लाइव टीवी

विपक्ष समाज-विरोधी राजनीति और नकारात्मकता फैला रहा है: डिप्टी सीएम
Lucknow News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 22, 2019, 2:57 PM IST
विपक्ष समाज-विरोधी राजनीति और नकारात्मकता फैला रहा है: डिप्टी सीएम
विपक्ष समाज-विरोधी राजनीति और नकारात्मकता फैला रहा है (फाइल फोटो)

डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने संभल के सांसद और कानपुर के एक सपा विधायक को भी निशाने पर लिया. उन्होंने कहा कि ऐसे जगहों पर ये लोग दंगाई लोगों के साथ खड़े हैं. वहीं विपक्ष अपनी जिम्मेदारियों से बच रहा है. उन्होंने कहा कि गलतबयानी कर लोगों को उकसाया गया.

  • Share this:
लखनऊ. नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजनशिप (NRC) के विरोध में भड़की हिंसा को लेकर यूपी के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने विपक्ष पर निशाना साथा. रविवार को लखनऊ में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान दिनेश शर्मा ने कहा कि विपक्ष समाज-विरोधी राजनीति कर रहा है और नकारात्मकता फैला रहा है. उन्होंने सीधे सीधे सपा प्रमुख और पूर्व सीएम अखिलेश यादव को कहा कि अखिलेश बताएं कि सीएए को लेकर उनकी आपत्ति क्या है. डिप्टी सीएम ने कहा कि वे
विरोध सीएए (CCA) का करा रहे हैं और बात एनआरसी (NRC) की कर रहे हैं, जो अभी लागू ही नहीं हुआ है. उन्होंने कहा कि हास्यास्पद वक्तव्य है अखिलेश यादव का.

 बाहरी लोगों ने फैलाई हिंसा 

डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने संभल के सांसद और कानपुर के एक सपा विधायक को भी निशाने पर लिया. उन्होंने कहा कि ऐसे जगहों पर ये लोग दंगाई लोगों के साथ खड़े हैं. वहीं विपक्ष अपनी जिम्मेदारियों से बच रहा है. उन्होंने कहा कि गलतबयानी कर लोगों को उकसाया गया. डिप्टी सीएम ने कहा कि लोगों से पूछताछ और जो पकड़े गए हैं उसके आधार पर पापुलर फ्रंड आफ इंडिया के लोगों का हाथ नजर आ रहा है. बाहरी लोग आकर हिंसा फैला रहे हैं.

 हिंदू- मुस्लिम दोनों हमारे 

शांति व्यवस्था कायम करने को लेकर सरकार कोई भी समझौता नहीं सकती. उन्होंने कहा कि सूबे में 124 अभियोग पंजीकृत किये गये हैं. एक भी मुस्लिम बंधुओं का कोई भी नुकसान नहीं होने वाला है.
सोशल मीडिया में जो लोग भी भ्रम फैला रहे हैं, उसको चिन्हित किया जा रहा. कांग्रेस के नेता भी उन्माद फैलाने वाला बयान दे रहे हैं, जबकि नागरिक संशोधन अधिनियम किसी व्यक्ति के खिलाफ नहीं है. हिंदू भी हमारे हैं मुस्लिम भी हमारे हैं. उन्होंने कहा कि मेरा आरोप है कि पीएफआई का संबंध विदेश से है.नुकसान की होगी भरपाई 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा दिए गए बयान पर डिप्टी सीएम ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का मत है कि राजकीय संपत्ति का जो नुकसान होता है उसकी भरपाई नुकसान करने वालों से किया जाए. उन्होंने कहा कि सरकार का निर्देश है कि एक भी निर्दोष के खिलाफ कार्रवाई नहीं होगी, लेकिन दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा. घटनास्थल से प्रतिबंधित किस्म के तमंचे और खोखे बरामद हुए हैं, जिनकी संख्या 500 के करीब है.

टीएमसी नेताओं को इजाजत नहीं
बंगाली भाषा में लिखे गए पर्चे और रिकार्डिंग भी मिली है. लखनऊ की घटना में 6 लोग माल्दा के पकड़े गए हैं. टीएमसी के लोग अगर शांतिपूर्वक आएं कोई बात नहीं लेकिन बंगाल में जो बवाल चल रहा है वैसा कुछ होता है तो उसकी इजाजत नहीं दी जाएगी.

ये भी पढ़ें:

CAA Protest: लखनऊ आने की तैयारी में TMC नेताओं को नहीं मिली इजाजत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 22, 2019, 2:56 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर