COVID-19 in UP: सीएम योगी का बड़ा फैसला, कक्षा 1 से 12वीं तक के सभी स्कूल 30 अप्रैल तक बंद

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना की रोकथाम को लेकर दिए कई निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना की रोकथाम को लेकर दिए कई निर्देश

Corona Cases in UP: योगी सरकार की ओर से 30 अप्रैल तक सभी कक्षा 1 से 12 तक कोचिंग सेंटर, शिक्षण संस्‍थानों, प्राइवेट, निजी सभी बोर्डो के विद्यालयों को बंद करने का फैसला लिया है. पिछला आदेश 15 अप्रैल तक का था, जिसको अब 15 दिन के लिए और बढ़ाया जा रहा है.

  • Share this:
लखनऊ. सूबे में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) की घातक परिस्थितियों को देखते हुए योगी सरकार (Yogi Government) ने एक बार फिर से राज्‍य भर के कक्षा 1 से 12 तक के शिक्षण संस्‍थानों को 30 अप्रैल तक बंद ही रखने का फैसला लिया है. कोरोना के तय प्रोटोकॉल का पालन कर आवश्यकता पड़ने पर ही स्‍टाफ को बुलाए जाने और पहले से तय परीक्षाओं को कराने की छूट सरकार की ओर से दी जा रही है. मगर छात्र-छात्राओं के आने पर पूरी रोक होगी.

योगी सरकार की ओर से 30 अप्रैल तक सभी कक्षा 1 से 12 तक  कोचिंग सेंटर, शिक्षण संस्‍थानों, प्राइवेट, निजी सभी बोर्डो के विद्यालयों को बंद करने का फैसला लिया है. पिछला आदेश 15 अप्रैल तक का था, जिसको अब 15 दिन के लिए और बढ़ाया जा रहा है. शासन में शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के मुताबिक मुख्‍यमंत्री  योगी आदित्यनाथ की एक बैठक में इस संबंध में फैसला लिया जा चुका है. जिसमें स्‍कूलों और कालेजों को बंद करने के लिए  तारीख 30 अप्रैल की गयी है.

शाम तक जारी होगा आदेश

यह आदेश शाम को शासन की ओर से भी जारी कर दिया  जाएगा. उच्‍च स्‍तरीय शिक्षण संस्‍थानों को खोलने को लेकर विचार किया जा रहा है मगर सूत्र बताते हैं कि उसमें भी कड़े प्रोटोकॉल लागू किए जाएंगे. प्रैक्टिकल व परीक्षाओं के आयोजन और अन्‍य आवश्‍यक कार्यों को लेकर ही छूट दी जाएगी. शनिवार देर रात जिलाधिकारी लखनऊ अभिषेक प्रकाश ने राजधानी लखनऊ के  विद्यालयों में प्रशासनिक कार्यों हेतु स्टाफ तथा ऑनलाइन कक्षाओं के संचालन हेतु अध्यापको के आने की अनुमति दे दी गयी है.जिस बाबत लखनऊ के जिला विद्यालय निरीक्षक ने सोशल मीडिया पर इस बाबत जानकारी दी थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज