• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • EC की रोक के बाद बजरंगबली की शरण में सीएम योगी, जानिए क्या कर रहे आजम, माया और मेनका

EC की रोक के बाद बजरंगबली की शरण में सीएम योगी, जानिए क्या कर रहे आजम, माया और मेनका

फाइल फोटो

फाइल फोटो

मायावती और मेनका गांधी पर लगा प्रतिबंध गुरुवार शाम को ख़त्म होगा तो वहीं योगी आदित्यनाथ और आजम खान पर यह प्रतिबंध 18 अप्रैल की शाम को खत्म होगा.

  • Share this:
चुनाव प्रचार के दौरान भड़काऊ भाषण देने और आचार संहिता उल्लंघन के मामले में दोषी पाए जाने के बाद चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, बसपा सुप्रीमो मायावती, सपा के कद्दावर नेता आजम खान और केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी पर प्रतिबंध लगाया है. योगी आदित्यनाथ और आजम खान के ऊपर 72 घंटे तो मायावती और मेनका गांधी पर 48 घंटे का प्रतिबंध लगाया गया है. इस दौरान ये नेता चुनाव प्रचार से दूर हैं.

मायावती और मेनका गांधी पर लगा प्रतिबंध बुधवार शाम को ख़त्म होगा तो वहीं योगी आदित्यनाथ और आजम खान पर यह प्रतिबंध 18 अप्रैल की शाम को खत्म होगा. इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की गतिविधियां तो मीडिया के सामने दिख रही हैं, लेकिन अन्य नेताओं का कुछ खास पता नहीं चल रहा है.

'जुबानबंदी' के बाद बजरंगबली के शरण में योगी

प्रतिबंध के बाद पहले दिन बुधवार को योगी आदित्यनाथ सुबह-सुबह लखनऊ के हनुमान मंदिर पहुंचे और हनुमान चालीसा का पाठ किया. दरअसल, बजरंगबली और अली के बयान पर ही उन पर प्रतिबंध लगा था. लिहाजा मुख्यमंत्री ने उसे ही अपना हथियार बना लिया. बुधवार को मुख्यमंत्री ने गोरखपुर से बीजेपी प्रत्याशी रवि किशन से मुलाकात की. उसके बाद तीन तलाक पीड़ित महिलाओं से मिले. फिर लखनऊ के मोहान स्थित साकेत स्कूल में दिव्यांग बच्चों के बीच पहुंच गए.

हनुमान मंदिर में पूजा करते योगी आदित्यनाथ


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार को अयोध्या जा रहे हैं. जहां वे हनुमानगढ़ी में पूजा अर्चना और रामलला के दर्शन करेंगे. साथ ही साधु-संतों से भी उनकी मुलाकात का कार्यक्रम है. वे पीएम आवास के लाभार्थी महावीर के घर भी जाएंगे और भोजन करेंगे. अयोध्या से वे बलरामपुर के देवीपाटन मंदिर जाएंगे, जहां पूजा अर्चना के बाद उनका रात्रि विश्राम का भी कार्यक्रम है. बैन के आखिरी दिन गुरुवार को मुख्यमंत्री वाराणसी जाएंगे. वाराणसी में सीएम योगी काशी विश्वनाथ मंदिर और संकटमोचन मंदिर में दर्शन पूजन करेंगे. इसके अलावा वे डोम राजा के दरबार भी जाएंगे.

भतीजे आकाश को किया लॉन्च

उधर मायावती लखनऊ के मॉल एवेन्यू आवास पर मौजूद हैं. बैन के पहले दिन उन्होंने आगरा में गठबंधन की संयुक्त रैली में अपने भतीजे आकाश को लॉन्च किया. बुधवार को भी बसपा की तीन जनसभा होनी है. कन्नौज, कानपुर देहात और फर्रुखाब्द में ये रैलियां प्रस्तावित हैं. कहा जा रहा है कि इनमें से किसी एक जगह वे आकाश को भेज सकती हैं. इसके अलावा वह सभी सियासी ख़बरों पर नजर बनाए हुए हैं. वो 18 अप्रैल को होने वाली अपनी जनसभा की स्क्रिप्ट भी तैयार कर रही हैं.

रामपुर में ही सिमित हुए आजम खान

आजम खान की बात करें तो बैन लागू होने के बाद से ही वो रामपुर स्थित अपने आवास और कार्यालय तक सीमित हैं. उनकी जगह उनके बेटे अब्दुल्ला आजम चुनावी जनसभा की कमान संभाले हुए हैं. आजम गुपचुप तरीके से पार्टी ऑफिस और घर में कार्यकर्ताओं से भी मिल रहे हैं और चुनाव की रणनीति पर मंथन चल रहा है. ऐसा ही कुछ मेनका गांधी के साथ है. वो जनसभा या किसी रैली में तो नहीं जा रही हैं, लेकिन पार्टी पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं से फीडबैक ले रही हैं.

ये भी पढ़ें:

76 की उम्र में 17वीं बार फिर मैदान में मथुरा के फक्कड़ बाबा, 16 बार हो चुकी है जमानत जब्त

आजम के बयान पर आगे आएं अखिलेश यादव और मायावती: केशव प्रसाद मौर्य

नेताओं की बदजुबानी जारी, BSP प्रत्याशी गुड्डू पंडित ने राज बब्बर को जूतों से मारने की खाई कसम

जया प्रदा का आजम खान पर हमला, बोलीं -भाई को भाई कहना गुनाह है तो मैं गुनहगार हूं

क क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स 

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज