गरीब ब्राह्मणाें का बीमा वाले बयान पर बीजेपी नेता की सफाई- ये मेरा निजी मत, राजनीति में नासमझ नहीं हूं
Lucknow News in Hindi

गरीब ब्राह्मणाें का बीमा वाले बयान पर बीजेपी नेता की सफाई- ये मेरा निजी मत, राजनीति में नासमझ नहीं हूं
बीजेपी नेता और पूर्व एमएलसी उमेश द्विवेदी

बीजेपी नेता उमेश द्विवेदी (BJP Leader UMesh Dwivedi) ने कहा था कि सरकार गरीब ब्राह्मणों के लिए मेडिकल इंश्योरेंस की व्यवस्था करने जा रही है. वहीं अब सफाई दी है कि ये उनका निजी बयान है. वह ब्राहमणों के संगठन के माध्यम से समाज के हित में काम करेंगे.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश में ब्राह्मणों पर हो रही राजनीति (Brahmin Politics) को देखते हुए पूर्व एमएलसी उमेश द्विवेदी (Fommer MLC Umesh Dwivedi) के बयान पर भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने कोई बयान जारी नहीं किया लेकिन उमेश द्विवेदी ने न्यूज 18 से बातचीत में कहा है कि बयान उनका निजी मत था. वे चाहते हैं कि कुछ ब्राह्मण संगठन मिलकर ब्राह्मणों की भलाई का काम करें. उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी हो या बहुजन समाज पार्टी ये सभी राजनीति करती हैं. बसपा सुप्रीमो की पार्टी का नारा कोई ब्राह्मण भूला नहीं है, वहीं समाजवादी पार्टी जब सरकार मे थी तो उसे ब्राह्मणों की कोई चिंता नहीं थी, अब वो हितैषी बनी नजर आ रही है.

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष का आया था फोन

पूर्व एमएलसी उमेश द्विवेदी ने कहा कि बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह का फोन आया था. मैंने उनको भी बोल दिया है कि यह मेरा निजी बयान है और बीजेपी का इस बयान से कोई लेना-देना नहीं है क्योंकि पार्टी सबका साथ, सबका विकास  की नीति पर चलती है. उमेश द्विवेदी ने कहा कि मैं राजनीति में इतना नासमझ नहीं हूं. हर तरह के जातीय संगठन काम कर रहे हैं. हम भी संगठन के माध्यम से ही ब्राह्मण हित मे काम करने की बात कर रहे हैं.



ये दिया था बयान
गौरतलब है कि बीजेपी के नेता उमेश द्विवेदी ने कहा था कि सरकार गरीब ब्राह्मणों के लिए मेडिकल इंश्योरेंस की व्यवस्था करने जा रही है. उन्होंने कहा है कि इस संबंध में प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है. उधर, समाजवादी पार्टी के नेता अभिषेक मिश्रा ने इस ऐलान का स्वागत करते हुए तंज किया कि कहीं ये भी जुमला न साबित हो जाए.

बयान पर मायावती ने किया था ट्वीट



वहीं मामले में बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी ट्वीट किया था कि यूपी भाजपा सरकार द्वारा गरीब ब्राह्मणों का बीमा कराने की बात इस वर्ग के प्रति केवल अपनी कमियों पर पर्दा डालने के लिए ही लगता है, जबकि ब्राह्मण समाज को वास्तव में बीमा से पहले उन्हें सरकार से अपने मान-सम्मान व पूरी सुरक्षा की गारंटी चाहिए. सरकार इस ओर ध्यान दे तो बेहतर है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading