Home /News /uttar-pradesh /

पासपोर्ट विवाद की पूरी कहानी, 'चश्मदीद' कुलदीप सिंह की जुबानी

पासपोर्ट विवाद की पूरी कहानी, 'चश्मदीद' कुलदीप सिंह की जुबानी

कुलदीप सिंह ने बताया कि डॉक्यूमेंट में झोल था, लिहाजा विकास मिश्रा ने एपीओ केबिन में मामले को रेफर करा दिया. दस मिनट बाद ही उनके पति का टोकन एनाउंस हुआ. वो पासपोर्ट रिन्यू करवाने आए थे.

    अनस-तन्वी पासपोर्ट मामले में रोज नए मोड़ आ रहे हैं. मामले में खुद को चश्मदीद गवाह बताने वाले कुलदीप सिंह ने आरोप लगाया है कि उनका शनिवार को अपहरण कर लिया गया. किडनैपर्स उसे लखीमपुर के रास्ते नेपाल ले जाना चाह रहे थे, लेकिन वह किसी तरह उनके चंगुल से बच निकला और सीधे पुलिस के पास पहुंच गया. पुलिस मामले में जांच कर रही है. इस दौरान कुलदीप सिंह ने अनस-तन्वी पासपोर्ट मामले में कई चौंकाने वाली जानकारियां दी हैं. कुलदीप के अनुसार जिस समय अनस और तन्वी पासपोर्ट के लिए दफ्तर पहुंचे थे, वह भी पासपोर्ट संबंधित काम के लिए वहां मौजूद था. तन्वी के डॉक्यूमेंट को लेकर विकास मिश्रा ने सवाल उठाए थे. लेकिन उसे प्रताड़ित नहीं किया गया और न ही उस पर दबाव डाला गया. विकास मिश्रा ने उसके सामने ही मामले को एपीओ के सुपुर्द कर दिया था.

    यह भी पढ़ें: अनस-तन्वी पासपोर्ट मामला: 'चश्मदीद' का दावा- मुझे किडनैप करने की कोशिश हुई

    कुलदीप सिंह ने बताया कि डॉक्यूमेंट में झोल था, लिहाजा विकास मिश्रा ने एपीओ केबिन में मामले को रिफर कर दिया. दस मिनट बाद ही उनके पति का टोकन एनाउंस हुआ. वो पासपोर्ट रिन्यू करवाने आए थे. विकास मिश्रा तन्वी की फाइल चूंकि देख चुके थे, लिहाजा उन्हें पति का नाम भी पता था. जब पति का नाम एनाउंस किया तो विकास मिश्रा ने कहा कि सर आपकी पत्नी एपीओ केबिन में गई हैं, आप भी चले जाइए. सर से डिस्कस कर लीजिए, देखिए क्या बता रहें हैं वो? उसने कहा ठीक है और वह भी एपीओ केबिन में चला गया.

    कुलदीप ​ने बताया, "इसके करीब 10 से 15 मिनट बाद मेरा नंबर आ गया, मेरा पासपोर्ट एप्रूव हो गया. मैं वहां आधे घंटे और रहा और कुछ भी नहीं हुआ. शाम को तन्वी ने प्रेस कांफ्रेंस में विकास मिश्रा पर तमाम आरोप लगा दिए. मुझे इसकी जानकारी दूसरे दिन सुबह हुई." कुलदीप ने बताया कि दूसरे दिन पता चला कि इन्हें पासपोर्ट दे दिया गया, जबकि नियम ये है कि पासपोर्ट स्पीड पोस्ट से आएगा.

    जब्त हो सकता है पासपोर्ट
    उधर हिन्दू-मुस्लिम दंपति मोहम्मद अनस सिद्दीकी और उनकी पत्नी तन्वी सेठ के पासपोर्ट विवाद में पता चला है कि लखनऊ पुलिस ने तन्वी सेठ के पासपोर्ट की जांच एलआईयू से कराने के निर्देश दिए हैं. पुलिस के मुताबिक तन्वी सेठ के नाम और स्थायी पते की जांच होगी. पासपोर्ट विवाद के तूल पकड़ने के बाद भले ही तन्वी सेठ को पासपोर्ट दे दिया गया हो, अगर एलआईयू जांच में गड़बड़ी पाई गई तो तन्वी सेठ का पासपोर्ट भी जब्त हो सकता है.

    क्या है पूरा मामला
    गौरतलब है कि पासपोर्ट अधिकारी विकास मिश्रा पर आवेदक तन्वी सेठ ने बदसलूकी का आरोप लगाया था. तन्वी सेठ के मुताबिक, बुधवार को जब वह अपना आवेदन लेकर विकास मिश्रा के पास गई तो उन्होंने मुस्लिम से शादी करने को लेकर निजी कमेंट किए. तन्वी सेठ का आरोप है कि जब उन्होंने इसका विरोध किया तो विकास मिश्रा ने उनके साथ बदसलूकी भी की.

    तन्वी सेठ ने इस पूरे मामले की शिकायत ट्विटर के जरिये विदेश मंत्रालय से की थी. घटना की जानकारी मिलते ही विदेश मंत्रालय ने तुरंत कार्रवाई कर लखनऊ कार्यालय से रिपोर्ट मांगी थी, जिसके बाद विकास मिश्रा का तबादला गोरखपुर करने के साथ आनन-फानन में तन्वी सेठ और अनस सिद्दीकी को पासपोर्ट जारी कर दिया गया.

    यह भी पढ़ें: हिंदू-मुस्लिम कपल को मिला पासपोर्ट, अर्जी खारिज करने वाले अफसर ने दी ये दलील

    इधर, विकास मिश्रा ने गुरुवार को ही मीडिया के सामने तन्वी सेठ द्वारा लगाए गए आरोपों का खंडन किया. उन्होंने कहा था कि तन्वी सेठ गलत तरीके से अपने पति का नाम पासपोर्ट में शामिल कराना चाहती थीं, जिस निकाहनामे को आधार बनाकर वह यह दावा कर रहीं थीं, उसमें उनका नाम 'सादिया अनस' लिखा हुआ था. इसकी जानकारी उन्होंने आवेदन में नहीं दी थी. इसे लेकर उन्होंने आपत्ति जाहिर की थी. इस बीच, विकास मिश्रा का पक्ष सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर बड़ी संख्या में लोग उनके पक्ष में खड़े हो गए, इसी कड़ी में मशहूर लोक गायिका मालिनी अवस्थी भी उनके पक्ष में खड़ी हो गईं.

    (रिपोर्ट: ऋषभ मणि त्रिपाठी)

    आपके शहर से (लखनऊ)

    Tags: लखनऊ

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर