लाइव टीवी

लखनऊ: सुबह 4 बजे गन्ना किसानों ने किया विधानसभा का घेराव, कई हिरासत में

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 11, 2019, 11:17 AM IST
लखनऊ: सुबह 4 बजे गन्ना किसानों ने किया विधानसभा का घेराव, कई हिरासत में
पुलिस ने इस दौरान प्रदर्शनकारियों पर पानी बरसाया साथ ही उन्हें बस में बैठाकर दूर ले जाया गया.

किसानों (Farmers) ने योगी सरकार के खिलाफ पराली जलाकर नारेबाजी की. प्रदर्शनकारियों ने सरकार को किसान विरोधी बताते हुए अपनी मांगें पूरी करने तक आंदोलन की चेतावनी दी.

  • Share this:
लखनऊ. राजधानी में बुधवार तड़के सैकड़ों की संख्या में गन्ना किसान (Farmers) विधानसभा (UP Assembly) का घेराव (Gherao) करने पहुंच गए. करीब 4 बजे किसान विधानसभा के घेराव के लिए पहुंचे थे, लेकिन पुलिस (Police) ने पहले ही बैरिकेडिंग कर रखी थी. जिसके बाद पुलिस ने उन पर पानी की बौछार कर उन्हें काबू में किया और फिर बस में भरकर दूर ले जाया गया. इस दौरान कई किसानों को पुलिस ने हिरासत में भी लिया.

इससे पहले किसानों ने योगी सरकार के खिलाफ पराली जलाकर नारेबाजी की. प्रदर्शनकारियों ने सरकार को किसान विरोधी बताते हुए अपनी मांगें पूरी करने तक आंदोलन की चेतावनी दी. गौरतलब है कि गन्ने का समर्थन मूल्य बढ़ाने, बकाया भुगतान और पराली जालाने पर हो रही कार्रवाई समेत कई मुद्दों पर भारतीय किसान यूनियन ने आज पूरे यूपी में आंदोलन का ऐलान किया है.

किसान लगातार गन्ने का समर्थन मूल्य बढ़ाने की मांग कर रहे हैं, लेकिन सरकार ने 2019-20 सत्र का जो समर्थन मूल्य घोषित किया है उसमें एक रुपए की भी बढ़ोत्तरी नहीं की गई है. यही नहीं किसान गन्ना मूल्य भुगतान और गन्ने की पर्ची आदि को लेकर भी हमेशा अपनी परेशानी बताता रहा है.

आंदोलन ही एकमात्र रास्ता

गन्ना किसानों का कहना है कि बेटियों की शादी ब्याह से लेकर बच्चों की फीस देने तक के लिए उन्हें सिर्फ और सिर्फ गन्ना ही नज़र आता है. अगर गन्ना मूल्य भुगतान देर से होगा और गन्ने के समर्थन मूल्य दो-दो साल तक नहीं बढ़ेगा तो भला उनके घरों का चूल्हा कैसे जलेगा. गन्ना किसानों का कहना है कि जब उन्हें कोई रास्ता नहीं सूझा तो उन्होंने आंदोलन का ही रास्ता अख्तियार किया है.

ये भी पढ़ें:  औरैया: 11वीं की छात्रा को अगवाकर चलती कार में गैंगरेप, पुलिस ने एक हफ्ते बाद लिखी FIRकानपुर देहात में नाबालिग छात्रा से रेप, स्कूल बस ड्राइवर गिरफ्तार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 11, 2019, 11:12 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर