होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /लखनऊ: सरकारी रोक के बावजूद ऑनलाइन क्लासेस चला रहे प्राइवेट स्कूल, DIOS सख्त, दी चेतावनी

लखनऊ: सरकारी रोक के बावजूद ऑनलाइन क्लासेस चला रहे प्राइवेट स्कूल, DIOS सख्त, दी चेतावनी

लखनऊ में रोक के बावजूद ऑनलाइन क्लासेस पर जिला विद्यालय निरीक्षक ने निर्देश जारी किए हैं.

लखनऊ में रोक के बावजूद ऑनलाइन क्लासेस पर जिला विद्यालय निरीक्षक ने निर्देश जारी किए हैं.

Lucknow News:लखनऊ के जिला विद्यालय निरीक्षक ने कहा है कि 20 मई तक सभी स्कूलों को बंद रखने और ऑनलाइन क्लासेज को स्थगित र ...अधिक पढ़ें

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में 20 मई तक सभी स्कूलों को बंद रखने और ऑनलाइन क्लासेज को स्थगित रखने के निर्देश हैं. इसके बाद भी कई प्राइवेट स्कूल मनमानी कर रहे हैं और ऑनलाइन क्लासेस चलाई जा रही हैं. इस बारे में शिकायतों पर सख्त रुख अपनाते हुए लखनऊ के जिला विद्यालय निरीक्षक (DIOS) ने सभी माध्यमिक विद्यालयों (Middle School’s) के लिए निर्देश जारी किए हैं.

इसमें उन्होंने कहा है कि आदेश के बावजूद कई प्राइवेट स्कूल ऑनलाइन क्लासेस ( Online Classes) चला रहे हैं. 20 मई तक सभी स्कूलों को बंद रखने और ऑनलाइन क्लासेज को स्थगित रखने के निर्देश हैं. उन्होंने कहा कि निर्दोषों का पालन नहीं हुआ तो स्कूलों पर सख्त कार्रवाई होगी. कोविड-19 के दिशा-निर्देशों के उल्लंघन के अन्तर्गत कार्यवाही होगी.

जिला विद्यालय निरीक्षक का निर्देश

LKO schools DIOS
जिला विद्यालय निरीक्षक का निर्देश


जिला विद्यालय निरीक्षक का निर्देश, उल्लंघन पर होगा एक्शन
जिला विद्यालय निरीक्षक ने इस संबंध में सभी बोर्डों के स्कूलों के प्रधानाचार्यों, प्रबंधकों को निर्देश भेजा है. इसमें कहा गया है कि शिक्षा विभाग की ओर से 20 मई तक जनपद में ऑनलाइन पठन-पाठन भी स्थगित किए जाने के निर्देश दिए गए हैं. लेकिन कुछ विद्यालयों द्वारा शासनादेश के निर्देर्शो के विपरीत ऑनलाइन पठन-पाठन कार्य कराया जा रहा है, जो खेदजनक है. इसलिए आपको निर्देशित किया जाता है कि शासनादेशों में प्रदत्त निर्देशों का अनुपालन कराना सुनिश्चित करें. दिशा-निर्देशों के उल्लंघन, अवहेलना करने की स्थिति आपके विद्यालय के खिलाफ सुसंगत प्रावधानों के अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी. इसकी पूरी जिम्मेदारी आपकी होगी.

आपके शहर से (लखनऊ)

Tags: Lucknow News Update, Online classes, Online classes in panademic, UP news updates

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें