Home /News /uttar-pradesh /

UP Assembly Election: मेरठ शहर से डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी का कटा टिकट, BJP ने युवा चेहरे पर जताया भरोसा

UP Assembly Election: मेरठ शहर से डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी का कटा टिकट, BJP ने युवा चेहरे पर जताया भरोसा

भाजपा के वरिष्ठ नेता डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी की फाइल फोटो.

भाजपा के वरिष्ठ नेता डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी की फाइल फोटो.

UP News: बता दें कि डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी वर्ष 2017 में मेरठ शहर सीट से विधान सभा चुनाव हार गए थे. इसके बाद से उनके पास कोई महत्वपूर्ण जिम्मेदारी नहीं थी. डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी आज भी अपनी सादगी के लिए जाने जाते हैं. चार बार विधायक रह चुके लक्ष्‍मीकांत वाजपेयी मेरठ में स्‍कूटर से चलते हैं.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Election 2022) के लिए भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) ने शनिवार को 107 प्रत्याशियों की पहली सूची जारी कर दी है. इसी कड़ी में भाजपा के वरिष्ठ नेता डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी (Laxmikant Bajpai) का मेरठ शहर (Meerut) से टिकट काट दिया है, उनकी जगह युवा नेता कमल दत्त शर्मा को टिकट देकर चुनाव मैदान में उतारा है. जबकि मेरठ कैंट से 4 बार विधायक सत्यप्रकाश अग्रवाल का टिकट काट कर अमित अग्रवाल को दिया है. सिवालखास विधानसभा जितेन्द्र पाल सिंह का टिकट काट कर कॉपरेटिव बैंक के चेयरमैन मनिंदर पाल को प्रत्याशी घोषित किया है. हस्तिनापुर विधानसभा और किठौर विधानसभा में विधायक के विरोध के बाद भी पार्टी ने मेरठ दक्षिण से सोमेंद्र तोमर पर फिर से भरोसा जताया है.

दरअसल भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले दूसरे दलों से आने वाले नेताओं को पार्टी में शामिल करने से पहले उनकी स्क्रीनिंग के लिए ज्वाइनिंग कमेटी का गठन किया है. भाजपा ने ज्वाइनिंग कमेटी का अध्यक्ष डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी को बनाया है. वाजपेयी भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रह चुके हैं. वह वर्ष 2012 से लेकर 2014 तक उत्तर प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष थे. इस दौरान पार्टी ने वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में यूपी में 71 सीटें जीती थी. अब पार्टी ने इनकी वरिष्ठता और अनुभव को ध्यान में रखकर इनको अहम जिम्मेदारी सौंपी है.

UP Election 2022: भाजपा ने 107 सीटों में 63 विधायकों पर दोबारा जताया भरोसा, 20 प्रतिशत नए चेहरों को मिला मौका

बता दें कि डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी वर्ष 2017 में मेरठ शहर सीट से विधान सभा चुनाव हार गए थे. इसके बाद से उनके पास कोई महत्वपूर्ण जिम्मेदारी नहीं थी. डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी आज भी अपनी सादगी के लिए जाने जाते हैं. चार बार विधायक रह चुके लक्ष्‍मीकांत वाजपेयी मेरठ में स्‍कूटर से चलते हैं. डॉ. लक्ष्‍मीकांत वाजपेयी ने चौधरी चरण सिंह विश्‍वविद्यालय से बीएससी की थी. इसके बाद उन्‍होंने हरिद्वार के रिषिकुल आयुर्वेद कॉलेज से बीएएमएस की पढ़ाई की.

Tags: CM Yogi, Meerut city news, UP Assembly Election 2022, UP BJP, UP Election 2022, UP politics, Uttar Pradesh Assembly Elections

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर