लाइव टीवी

किसानों के संकल्‍प के साथ जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के लिए 80 फीसदी जमीन का अधिग्रहण पूरा, CM योगी ने कही ये बात

Kumari Ranjana | News18 Uttar Pradesh
Updated: October 30, 2019, 5:44 PM IST
किसानों के संकल्‍प के साथ जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के लिए 80 फीसदी जमीन का अधिग्रहण पूरा, CM योगी ने कही ये बात
जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनने का रास्‍ता साफ.

किसानों द्वारा मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) को जमीन अधिग्रहण (Land Acquisition) का प्रमाणपत्र सौंपे जाने के बाद जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Jewar International Airport) बनाने का रास्ता साफ हो गया है. इस प्रोजेक्ट के लिए अभी तक 80 फीसदी भूमि का अधिग्रहण हो चुका है. यही नहीं, किसानों को अब तक 2500 करोड़ का मुआवजा भी दिया जा चुका है.

  • Share this:
लखनऊ. किसानों ने उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) को जमीन अधिग्रहण (Land Acquisition) का प्रमाणपत्र सौंप कर जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Jewar International Airport) बनाने का रास्ता साफ कर दिया. मुख्यमंत्री आवास पहुंचकर अस्सी फीसदी किसानों ने सीएम को अपने हाथों से प्रमाणपत्र (Certificate) दिया और विकास में सहयोग का संकल्प दोहराया. आपको बता दें कि किसी भी प्रोजेक्ट के लिए 80 फीसदी भूमि का अधिग्रहण जरूरी होता है. यही नहीं, जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनाने के लिए भूमि अधिग्रहण का आज आखिरी दिन था.

किसानों से सौंपे प्रमाणपत्र
गांव रन्हेरा के किसानों ने 124.9492 हेक्टेयर, रोही के किसानों ने 433.1251, पारोही के किसानों ने 108.4642, किशोरपुर के किसानों ने 171.1854, दयानतपुर के किसानों  ने 395.1404 और बनवारीबांस के किसानों ने 6.2773 हेक्टेयर जमीन का प्रमाणपत्र सौंपा है. इस तरह कुल 1239.1416 हेक्टेयर भूमि अधिग्रहण के तहत और 94.8584 हेक्टेयर भूमि पुनर्ग्रहण प्रतिक्रिया के तहत प्रस्तावित थी.

बहरहाल, जेवर एयरपोर्ट के लिए अधिग्रहित की जाने वाली 1334 हेक्टेयर भूमि के सापेक्ष 1068.9630 भूमि का अधिग्रहण हो चुका है, जो कुल क्षेत्रफल का 80.13 फीसदी है. 30 अक्टूबर अधिग्रहण की अंतिम तिथि थी और आज सीएम को किसानों ने प्रमाणपत्र सौंपकर एयरपोर्ट निर्माण का रास्ता साफ कर दिया.

सीएम ने कही ये बात
सीएम योगी आदित्यनाथ ने किसानों का मुख्यमंत्री आवास पर स्वागत करते हुए कहा कि किसान इसके लिए बधाई के पात्र हैं. उन्होंने कहा कि दुनिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट बनवाने के लिए किसान प्रतिस्पर्धा पास कर चुके हैं. सीएम ने आगे कहा कि पिछली सरकारों के पास विकास को लेकर कोई सोच नहीं थी, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सपना है कि हवाई चप्पल पहनने वाला हवाई जहाज में चढ़े और हम इसी सिद्धांत पर काम कर रहे हैं. सीएम ने स्थानीय विधायक धीरेन्द्र सिंह की भी कोशिशों को सराहते हुए कहा कि प्रशासन और जनप्रतिनिधियों ने जेवर एयरपोर्ट के लिए अधिग्रहण को उदाहरण बना दिया. जेवर का इलाका विकास से कोसों दूर था और इसीलिए मैंने खुद भी जेवर के किसानों से बात की थी और बेहतर संवाद ने रास्ता आसान कर दिया.

इस मौके पर किसानों ने मुख्यमंत्री आवास पर लंच भी किया और मुआवजे में बरती गई पारदर्शिता पर खुशी भी जताई. जबकि डीएम गौतमबुद्ध नगर बीएन सिंह ने कहा कि जल्द ही बाकी बची बीस फीसदी जमीन का भी अधिग्रहण कर लिया जाएगा. जबकि अभी तक 2500 करोड़ का मुआवजा दिया जा चुका है.
Loading...

ये भी पढ़ें-

अयोध्या फैसले को लेकर खुफिया और सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट पर, IB ने डेरा डाला
अयोध्‍या मामला: वेदांती ने अपनी सुरक्षा को लेकर जताई चिंता, प्रशासन पर लगाए ये आरोप

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 30, 2019, 5:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...