Home /News /uttar-pradesh /

UP Election 2022: फिजिकल रैली और रोड शो नहीं कर सकेंगे राजनीतिक दल, 31 जनवरी तक बढ़ा प्रतिबंध

UP Election 2022: फिजिकल रैली और रोड शो नहीं कर सकेंगे राजनीतिक दल, 31 जनवरी तक बढ़ा प्रतिबंध

UP Election: आयोग ने डोर टू डोर कैंपेन करने के लिए 5 लोगों की संख्या को बढ़ाकर 10 कर दिया है. 
(फाइल फोटो)

UP Election: आयोग ने डोर टू डोर कैंपेन करने के लिए 5 लोगों की संख्या को बढ़ाकर 10 कर दिया है. (फाइल फोटो)

UP News: चुनाव आयोग ने निर्देश दिए हैं कि राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों को कोरोना नियमों का पालन सुनिश्चित करना होगा. वहीं उचित व्यवहार, दिशानिर्देश और आदर्श आचार संहिता के साथ ही चुनाव से संबंधित गतिविधियां संचालित करनी होंगी.चुनाव आयोग की तरफ से कहा गया है कि नामितों की पहचान करना और उन्हें सूचना देने की जिम्मेदारी संबंधित डीईओ की होगी. चुनाव आयोग ने कहा है कि वह फिर से स्थिति की समीक्षा करेगा और भविष्य में फिजिकल रैलियों की इजाजत दी जाए या नहीं इस पर आगे फैसला लेगा.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) को लेकर चुनाव आयोग (Election Commission) ने फिजिकल रैलियों और रोड शो पर प्रतिबंध बढ़ा दिया है. चुनाव आयोग के मुताबिक अब 31 जनवरी तक कोई भी राजनीतिक दल फिजिकल रैली और रोड शो नहीं कर सकेगा, हालांकि चुनाव आयोग ने पब्लिक मीटिंग को मंजूरी दे दी है. आयोग ने डोर टू डोर कैंपेन करने के लिए 5 लोगों की संख्या को बढ़ाकर 10 कर दिया है. यह छूट पहले चरण के प्रत्याशियों के लिए 28 जनवरी और दूसरे चरण के लिए 1 फरवरी से लागू होगी.

दूसरे चरण के चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों को 31 जनवरी 2022 को अंतिम रूप दिया जाएगा. इसीलिए चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों या उम्मीदवारों को पब्लिक मीटिंग की अनुमति देने का फैसला लिया है.

राज्य निर्वाचन आयोग ने जारी किया प्रेस रिलीज.

राज्य निर्वाचन आयोग ने जारी किया प्रेस रिलीज.

इस दौरान अधिकतम 500 लोगों या जगह के हिसाब से 50 फीसदी क्षमता के साथ और एसडीएम द्वारा निर्धारित सीमा के हिसाब से सार्वजनिक सभाओं को इजाजत दी गई है. 1 फरवरी से 12 फरवरी तक ये सभाएं की जा सकेंगी.

कोरोना नियमों का करना होगा पालन
चुनाव आयोग ने निर्देश दिए हैं कि राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों को कोरोना नियमों का पालन सुनिश्चित करना होगा. वहीं उचित व्यवहार, दिशानिर्देश और आदर्श आचार संहिता के साथ ही चुनाव से संबंधित गतिविधियां संचालित करनी होंगी. चुनाव आयोग की तरफ से कहा गया है कि नामितों की पहचान करना और उन्हें सूचना देने की जिम्मेदारी संबंधित डीईओ की होगी. चुनाव आयोग ने कहा है कि वह फिर से स्थिति की समीक्षा करेगा और भविष्य में फिजिकल रैलियों की इजाजत दी जाए या नहीं इस पर आगे फैसला लेगा.

उत्तर प्रदेश में 7 चरणों में होंगे चुनाव
उत्तर प्रदेश में 7 चरणों में चुनाव होंगे. यूपी में इन चरणों के तहत 10 फरवरी, 14 फरवरी, 20 फरवरी, 23 फरवरी, 27 फरवरी, 3 मार्च और 7 मार्च को मतदान होगा. 10 मार्च को चुनाव के नतीजे आएंगे. पहले चरण की शुरुआत पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जिलों से होगी और धीरे-धीरे कारवां बढ़ते हुए पूर्वी उत्तर प्रदेश पर जाकर समाप्त होगा. यूपी में इस बार भी चुनाव पिछली बार की तरह वेस्ट यूपी से शुरू होंगे. आखिरी चरण पूर्वांचल में होगा. पहले चरण में 58 और आखिरी चरण में 64 विधानसभा सीटों में वोटिंग होगी.

Tags: BJP, BSP UP, Corona Cases, Election Commission of India, Samajwadi party, State Election Commission उत्तर प्रदेश, UP Assembly Election 2022, UP Election 2022, UP news, UP police

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर