देशभर में मनाया जा रहा है ईद-उल-अजहा का त्यौहार, नमाज के साथ लखनऊ में शुरू हुआ celebration
Lucknow News in Hindi

देशभर में मनाया जा रहा है ईद-उल-अजहा का त्यौहार, नमाज के साथ लखनऊ में शुरू हुआ celebration
प्रतीकात्मक तस्वीर

बकरीद के मौके पर ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली की मुसलमानों से अपील की है कि अपने कुर्बानी के बजट का 10 फ़ीसदी केरल बाढ़ पीड़ितों को दें. साथ ही उन्होंने कहा है कि प्रतिबंधित जानवरों की कुर्बानी ना की जाए.

  • Share this:
देश भर में ईद उल अजहा (बकरीद) का त्यौहार धूमधाम से मनाया जा रहा है. ये त्यौहार कुर्बानी और आपसी सौहार्द का संदेश देता है. उत्तर प्रदेश में बकरीद के मौके पर बुधवार को लखनऊ की मस्जिदों में नमाज अदा की जा रही है. सुबह टीले वाली मस्जिद पर 9 बजे नमाज अदा होने के बाद शहर की प्रमुख ऐशबाग ईदगाह में 10 बजे नमाज पढ़ी जाएगी.

इसके बाद आसिफी इमामबाड़े में सुबह 11 बजे नमाज अदा की जाएगी. बकरीद के मौके पर ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली की मुसलमानों से अपील की है कि अपने कुर्बानी के बजट का 10 फ़ीसदी केरल बाढ़ पीड़ितों को दें. साथ ही उन्होंने कहा है कि प्रतिबंधित जानवरों की कुर्बानी ना की जाए. गाय की कहीं पर भी कुर्बानी न हो. साथ ही मौलाना ने कहा है कि कुर्बानी का वीडियो या फोटो सोशल मीडिया पर ना डालें. उन्होंने कहा कि आपसी सौहार्द को बनाए रखने की हम सब की जिम्मेदारी है. बड़े जानवरों की स्लॉटर हाउस में कुर्बानी होगी.

उधर शहर में नमाज के मद्देनजर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. पुराने शहर में कई जगह रूट डाइवर्ट किया गया है, वहीं कई सड़कों पर ट्रैफिक नियंत्रण के लिए बैरिकेट्स लगाई गई हैं. सुबह से ही मस्जिदों, ईदगाह में नमाज पढ़ने के लिए लोगों के आने का सिलसिला शुरू हो गया है.



(रिपोर्ट: मोहम्मद शबाब)
ये भी पढ़ें: 

इलाहाबाद हाईकोर्ट: पश्चिमी यूपी में हिंदू अदालतों के गठन पर सरकार से जवाब-तलब

यूपी में अटलजी के 16 अस्थि कलश 24 अगस्त को विसर्जन के लिए होंगे रवाना, ये है कार्यक्रम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading