Home /News /uttar-pradesh /

शिक्षा विभाग की पहल, अब हर बच्‍चा जाएगा स्‍कूल

शिक्षा विभाग की पहल, अब हर बच्‍चा जाएगा स्‍कूल

सरकार की योजना को जन-जन तक पहुंचाने के लिए शिक्षा महकमा अब बेहद सक्रिय हो गया है। सरकार के साक्षरता अभियान के साथ ही प्रदेश और ब्लॉक स्तर पर भी शिक्षा जगत से जुड़े लोगों की यही कोशिश है कि हर बच्चे को पढ़ने का अधिकार मिले और कोई भी इससे वंचित न रह जाए।

सरकार की योजना को जन-जन तक पहुंचाने के लिए शिक्षा महकमा अब बेहद सक्रिय हो गया है। सरकार के साक्षरता अभियान के साथ ही प्रदेश और ब्लॉक स्तर पर भी शिक्षा जगत से जुड़े लोगों की यही कोशिश है कि हर बच्चे को पढ़ने का अधिकार मिले और कोई भी इससे वंचित न रह जाए।

सरकार की योजना को जन-जन तक पहुंचाने के लिए शिक्षा महकमा अब बेहद सक्रिय हो गया है। सरकार के साक्षरता अभियान के साथ ही प्रदेश और ब्लॉक स्तर पर भी शिक्षा जगत से जुड़े लोगों की यही कोशिश है कि हर बच्चे को पढ़ने का अधिकार मिले और कोई भी इससे वंचित न रह जाए।

अधिक पढ़ें ...
सरकार की योजना को जन-जन तक पहुंचाने के लिए शिक्षा महकमा अब बेहद सक्रिय हो गया है। सरकार के साक्षरता अभियान के साथ ही प्रदेश और ब्लॉक स्तर पर भी शिक्षा जगत से जुड़े लोगों की यही कोशिश है कि हर बच्चे को पढ़ने का अधिकार मिले और कोई भी इससे वंचित न रह जाए।

इसी उद्देश्य के साथ लखनऊ विकास खंड चिनहट में सारे बच्चों के सौ फीसदी नामांकन के लिए स्कूल चलो अभियान की रैली पूर्व माध्यमिक विद्यालय उत्तरधौना चिनहट लखनऊ से छात्र-छात्राओं और अध्यापकों द्वारा मानव श्रृंखला बनाकर जन प्रतिनिधियों तथा अभिभावकों को बच्चों के नामांकन हेतु जागरुक करने के लिए निकाली गई।

इसका प्रतिनिधित्व जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी लखनऊ और खंड शिक्षा अधिकारी चिनहट शिखा शुक्ला के साथ-साथ ग्राम प्रधानों व समस्त संकुल प्रभारियों और शिक्षकों ने किया।

इस समारोह में शपथ ली गई कि 6 से 14 वर्ष के सभी बच्चों का शत प्रतिशत नामांकन तथा उनके विद्यालय में ठहराव को भी सुनिश्चित करने पर बल दिया जाएगा।

चिनहट के खंड शिक्षा अधिकारी शिखा शुक्ला ने कहा कि हमारा उद्देश्य है कि आज हर बच्चा पढ़े और आगे बढ़े। स्कूल जाने वाले बच्चों में भी रैली को लेकर जबरदस्त उत्साह देखने को मिला है। उनका कहना है कि जो बच्चे स्कूल नहीं जा पाते, हम चाहते हैं कि उनके माता-पिता जागरूक हो और उन्हें भी हमारी तरह स्कूल भेजें।

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर