Cyclone Yaas Update: पूर्वी यूपी में आज से तेज आंधी और भारी बारिश का अलर्ट, इन जिलों में लोगों से सतर्क रहने की अपील

यास तूफान की वजह से आज पूर्वांचल के कई जिलों में भारी बारिश की चेतावनी

यास तूफान की वजह से आज पूर्वांचल के कई जिलों में भारी बारिश की चेतावनी

Cyclone Yaas Updates: लखनऊ के आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिकों ने कहा है कि चक्रवाती तूफ़ान यास का असर गुरुवार से पूर्वांचल के जिलों में दिखेगा. अनुमान के मुताबिक 27 और 28 मई को प्रदेश के पूर्वी हिस्से में भारी से भारी बारिश (Heavy Rain) हो सकती है.

  • Share this:

लखनऊ. बंगाल की खाड़ी से उठे चक्रवाती तूफान यास (Cyclone Yaas) ओडिशा और पश्चिम बंगाल में तबाही मचाने के बाद बुधवार को उत्तर प्रदेश में दाखिल होगा. मौसम विभाग ने गुरुवार को पूर्वी उत्तर प्रदेश के कई जिलों में तेज रफ़्तार हवाओं के साथ भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. लखनऊ के आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिकों ने कहा है कि चक्रवाती तूफ़ान यास का असर गुरुवार से पूर्वांचल के जिलों में दिखेगा. अनुमान के मुताबिक, 27 और 28 मई को प्रदेश के पूर्वी हिस्से में भारी से भारी बारिश (Heavy Rain) हो सकती है. इसमें पूर्वांचल के साथ-साथ तराई के भी कई जिले शामिल हैं.

बारिश के साथ-साथ इन जिलों में 40 से 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा के चलने का भी अंदेशा जाहिर किया गया है. मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक 27 मई की सुबह से लेकर 28 मई की सुबह तक कुशीनगर, गोरखपुर, देवरिया, बलिया, मऊ और गाजीपुर में भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है. इन जिलों में 50 से 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने का भी अनुमान है.

इन जिलों में हल्की से भारी बारिश का अनुमान

इसके अलावा सिद्धार्थ नगर, बस्ती, महाराजगंज, अंबेडकर नगर, जौनपुर, आजमगढ़, वाराणसी, भदोही, चंदौली, मिर्जापुर और सोनभद्र में हल्की से भारी बारिश का अनुमान लगाया गया है. 28 तारीख की सुबह से लेकर 29 तारीख की सुबह तक जिन जिलों में भारी से बहुत भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. वे जिले हैं - श्रावस्ती, बलरामपुर, गोंडा, सिद्धार्थ नगर, संत कबीर नगर, महाराजगंज, कुशीनगर, गोरखपुर, देवरिया, बलिया, अंबेडकरनगर, आजमगढ़ और मऊ. इसके अलावा इसी दिन बस्ती, अयोध्या, सुल्तानपुर और जौनपुर में हल्की से भारी बारिश का अनुमान है.
लोगों से सतर्क रहने की अपील

मौसम विभाग की चेतावनी के बाद प्रभावित होने वाले जिलों में प्रशासन भी अलर्ट हो गया है. सभी जिलों में कण्ट्रोल रूम बनाया गया है. साथ ही लोगों से इस दौरान सुरक्षित रहने की अपील भी की गई है. लोगों से कहा गया है कि वे पेड़ या टीन शेड के नीचे न रहें. साथ ही आकाशीय बिजली से भी बचने की सलाह दी गई है.

लखनऊ और आस-पास के जिलों में भी दिखेगा असर 



वैसे तूफान का असर लखनऊ और उसके आसपास के जिलों में भी देखने को मिलेगा. लेकिन इन जिलों के लिए फिलहाल मौसम विभाग ने कोई अलर्ट नहीं जारी किया है. यह जरूर है कि मौसम में बदलाव आएगा. बादलों की आवाजाही के साथ बारिश की भी संभावना बनी हुई है. अभी तक के अनुमान के मुताबिक 30 और 31 मई को भी प्रदेश के कई जिलों में हल्की बारिश की संभावना है. उसके बाद की तारीखों के लिए मौसम का अनुमान बाद में जारी किया जाएगा. हालांकि आमतौर पर माना जा रहा है कि 1 जून से मौसम पूरी तरह खुल जाएगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज