Home /News /uttar-pradesh /

Explained: प्रियंका गांधी की पॉलिटिक्स के चलते क्या राजनीतिक दलों को बदलनी पड़ेगी अपनी रणनीति!

Explained: प्रियंका गांधी की पॉलिटिक्स के चलते क्या राजनीतिक दलों को बदलनी पड़ेगी अपनी रणनीति!

वाराणसी में रैली के दौरान प्रियंका गांधी वाड्रा

वाराणसी में रैली के दौरान प्रियंका गांधी वाड्रा

आपके लिए इसका मतलब: उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले योगी आदित्यनाथ सरकार के खिलाफ सड़क से लेकर सोशल मीडिया तक कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने मोर्चा खोला, तो प्रदेश की सियासत में मची हलचल. न सिर्फ बीजेपी, बल्कि सपा और बसपा के नेता भी बेचैन हो गए हैं.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार के खिलाफ सड़क से लेकर सोशल मीडिया और जनसभाओं में कई मोर्चे खोल दिए हैं . प्रियंका की बढ़ती सक्रियता से यूपी में सिर्फ बीजेपी ही परेशान नहीं है बल्कि विपक्षी दल हलकान हैं. गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस 30 साल से सत्ता से बाहर है. और अब 2022 का लक्ष्य हासिल करने के लिए प्रियंका गांधी ने पुराने चेहरों को साइडलाइन कर अपनी पसंद की टीम तैयार की और उसके बाद बीजेपी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. सूबे के तमाम मुद्दों पर प्रियंका यूपी सरकार पर हमलावर हैं. कांग्रेस की ये सक्रियता बीजेपी के साथ ही सपा और बसपा के लिए भी बेचैनी लेकर आई है.

वरिष्ठ पत्रकार अनिल भारद्वाज कहते हैं कि कांग्रेस प्रदेश में जमीनी स्तर पर अभी इतनी मजबूत नहीं हो पाई है कि अपने दम पर सत्ता हासिल कर सके. उधर बसपा प्रमुख मायावती बीजेपी के प्रति नरम रुख अख्तियार किए हुए हैं. इसीलिए उनके साइड हो जाने के बाद सूबे में राजनीति योगी बनाम अखिलेश के तौर पर देखी जा रही है. ऐसे में योगी आदित्यनाथ यही चाहेंगे कि बीजेपी और योगी विरोधी वोट किसी एक विपक्षी दल के साथ न जुड़ पाएं . लेकिन विपक्षी दल अगर अपनी रणनीति बदल दें तो बीजेपी को यह दांव महंगा पड़ सकता है, क्योंकि शहरी क्षेत्रों में सपा-बसपा का आधार नहीं है, बल्कि बीजेपी और कांग्रेस का है. ऐसे में अगर मुस्लिम-ब्राह्मण और एंटी बीजेपी वोट एकजुट हुआ, तो बीजेपी को बड़ा झटका लग सकता है.

2017 में कांग्रेस को मिली थीं 7 सीटें

Tags: Bjp government, BSP UP, Congress Committee, Priyanka Gandhi UP tour, Samajwadi party, UP Election 2022

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर