होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Ganesh Chaturthi : लखनऊ में मुंबई के सिद्धिविनायक मंदिर की तर्ज पर गणपति की स्थापना, चिट्ठी से बनेगा काम

Ganesh Chaturthi : लखनऊ में मुंबई के सिद्धिविनायक मंदिर की तर्ज पर गणपति की स्थापना, चिट्ठी से बनेगा काम

Ganesh Chaturthi 2022: लखनऊ की झूलेलाल वाटिका में मुंबई के सिद्धिविनायक मंदिर की तर्ज पर ही मूर्ति की स्थापित की गई है. ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट : अंजलि सिंह राजपूत

लखनऊ. इस बार लखनऊ में ही मुंबई के सिद्धिविनायक गणेश देवा के दर्शन करने का मौका शहरवासियों को मिलेगा. दरअसल झूलेलाल वाटिका में आज (31 अगस्त) मुंबई के सिद्धिविनायक मंदिर की तर्ज पर ही मूर्ति की स्थापित की गई है. खास बात यह है कि इस बार गौरी पुत्र गणेश को मनौतियों के राजा का नाम दिया गया है. यानी जो सभी की मनोकामना को पूर्ण करते हैं. इस बार झूलेलाल वाटिका में श्री गणेश प्राकट्य कमेटी की ओर से भक्तों के लिए बड़ी संख्या में चिट्ठियां रखी गई हैं जिस पर भक्त 108 बार गणेश जी का मंत्र लिखकर अपनी मनोकामना को उसी चिट्ठी के नीचे लिख कर वहां रखे बॉक्स में डाल सकेंगे. चिट्ठी, पेन और बॉक्स सब कुछ कमेटी की ओर से पंडाल में रखा गया है.

आपको बता दें कि गणेश जी की प्रतिमा इस बार 5 फीट के करीब होगी. पंडाल को खास तरीके से सजाया गया है. जबकि बच्चों के लिए यहां पर झूले भी लगाए गए हैं. इसके अलावा भक्तों के लिए लखनवी व्यंजनों की भी व्यवस्था की गई है.

आपके शहर से (लखनऊ)

इको फ्रेंडली होगा गणेश उत्सव
कमेटी के संरक्षक भारत भूषण गुप्ता ने बताया कि इस बार गणपति बप्पा का जो पंडाल बनाया गया है यह पर्यावरण संरक्षण और गोमती की स्वच्छता को ध्यान में रखते हुए ही तैयार किया गया है. जंगल को बचाने के लिए पेड़ पौधों को अधिक से अधिक लगाने का यहां पर संदेश दिया जाएगा. वहीं, जो पंडाल इस बार बनाया गया है यह पूरी तरह से वाटर प्रूफ है. वातानुकूलित है और जर्मन हैंगर से तैयार किया गया है.

वहीं कमेटी के अध्यक्ष अनिल अग्रवाल ने मनोकामना को पूर्ण करने वाले गणेश जी की प्रतिमा की खासियत बताने के साथ कहा कि यहां पर कई सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होंगे. मसलन रक्तदान शिविर भी होगा. कोरोना वैक्सीनेशन कैंप भी लगाया जाएगा. इसके अलावा यहां पर सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए हैं. सभी भक्तों की सुरक्षा का भी ध्यान रखा जाएगा. आज मूर्ति स्थापना कर पूजा अर्चना की जाएगी. इस दौरान छप्पन भोग भी लगेगा और सिंदूर अभिषेक भी होगा.

Jhulelal Vatika

Tags: Ganesh Chaturthi, Ganesh Chaturthi Celebration, Ganesh Chaturthi Food, Ganesh Chaturthi History

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें