लाइव टीवी

UP में अब गाजीपुर को 'गाधिपुरी' करने की उठी मांग, बीजेपी नेता ने डिप्टी सीएम को सौंपा ज्ञापन
Ayodhya News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 28, 2020, 2:57 PM IST
UP में अब गाजीपुर को 'गाधिपुरी' करने की उठी मांग, बीजेपी नेता ने डिप्टी सीएम को सौंपा ज्ञापन
गाजीपुर जिले का नाम बदलने की उठी मांग.

भाजपा नेता के अनुसार गाजीपुर को प्राचीन काल में महर्षि विश्वामित्र के पिता राजा गाधि के नाम पर गाधिपुरी के रूप में जाना जाता था. मुस्लिम आक्रांता मुहम्मद बिन तुगलक के सिपहसालार सैयद मसूद अल हुसैनी ने हिंदू राजा मांधाता को हराकर इस पर कब्जा कर लिया, जिसके बाद यह गाजीपुर हो गया.

  • Share this:
लखनऊ. भारतीय जनता पार्टी (BJP) के प्रदेश सह मीडिया प्रमुख नवीन श्रीवास्तव ने गाजीपुर (Ghazipur) जिले का नाम बदलने की मांग की है. उन्होंने गाजीपुर जिले का नाम गाधिपुरी (Gadhipuri) करने की मांग की है. इसे लेकर नवीन श्रीवास्तव ने डिप्टी सीएम केशव मौर्य (Deputy CM Keshav Prasad Maurya) से मिलकर पत्र भी सौंपा है. भाजपा नेता के अनुसार प्राचीन काल के महर्षि विश्वामित्र के पिता राजा गाधि के नाम से ये गाधिपुरी विख्यात था. मुस्लिम आक्रांता मुहम्मद बिन तुगलक के सिपहसालार सैयद मसूद अल हुसैनी ने हिंदू राजा मांधाता को हराकर इस नगर पर कब्जा कर लिया था. इस जीत के बाद उसे 'गाजी' की उपाधि दी गई और गाधिपुरी का नाम बदलकर गाजीपुर कर दिया गया. मांग है कि उसे पुनः गाधिपुरी नाम से स्थापित किया जाए.

प्रदेश के कई जिलों के बदले नाम
बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकाल संभालने के बाद कई जिलों के नाम बदले हैं. इसके अलावा इसी कतार में प्रदेश के 13 जिले और भी शामिल हैं, जहां स्थानीय लोगों और नेताओं की तरफ से लगातार उन जिलों का नाम बदलकर पुराना गौरव वापस करने की मांग की जा रही है. अब गाजीपुर का प्राचीन गौरव फिर से लौटाने के लिए भाजपा के वरिष्ठ नेता व प्रवक्ता नवीन श्रीवास्तव ने गाजीपुर का नाम गाधिपुरी करने की मांग की है. उन्होंने इस संबंध में प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को अनुरोध पत्र भेजा है.

प्राचीन गौरव लौटाने का अनुरोध



बीजेपी नेता के अनुसार गाधिपुरी का वैभवशाली अतीत रहा है. यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में बीजेपी सरकार बनने के बाद जिस तरह से प्राचीन गौरव और संस्कृति का मान बढ़ाने का काम किया जा रहा है. हमें उम्मीद है कि गाजीपुर को भी अपना पुराना गौरवशाली नाम गाधिपुरी मिलेगा. भाजपा नेता ने बताया कि गाजीपुर को उसका प्राचीन गौरव लौटाने के लिए वह काफी समय से प्रयासरत हैं. इसी संदर्भ में प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य से मिल कर उन्हें गाजीपुर की जनता की भावना से अवगत कराते हुए ये अनुरोध पत्र सौंपा है. हालांकि नाम बदलने की ये सियासत विपक्ष को बिल्कुल रास नहीं आ रही है.

Ghazipur
गाजीपुर का नाम बदलने को लेकर बीजेपी नेता ने दिया ये ज्ञापन


इन शहरों का बदल चुका है नाम
आपको बताते चलें कि योगी सरकार मुगलसराय जिले का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय नगर, इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज किया गया, जबकि देव दीपावली के दिन फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या कर दिया गया. अयोध्या के नामकरण के बाद अब बस्ती जिले का नाम बदलने की तैयारी की जा रही है. जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले का नाम बदलकर वशिष्ठ नगर करने के प्रस्ताव पर विचार किया जा रहा है. जिला प्रशासन ने सरकार को रिपोर्ट भेजी है. जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने बताया है कि बस्ती जिले का नाम बदलने का प्रस्ताव राजस्व बोर्ड को भेजा गया है और नाम बदलने पर एक करोड़ रुपए का खर्च आएगा.

ये भी पढ़ें:

रामलला के साथ उनके पुजारियों के दिन भी बहुरेंगे, ट्रस्ट की बैठक में होगा तय

कोरोना वायरस: सऊदी अरब में उमरा पर रोक, लखनऊ एयरपोर्ट से 128 यात्री लौटाए गए

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अयोध्या से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 28, 2020, 2:10 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

भारत

  • एक्टिव केस

    5,218

     
  • कुल केस

    5,865

     
  • ठीक हुए

    477

     
  • मृत्यु

    169

     
स्रोत: स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार
अपडेटेड: April 09 (05:00 PM)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर

दुनिया

  • एक्टिव केस

    1,151,369

     
  • कुल केस

    1,603,750

    +466
  • ठीक हुए

    356,656

     
  • मृत्यु

    95,725

    +32
स्रोत: जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी, U.S. (www.jhu.edu)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर