ज़मीन विवाद में पूर्व डीजीपी पर FIR, पूर्व मंत्री के बेटे ने की थी शिकायत

साढ़े 3 बीघा बेशकीमती जमीन पर कब्जे को लेकर पूर्व डीजीपी जगमोहन यादव और पूर्व मंत्री बलराम यादव के बेटे विजय सिंह यादव के बीच विवाद हो गया था. इस मामले पर विजय यादव की शिकायत पर पूर्व डीजीपी के खिलाफ FIR दर्ज की गई है

Rajeev P Singh | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 8, 2019, 3:50 PM IST
ज़मीन विवाद में पूर्व डीजीपी पर FIR, पूर्व मंत्री के बेटे ने की थी शिकायत
ज़मीन विवाद में पूर्व डीजीपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज
Rajeev P Singh | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 8, 2019, 3:50 PM IST
लखनऊ में पूर्व डीजीपी जगमोहन यादव और पूर्व मंत्री बलराम यादव के बेटे के बीच हुआ जमीनी विवाद बढ़ता जा रहा है. पुलिस ने पूर्व मंत्री बलराम यादव के बेटे विजय यादव की तहरीर पर यूपी के पूर्व डीजीपी जगमोहन यादव के खिलाफ कई संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर दिया है. दोनों पक्ष ज़मीन के एक बेशकीमती टुकड़े को लेकर आमने सामने हैं. दोनों के बीच पैमाइश को लेकर लंबे समय ये विवाद चला आ रहा है.

ज़मीन विवाद पर भिड़े दोनों पक्ष
मंगलवार को शहीद पथ स्थित मुजफ्फर नगर घुसवल में बेशकीमती साढ़े तीन बीघा जमीन पर कब्जे को लेकर पूर्व डीजीपी जगमोहन यादव और पूर्व मंत्री बलराम यादव के बेटे विजय सिंह यादव के बीच विवाद हो गया था. इस दौरान कब्जा लेने पहुंचे पूर्व डीजीपी जगमोहन यादव का विजय यादव ने विरोध किया, जिसके बाद दोनो पक्षों में हुई नोंकझोंक के बाद हंगामा शुरू हो गया. असलहों से लैस दोनों पक्ष एक-दूसरे के आमने-सामने आ गए.

up news, lucknow, land dispute, ex minister, ex dgp, sp, उत्तर प्रदेश, लखनऊ, ज़मीन विवाद, पूर्व मंत्री, पूर्व डीजीपी, सपा
पूर्व मंत्री बलराम यादव के बेटे से हुए जमीनी विवाद के बाद यूपी के पूर्व डीजीपी जगमोहन यादव के खिलाफ दर्ज हुआ मुकदमा


क्या है मामला
पूर्व डीजीपी जगमोहन यादव का दावा है कि उन्होंने बिन्नी इंफ्राटेक के नाम से ये ज़मीन खरीदी है. वहीं दूसरे पक्ष का दावा है कि पूर्व मंत्री बलराम यादव के बेटे विजय सिंह यादव ने भी ये ज़मीन खरीदी है. इस बेशकीमती जमीन की बाउंड्री और पैमाइश को लेकर लंबे समय से इन दोनों पक्षों के बीच विवाद चल रहा है. पिछले मंगलवार को जगमोहन यादव जमीन पर कब्जा लेने पहुंचे थे. इसी बीच दूसरे पक्ष से कुछ लोगों ने मौके पर पहुंचकर आपत्ति जताई, तो दोनों में विवाद शुरू हो गया. पुलिस-प्रशासन ने मौके पर पहुंचकर पैमाइश न होने तक जगमोहन यादव द्वारा कराये जा रहे काम को बंद करा दिया.

दोनों पक्षों में आरोप-प्रत्यारोप
Loading...

इस बीच विजय सिंह के वकील केपी तिवारी ने आरोप लगाया कि पैमाइश तक रोके जाने के निर्देश के बावजूद जगमोहन यादव ने काम बंद नही किया है. वहीं जगमोहन यादव के मुताबिक राजस्व विभाग ने उन्हें पैमाइश करके जमीन दी है. इसलिये वे जमीन का कब्जा लेने आए थे. उन्होंने आरोप लगाया कि पिछले 8 सालों ने उन्हें परेशान किया जा रहा है. लेकिन इस बीच पूर्व मंत्री बलराम यादव के बेटे विजय सिंह यादव की तहरीर पर आज लखनऊ के गोसाईगंज थाने में पूर्व डीजीपी जगमोहन यादव के खिलाफ बलवा, धोखाधड़ी जैसी कई संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी गई है.

ये भी पढ़ें -
पाकिस्तानी PM इमरान खान का बड़ा फैसला, लगाई समझौता एक्सप्रेस पर रोक
रात 8 बजे देश को संबोधित करेंगे PM मोदी, कश्मीर पर कर सकते हैं बड़ा ऐलान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 8, 2019, 3:37 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...