यूपी में अब भ्रष्ट अफसरों को पकड़ने के लिए बनेगा फ्लाइंग स्क्वॉड

News18Hindi
Updated: August 13, 2017, 11:58 AM IST
यूपी में अब भ्रष्ट अफसरों को पकड़ने के लिए बनेगा फ्लाइंग स्क्वॉड
मुख्य सचिव राजीव कुमार
News18Hindi
Updated: August 13, 2017, 11:58 AM IST
उत्तर प्रदेश में भ्रष्ट अफसरों की धरपकड़ के लिए योगी सरकार ने जिला स्तर पर फ्लाइंग स्क्वॉड बनाने का निर्णय लिया है.

मुख्य सचिव राजीव कुमार ने प्रदेश के सभी कमिश्नर को निर्देश दिये हैं कि शासन की समस्त जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ जन-सामान्य को बगैर किसी अवरोध के दिलाने की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाये. उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार के प्रति जीरो टाॅलरेन्स रखकर भ्रष्टाचार में लिप्त अधिकारियों एवं कर्मचारियों को उनके विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही सुनिश्चित की जाये.

उन्होंने कहा कि फ्लाइंग स्क्वॉड के लिए जरूरी सूचना तंत्र विकसित किया जाए ताकि भ्रष्टाचार निरोधक व्यवस्था को प्रभावी बनाते हुए इस पर अंकुश लगाया जा सके.

योजना भवन में प्रदेश के कमिश्नर और डीआईजी की बैठक में मुख्य सचिव ने ये निर्देश दिए. साथ ही मुख्य सचिव ने अफसरों को हिदायत दी है कि जनप्रतिनिधियों का उचित सम्मान देते हुए उनके द्वारा उठाई गयी जन शिकायतों को गंभीरता से लें. इस पर उचित कार्यवाही जल्द करें.

उन्होंने कहा कि जनपदीय, तहसील एवं ब्लाॅक स्तरीय पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारी एक साथ अपने-अपने क्षेत्रों का दौरा करें और आम जनता की समस्याओं का निस्तारण कराने हेतु सार्थक प्रयास करें.

उन्होंने कहा कि जनपदों में पुलिस सूचना तन्त्र को प्रभावी बनाया जाये तथा प्रत्येक थाने में बीट प्रणाली को प्रभावी रूप से तत्काल लागू किया जाये. शहरों में यातायात की बेहतर व्यवस्था सुनिश्चित कराते हुये शहरों को साफ-सुथरा रखने हेतु दिन में दो बार कूड़ा उठाने की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाये.

राजीव कुमार ने निर्देश दिए कि रोज सुबह 9 बजे से 11 बजे तक आमजन से भेंट करना अनिवार्य है. वहीं ऋण माफी योजना के अन्तर्गत पात्र लाभार्थियों को लाभान्वित कराने हेतु कैम्प आयोजित कराने की कार्यवाही आरंभ की जाये.

मुख्य सचिव ने वर्तमान में संभावित बाढ़ को दृष्टिगत रखते हुये निर्देश दिये कि बांधों की सुरक्षा हेतु निरन्तर निगरानी सुनिश्चित कराई जाये. बाढ़ के दौरान रात्रि काल में प्रकाश व्यवस्था हेतु पेट्रोलियम आदि की व्यवस्था सुनिश्चित कराते हुये नियमित रूप से पैट्रोलिंग कराकर बाढ़ से होने वाली समस्याओं एवं क्षति पर सतर्क दृष्टि रखी जाये.

बैठक में डीजीपी सुलखान सिंह, अध्यक्ष, राजस्व परिषद प्रवीर कुमार, कृषि उत्पादन आयुक्त, राज प्रताप सिंह, समाज कल्याण आयुक्त चन्द्र प्रकाश, अपर मुख्य सचिव वित्त डॉ अनूप चन्द्र पाण्डेय, अपर मुख्य सचिव, कार्यक्रम क्रियान्वयन संजीव सरन, प्रमुख सचिव, गृह अरविन्द कुमार सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे.
First published: August 13, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर