भाई पर हमले मामले में डॉ कफील खान ने की डीजीपी से मुलाकात

कफील खान ने भाई कासिफ जमील पर जानलेवा हमले में गोरखपुर पुलिस पर लापरवाही बरतने के आरोप लगाए. उन्होंने एसपी सिटी और सीओ गोरखनाथ पर आरोप लगाते हुए डीजीपी से दोनों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की.

News18 Uttar Pradesh
Updated: June 14, 2018, 3:24 PM IST
भाई पर हमले मामले में डॉ कफील खान ने की डीजीपी से मुलाकात
डॉ. कफील खान के भाई कासिफ को इलाज के लखनऊ लाया गया. Photo: ANI
News18 Uttar Pradesh
Updated: June 14, 2018, 3:24 PM IST
गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज हादसे में आरोपों में घिरे विवादित डॉक्टर कफील खान और उनके भाई अदील खान ने गुरुवार को प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह से मुलाकात की. इस दौरान कफील खान ने भाई कासिफ जमील पर जानलेवा हमले में गोरखपुर पुलिस पर लापरवाही बरतने के आरोप लगाए. उन्होंने एसपी सिटी और सीओ गोरखनाथ पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए डीजीपी से दोनों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की.

यह भी पढ़ें: गोरखपुर में डॉ. कफील खान के भाई को बाइक सवार बदमाशों ने मारी गोली

उन्होंने कहा कि घटना के चार दिन बीत गए हैं लेकिन पुलिस अब तक किसी की गिरफ्तारी नहीं कर सकी है, वहीं दावा किया जा रहा था कि 36 घंटे में आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा. उन्होंने डीजीपी से शिकायत की कि मामले में स्थानीय पुलिस ने जानबूझकर 4 घंटे तक उनके भाई के इमरजेंसी ट्रीटमेंट में देरी की.

यह भी पढ़ें: डॉ. कफील खान के भाई कासिफ को इलाज के लिए लखनऊ लाया गया

बता दें पिछले दिनों डॉ कफील के भाई कासिफ को अज्ञात हमलावरों ने गोली मार दी थी. इसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था. यहां तबियत बिगड़ने के बाद उन्हें लखनऊ के केजीएमयू के ट्रॉमा सेंटर रेफर किया गया. अभी उनका इलाज यहीं चल रहा है.  घटना गोरखपुर की कोतवाली थाना के जेपी अस्पताल के पास की है. घायल कासिफ के भाई आदिल ने बताया कि घर लौटते वक्त स्कूटी सवार दो बदमाशों ने उनके भाई पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी. इस दौरान उन्हें तीन गोलियां लगीं. वहीं, कोतवाल घनश्याम तिवारी ने किसी पुरानी रंजिश में गोली मारे जाने की आशंका जताई है.

यह भी पढ़ें: डॉ कफील की जमानत को लेकर सोशल मीडिया में छिड़ी बहस

इस घटना के बाद एक वीडियो भी सामने आया, जिसमें घायल का मेडिकल कराने को लेकर डॉ कफील और स​र्किल ऑफिसर (सीओ) प्रवीण सिंह के बीच नोकझोंक होती दिख रही है. पुलिस अफसरों के हस्तक्षेप से कासिफ को इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया, हालांकि डॉ कफील जबरन अपने भाई को प्राइवेट अस्पताल लेकर चले गए.

(रिपोर्ट: ऋषभ मणि त्रिपाठी)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर