लाइव टीवी

रंजीत हत्याकांड: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने जताई चिंता, पुलिस कमिश्नर और डीएम से की बात
Lucknow News in Hindi

Kumari Ranjana | News18 Uttar Pradesh
Updated: February 4, 2020, 9:29 AM IST
रंजीत हत्याकांड: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने जताई चिंता, पुलिस कमिश्नर और डीएम से की बात
राजनाथ सिंह ने हिंदूवादी नेता की हत्या पर जताई चिंता (फाइल फोटो, Getty)

Ranjeet Bachchan Murder: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh) ने लखनऊ के पुलिस कमिश्‍नर सुजीत पांडे से बात की है. उन्‍होंने अब तक की जांच के बारे में भी जानकारी ली.

  • Share this:
लखनऊ. अन्तरराष्ट्रीय हिंदू महासभा के अध्यक्ष रंजीत बच्चन (Ranjeet Bachchan) की रविवार सुबह गोली मारकर हत्या (Murder) कर दी गई थी. इसी क्रम में लखनऊ के सांसद और रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने हिंदूवादी नेता रंजीत हत्याकांड को लेकर चिंता जताई है. रक्षामंत्री इस मामले में अभी तक क्या अपडेट है इसको लेकर पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय और जिलाधिकारी अभिषक प्रकाश से टेलीफोन पर बातचीत की है. दरअसल, राजधानी में 5 फरवरी से डिफेंस एक्सपो का आयोजन होने जा रहा है. ऐसे में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने उसको लेकर भी चर्चा की.

वारदात की शाम को लखनऊ पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज (CCTV) की मदद से दो संदिग्धों का स्केच जारी किया था. संदिग्‍धों के बारे में जानकारी देने वालों को 50 हजार रुपए का इनाम देने की भी घोषणा की गई है. इस बीच हत्यारों की तलाश के लिए पुलिस की छह टीमें लगाई गई हैं. पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने बताया कि शॉल ओढ़े दो संदिग्ध सीसीटीवी फुटेज में दिखे हैं. एक संदिग्ध ने अपना चेहरा भी ढका हुआ है. पुलिस कमिश्नर ने संदिग्धों की सूचना देने वाले को 50 हजार रुपए इनाम देने की घोषणा की है.

बता दें कि मृतक रंजीत बच्चन की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आ गई है. इसके मुताबिक, हमलावरों ने हिंदूवादी नेता की नाक पर बेहद करीब से गोली मारी थी. अत्यधिक खून बहने के कारण उनकी मौत हो गई. सूत्रों के मुताबिक, रिपोर्ट में 9 एमएम की पिस्टल से गोली मारने का संदेह जताया गया है.

कौन थे रंजीत बच्चन?



अंतरराष्‍ट्रीय हिंदू महासभा के अध्यक्ष रंजीत बच्चन भारतेंदु नाट्य एकेडमी से साल 2010 में ग्रेडेड आर्टिस्ट थे. वर्तमान में गुलरहिया के टोला पतरका में निवास करते थे. लगभग 18 वर्ष सामाजिक एवं राजनीतिक क्षेत्र में सक्रिय रहे. वहीं, भारत और भूटान साइकिल यात्रा में दल नायक रहे. उनका नाम लिम्का बुक आफ रिकार्ड में दर्ज हुआ था. उन्होंने भारतीय सोशल वेलफेयर फाउंडेशन गोरखपुर की स्थापना की थी.

ये भी पढ़ें:

सपा सांसद आजम खान के बेटे अब्दुल्ला की बढ़ी मुश्किलें, कोर्ट ने कहा- गिरफ्तार कर हाजिर करो

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 4, 2020, 9:04 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर