Home /News /uttar-pradesh /

10 साल से फरार सजायाफ्ता बेच रहा था पूड़ी-सब्जी, ऐसे हुआ गिरफ्तार

10 साल से फरार सजायाफ्ता बेच रहा था पूड़ी-सब्जी, ऐसे हुआ गिरफ्तार

अनूप तिवारी ने 2004 में एक 18 वर्षीय युवक की गोली मारकर हत्या कर दी थी, जिसके बाद कोर्ट ने इसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी.

    हरदोई में सन 2009 में हुए एक 18 वर्षीय युवक की हत्या के मामले में उम्र कैद का सजायाफ्ता कैदी कचहरी से पुलिस अभिरक्षा से फरार हो गया था जिसको पुलिस 10 सालों से खोज रही थी. लेकिन वह आरोपित लखनऊ के टेढ़ी पुलिया पर पूड़ी-सब्जी बेचकर खुद को छुपाए हुआ था. सोमवार को पुलिस ने इसको खोजकर गिरफ्तार कर लिया.

    बता दें कि जिले के गोड़क थाना क्षेत्र के अतरौली गांव का निवासी अनूप तिवारी ने 2004 में एक अट्ठारह वर्षीय युवक की गोली मारकर हत्या कर दी थी, जिसके बाद कोर्ट ने इसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी. 28 अक्टूबर सन 2009 को कचहरी में आर्म्स एक्ट की पेशी के दौरान वह पुलिस को चकमा देकर पुलिस अभिरक्षा से फरार हो गया था.

    उस वक्त जिला पुलिस की काफी किरकिरी भी हुई थी. कई सालों तक पुलिस आरोपी को गिरफ्तार करने में नाकामयाब रही. बाद में 20 हजार का इनाम भी घोषित कर दिया गया. दरअसल आरोपी लखनऊ के टेढ़ी पुलिया इलाके में पूड़ी-सब्जी बेचकर अपना गुजर-बसर कर रहा था. इसी वजह से वह पुलिस की नजरों में नहीं आ सका.

    वह 10 सालों से पुलिस से बच रहा था, लेकिन अनूप तिवारी जब अपने परिवार से मिलने अपने गांव जा रहा था, तो पुलिस को इसकी भनक लग गई और पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने बताया कि अनूप तिवारी के पास से 315 बोर का तमंचा और दो जिंदा कारतूस भी बरामद हुआ है. आरोपित अनूप तिवारी का अपराधिक इतिहास रहा है और उस पर अलग-अलग धाराओं में 4 मुकदमे दर्ज हैं.

    (रिपोर्ट-आशीष मिश्रा) 

    ये भी पढ़ें: कानपुर में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़, गिरफ्तार

    Tags: Crime report, Lucknow news, Police, Up crime news, UP police, Uttar pradesh news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर