यूपी पुलिस की किरकिरी: चार दिन बाद भी गिरफ्त से दूर हैं बुलंदशहर हिंसा के मुख्य आरोपी

बुलंदशहर हिंसा के मामले में पुलिस ने अभी तक चार लोगों को गिरफ्तार किया है. हिंसा के बाद 27 नामजद और 60 अज्ञात के खिलाफ दो एफआईआर दर्ज की गई है. लेकिन बड़ा सवाल यह है कि जो मुख्य आरोपी हैं, वह अभी भी फरार हैं.

Amit Tiwari | News18 Uttar Pradesh
Updated: December 7, 2018, 12:22 PM IST
यूपी पुलिस की किरकिरी: चार दिन बाद भी गिरफ्त से दूर हैं बुलंदशहर हिंसा के मुख्य आरोपी
बुलंदशहर हिंसा के बाद अधिकारियों से जायजा लेते एडीजी मेरठ जोन प्रशांत कुमार
Amit Tiwari
Amit Tiwari | News18 Uttar Pradesh
Updated: December 7, 2018, 12:22 PM IST
बुलंदशहर हिंसा के चार दिन बाद भी मुख्य आरोपी बजरंगदल के संयोजक योगेश राज की गिरफ्तारी ने होने से यूपी की एनकाउंटर पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े हो रहे हैं. यूपी पुलिस के लिए यह और भी शर्मनाक है कि सर्विलांस के बावजूद आरोपी एक के बाद एक वीडियो जारी कर खुद को निर्दोष और पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाने से नहीं चूक रहे. मुख्य आरोपियों की गिरफ्तारी न होना यूपी पुलिस के लिए जहां एक चुनौती है वहीं उसे शर्मिंदगी का भी सामना करना पड़ रहा है.

मुख्य आरोपी अभी भी पकड़ से दूर

मामले में पुलिस ने अभी तक चार लोगों को गिरफ्तार किया है. हिंसा के बाद 27 नामजद और 60 अज्ञात के खिलाफ दो एफआईआर दर्ज की गई है. लेकिन बड़ा सवाल यह है कि जो मुख्य आरोपी हैं, वह अभी भी फरार हैं. योगेश राज के साथ ही बीजेपी युवा मोर्चा का नेता शिखर अग्रवाल भी अभी तक नहीं पकड़ा जा सका है. जबकि दोनों ही आरोपी अपने वीडियो जारी कर चुके हैं. उधर एक अन्य आरोपी जीतू फौजी, जिसपर इंस्पेक्टर सुबोध की हत्या का आरोप है वह भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है. कहा जा रहा है कि वह जम्मू भाग गया है.

बुलंदशहर हिंसा: सीएम योगी ने जताई नाराजगी, घटना को बताया बड़े षड्यंत्र का हिस्सा

हालांकि पूरे मामले में पुलिस के आला अधिकारी चुप्पी साधे हुए हैं उनका कहना है कि आरोपियों की तलाश के लिए टीमें बना दी गई हैं. उन्हें पकड़ने के लिए जगह-जगह दबिश दी जा रही है.

सपा ने पुलिस पर खड़े किए सवाल

समाजवादी पार्टी का कहना है कि यह वही यूपी पुलिस है जो लगातार एनकाउंटर कर रही है, लेकिन इस मामले में उसके हाथ खाली है. सपा का आरोप है कि आरोपी हिंदूवादी संगठन से जुड़ा है लिहाजा पुलिस भी खामोश है. समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता डॉ अनुराग भदौरिया ने कहा कि पुलिस एनकाउंटर कर अपना पीठ थपथपा रही है. लेकिन इस मामले में उसके हाथ क्यों खाली हैं. उन्होंने कहा कि मामला हिंदूवादी संगठन से जुड़ा है इसलिए कोई कार्रवाई नहीं हो रही है. एनकाउंटर करने वाली पुलिस उसे खोज नहीं पा रही है.
Loading...

ये भी पढ़ें:

बुलंदशहरः FIR में शामिल 28 लोगों में से 8 दक्षिणपंथी संगठन से, सभी बेरोजगार

बुलंदशहर हिंसा: 7 के खिलाफ गोकशी का मामला दर्ज, आरोपियों में 2 नाबालिग

बुलंदशहर हिंसा और इंस्पेक्टर की हत्या में BJP सरकार की गलत नीतियां जिम्मेदार- मायावती

बुलंदशहर हिंसा: जानिए क्या है इंस्पेक्टर की मौत का अखलाक मॉब लिंचिंग से कनेक्शन?

बुलंदशहर हिंसा: जानिए यूपी में कब-कब भीड़तंत्र के हमले का शिकार हुई खाकी

योगी के मंत्री बोले, बुलंदशहर हिंसा के लिए बजरंगदल और वीएचपी जिम्मेदार

बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर की हत्या में बजरंग दल, बीजेपी, वीएचपी वर्कर्स पर FIR

इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह को नम आंखों से दी गई विदाई, बड़े बेटे ने दी मुखाग्नि
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->