लाइव टीवी

COVID-19: लखनऊ के इस स्कूल ने शुरू की 'ई-लर्निंग' क्लास, स्‍टूडेंट बोले- कोरोना से जीतेंगे जंग
Lucknow News in Hindi

NAVEEN LAL SURI | News18Hindi
Updated: March 24, 2020, 7:34 PM IST
COVID-19: लखनऊ के इस स्कूल ने शुरू की 'ई-लर्निंग' क्लास, स्‍टूडेंट बोले- कोरोना से जीतेंगे जंग
लखनऊ के इस स्कूल ने शुरू की 'ई-लर्निंग' क्लास

सीएमएस के संस्थापक डा. जगदीश गांधी ने भी छात्रों का आह्वान किया है कि सभी छात्र घर पर रहकर अपनी पढ़ाई को जारी रखें व समय का सदुपयोग करें. डा. गांधी ने अभिभावकों से भी अपील की है कि वे छात्रों का उत्साहवर्धन करते रहें.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 24, 2020, 7:34 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. देशभर में फैल रहे कोरोना वायरस (coronavirus) के बढ़ते मामलों के मद्देनजर योगी सरकार ने सभी स्कूल-कॉलेज बंद (School Colleges Closed) 2 अप्रैल तक बंद करने का फैसला किया है. इस कड़ी में राजधानी लखनऊ के सिटी मांटेसरी स्कूल (CMS) ने छात्रों की पढ़ाई के नुकसान को देखते हुए 'ई-लर्निंग' का रास्ता अपनाया है. जिसके माध्यम से छात्र अपनी पढ़ाई जारी रख सकते हैं. गूगल इंकार्पोरेशन के सहयोग से सीएमएस. ‘गूगल क्लासरूम प्लेटफार्म’ का उपयोग कर रहा है. जहां सीएमएस के टीचर छात्रों के कोर्स से सम्बन्धित शैक्षिक सामग्री एवं असाइनमेंट पोस्ट कर रहे हैं.

शिक्षकों को दिया गया 'गूगल क्लासरूम' का प्रशिक्षण 

इसके माध्यम से छात्र अपनी शैक्षिक जिज्ञासाओं का समाधान कर सकते हैं और अपनी पढ़ाई को जारी रख सकते हैं. गूगल क्लासरूम, छात्रों व शिक्षकों दोनो के लिए बेहद आसान है. इसके माध्यम से डेस्कटाॅप, लैपटाॅप, टैबलेट और यहाँ तक कि मोबाइल पर भी पढ़ाई की जा सकती है. इसके लिए प्रत्येक छात्र एवं शिक्षक को ईमेल आईडी प्रदान की गई है, जिसके द्वारा गूगल क्लासरूम पर लाॅगिन किया जा सकता है. सीएमएस के जन-सम्पर्क अधिकारी ऋषि खन्ना ने न्यूज18 से बातचीत में बताया कि स्कूल बंद होने की आशंकाओं का देखते हुए शिक्षकों को गूगल क्लासरूम का प्रशिक्षण प्रदान किया गया था.

 ट्यूटोरियल वीडियो से मिली मदद



इसके अलावा, छात्रों व शिक्षकों की सुविधा हेतु गूगल क्लासरूम प्लेटफार्म पर ट्यूटोरियल वीडियो भी उपलब्ध है. खन्ना ने बताया कि ई-लर्निंग के माध्यम से छात्रों को शिक्षा प्रदान करने के प्रयासों को अभिभावकों द्वारा बहुत ही सराहा जा रहा है. सीएमएस गोमती नगर कैंपस की कक्षा-3 की छात्रा अनन्या वर्मा ने कहा कि ई-लर्निंग के माध्यम से अनन्या अपने शिक्षकों से लगातार शिक्षा प्राप्त कर रही हूं. इसके अलावा, उसने गूगल क्लासरूम का उपयोग करना भी बहुत अच्छी तरह से सीख लिया है.

कोरोना को हराना है

कक्षा-5 की छात्रा अन्विता अरोड़ा ने कहा कि स्कूल बंद होने के बावजूद ई-लर्निंग के जरिए पढ़ाई करके अपने समय का सदुपयोग कर रहे है. शुरूआत में गूगल क्लासरूम का उपयोग करने में थोड़ी कठिनाई हुई थी परन्तु अब वह बड़ी आसानी से पढ़ाई कर रही हूं, साथ ही साथ, शिक्षकों द्वारा दिये गये असाइनमेन्ट को भी पूरा कर करने का प्रयास है. अन्विता कहती हैं कि कोरोना को हराना है.

ऑनलाइन शिक्षा सर्वश्रेष्ठ विकल्प

सीएमएस की प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गांधी किंगडन ने कहा कि कोरोना वायरस के दुष्प्रभावों को रोकने हेतु सामाजिक दूरी बनाये रखना ही सबसे सुरक्षित उपाय है. ऐसे में, छात्रों को ऑनलाइन शिक्षा उपलब्ध कराना सर्वश्रेष्ठ विकल्प है. जिससे स्कूल बंद होने के बावजूद उनका नुकसान नहीं होगा. सीएमएस के संस्थापक डा. जगदीश गांधी ने भी छात्रों का आह्वान किया है कि सभी छात्र घर पर रहकर अपनी पढ़ाई को जारी रखें व समय का सदुपयोग करें.

डा. गांधी ने अभिभावकों से भी अपील की है कि वे छात्रों का उत्साहवर्धन करते रहें और उन्हें पढ़ाई, खेलकूद व व्यायाम के प्रति जागरूक रखें, साथ ही कोरोना वायरस के खतरों के प्रति भी छात्रों व किशोरों का जागरूक करें.

ये भी पढे़ं:

COVID-19 Lock Down: दिल्ली से कंटेनर में छिपकर आ रहे 60 लोगों को कानपुर पुलिस ने पकड़ा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 24, 2020, 7:34 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर