भी पूरा कराता है. इसके बाद बड़े चालाकी से अपनी यूपीआई आईडी को पैकेज का कूपन बताकर मोबाइल में सेव करा देता है, इसके बाद पैसा ट्रान्सफर करने को कहता है. जैसे ही पैसा ट्रांसफर हुआ व्यक्ति ठगी का शिकार हो जाता है.



ठगी शिकार हुए अदनान की शिकायत पर हुआ खुलासा
सुशील शुले के मुताबिक पिछले दिनों ठगी का शिकार हुए अदनान ने जब साइबर सेल में इसकी शिकायत की तो मामला सामने आया. पुलिस की छानबीन में पता चला कि अदनान का पैसा झारखण्ड के एक खाते में ट्रांसफर हुआ है. खाते की डिटेल पर जानकारी की गई तो पता फर्जी निकला और अकाउंट भी खाली हो चुका था. एसपी के मुताबिक जालसाज लिमिट के मुताबिक एक बार में 20-30 हजार का चूना लगा देते हैं.

स्मार्टफोन यूज़ कर रहे ग्रामीण हो रहे ज्यादा शिकार

सुशील धुले के मुताबिक ग्रामीण क्षेत्रों में स्मार्टफोन उसे करने वाले ग्राहक इस ठगी का ज्यादा शिकार हो रहे हैं. इस मामले में बैंक भी ग्राहक की मदद नहीं कर पाते. उन्होंने बताया कि नाइजेरिया का गिरोह इसमें शामिल है. वह लोगों के फेसबुक अकाउंट से शिकार की तलाश करता है. उन्होंने बताया कि पिछले दिनों यूपी एसटीएफ ने ऐसे ही एक गिरोह का पर्दाफाश कर उसके एक सदस्य को अरेस्ट किया. गिरोह ने लखनऊ के केजीएमयू की एक महिला प्रोफेसर से एक करोड़ रुपए से अधिक की रकम हड़प ली.ये भी पढ़ें: 

UP में सभी प्राइवेट यूनिवर्सिटी के लिए अम्ब्रेला एक्ट, रोकनी होगी राष्ट्रविरोधी गतिविधियां, गरीबों की आधी फीस माफ

'ब्रह्मास्त्र' की शूटिंग अधूरी छोड़ वाराणसी से मुंबई लौटे रणबीर कपूर और आलिया भट्ट, ये रही वजह

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज