Corona की वैक्सीन लगवाने से नहीं टूटेगा रोजा, फिरंगी महल ने जारी किया फतवा

फतवे में लोगों से कोरोना वैक्सीन लगवाने की अपील की गई है.

फतवे में लोगों से कोरोना वैक्सीन लगवाने की अपील की गई है.

फतवे में कहा गया है कि दवा इंसानों की रगों में जा रही है न कि पेट में. ऐसे में रोजा नहीं टूटेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 13, 2021, 8:43 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. देश भर में फैलते करोना संक्रमण के बीच अब रमजान का पवित्र महीना आ रहा है. ऐसे में सभी के मन में ये सवाल है कि क्या रोजा के दौरान कोरोना (Corona) की वैक्सीन ली जा सकती है. इसको लेकर अब दारुल उलूम फिरंगी महल ने फतवा जारी कर स्थिति को साफ किया है. फिरंगी महल की ओर से जारी फतवे में कहा गया है कि रोजा के दौरान कोरोना वैक्सीन लगवाने में कोई परहेज नहीं है. फतवे में ये साफ किया गया है कि वैक्सीन लगवाने से रोजा नहीं टूटेगा क्योंकि दवा इंजेक्‍शन के जरिए इंसान की रगों में जा रही है न कि पेट में. फिरंगी महल ने इसके साथ ही लोगों से अपील भी की कि रोजे के चलते कोविड 19 का टीका लगवाने में देर न करें और जितना जल्दी हो सके वैक्सीन लगवाएं.

दरअसल फिरंगी महल से मध्यप्रदेश निवासी एक व्यक्ति ने सवाल किया था कि कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन की पहली खुराक ले ली गई है लेकिन दूसरी डोज का समय रमजान के पवित्र माह के बीच में आएगा ऐसे में क्या रोजे के दौरान वैक्सीन ली जा सकती है. इसी का जवाब देते हुए फिरंगी महल के इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया ने इसका जवाब देकर स्थिति को स्पष्‍ट किया. फिरंगी महल की ओर से जारी फतवे पर इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया के अध्यक्ष मौलाना खालिद रशीद समेत कई मौलानाओं ने अपने हस्ताक्षर किए हैं.

गौरतलब है पूरे देश सहित उत्तर प्रदेश में भी कोरोना के रिकॉर्ड मरीज हर दिन सामने आ रहे हैं. पिछले 24 घंटों की बात की जाए तो प्रदेश में 18,021 नए मामले सामने आए हैं जो कि अब तक का एक रिकॉर्ड है. सोमवार को 13685 संक्रमित मिले थे. कोरोना के नए मामलों में अकेले 5382 तो लखनऊ के ही हैं. इसके अलावा, प्रयागराज में 1856, वाराणसी में 1404 व कानपुर में 1271 नए मामले सामने आए हैं. अब तक यूपी के 20 से ज्यादा जिलों में नाइट कर्फ्यू लगाया जा चुका है, इसके बाद भी कोरोना के बढ़ते मामले डरा रहे हैं.

इससे पहले सोमवार को बीते 24 घंटे में 13685 नए संक्रमित मिले थे. प्रदेश में अब 81876 एक्टिव केस हैं जबकि 72 लोगों ने इसके कहर से दम तोड़ा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज